Athrav – Online News Portal
फरीदाबाद

केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर महिला पुलिस की कर्मचारियों को मुंह मीठा करवाया।

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
फरीदाबाद: भारत सरकार के केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने आज सोमवार को अपने कार्यालय में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर महिला पुलिस की कर्मचारियों को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की बधाई देकर उनका मुंह मीठा करवाया। उन्होंने कहा कि हर युग में महिलाओं ने पुरुष का कंधे से कंधा मिलाकर साथ दिया है। महिलाएं पुरुषों से शिक्षा, चिकित्सा, खेल सहित हर क्षेत्र में पुरुषों से किसी से भी पीछे नहीं है। बल्कि घर के मामले में तो महिलाओं के कार्यों की जितनी करा सराहना की जाए उतनी कम है। उसका कोई तोड़ नहीं है। महिला की शक्ति अपरंपार है। महिलाओं में पुरुषों के मुकाबले सहनशीलता अधिक होती है। कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि देश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और प्रदेश में मुख्यमंत्री मनोहर लाल की सरकारेमहिलाओं के उत्थान के लिए गंभीरता से कार्य कर रही है।

महिलाओं के लिए अनेक जनकल्याणकारी योजनाएं बनाकर उन्हें क्रियान्वित किया जा रहा है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वर्ष 2015 में पानीपत से बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ बेटी की शुरुआत करके इसका उदाहरण पेश किया था, उस समय हरियाणा में लिंगानुपात 1000 लड़कों के पीछे 870 लड़कियां थी सरकार द्वारा अनेक योजनाओं के लिए अनेक योजनाएं क्रियान्वित कर के महिला उत्थान के लिए जो कार्य करें किए हैं। उसके बेहतर परिणाम भी आ रहे हैं। आज हरियाणा में उसी का परिणाम है कि 1000 लड़कों के पीछे 922 लड़कियां हो गई है। इसी प्रकार मुख्यमंत्री मनोहर लाल भी महिलाओं के लिए वचनबद्धता के साथ कार्य कर रहे हैं। हरियाणा ऐसा पहला राज्य है जहां 12 वर्ष की कम आयु की लड़की के साथ घिनौना कार्य करने पर दोषी को फांसी की सजा दी जाने के लिए कानून बनाया है। जिसका अनुसरण देश की सभी सरकारें कर रही है। इसी प्रकार महिलाओं के लिए अलग से हर 20  किलोमीटर पर कॉलेज बनाए जा रहे हैं। महिलाओं के लिए स्पेशल बसें चलाई जा रही हैं। स्वयं सहायता समूह बनाकर महिलाओं के उत्थान के लिए रोजगार के अवसर पैदा किए जा रहे हैं। प्रदेश में 67 नए महिला कॉलेज बनाए गए हैं।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने 33 अलग-अलग महिला थाने खोले गए हैं, जिनमें केवल महिलाओं से संबंधित शिकायतों दर्ज करवाई की जा सकती है। उन थानों में महिला अधिकारी व कर्मचारी सिपाहियों की ड्यूटी लगाई जा रही है। अलग से महिला रिजर्व बटालियन भी प्रदेश में मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा बनाई गई है। दुर्गा शक्ति वाहिनी फोर्स का गठन भी महिलाओं के लिए अलग से किया गया है। इसी प्रकार थानों में भी अलग से महिलाओं की शिकायतों के अलग से हेल्प डेस्क बनाए गए हैं जहां पर केवल महिलाओं की शिकायत दर्ज की जाती है और वहां महिला कर्मचारियों की ही नियुक्ति की गई है। केन्द्रीय राज्य मंत्री ने कहा कि महिलाएं पुरुषों से किसी भी क्षेत्र में कम नहीं है। हरियाणा सरकार द्वारा पंचायती राज जनप्रतिनिधि में भी महिलाओं को 50 प्रतिशत आरक्षण देने की घोषणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल सरकार द्वारा की गई है, जो आगे आगामी चुनाव में उसे क्रियान्वित किया जाएगा।

Related posts

फरीदाबाद : डीएवी शताब्दी कॉलेज ने रचा इतिहास, जनरल ट्रॉफी पर जमाया कब्जा।

Ajit Sinha

किस्मत ने मैकेनिक से उद्योगपति, भारतीय जनता पार्टी ने कार्यकर्ता से नेता बना दिया,अब विधायक बनने की बारी हैं : नरेंद्र गुप्ता    

Ajit Sinha

सोशल मीडिया सैल-डीआईपीआरओ कार्यालय फरीदाबाद को सुशासन दिवस पर मिलेगा स्टेट गुड गर्वेनेंस अवार्ड-2021 : जितेंद्र यादव

Ajit Sinha
//stuftakeque.com/4/2220576
error: Content is protected !!