Athrav – Online News Portal
दिल्ली नई दिल्ली

दिल्ली सरकार ने आर्थिक तंगी से जूझ रहे गरीब परिवारों और ऑटो-टैक्सी चालकों की मदद करने का निर्णय लिया है-सीएम

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट
नई दिल्ली:मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में दिल्ली सरकार ने आर्थिक तंगी से जूझ रहे गरीब परिवारों और ऑटो-टैक्सी चालकों की मदद करने का निर्णय लिया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली सरकार 72 लाख राशन कार्ड धारकों को दो महीने तक मुफ्त राशन देगी। साथ ही, पिछले साल की तरह ही इस बार भी दिल्ली में पंजीकृत 1.56 लाख ऑटो-टैक्सी चालकों को 5-5 हजार रुपए की आर्थिक मदद देगी। सीएम ने स्पष्ट किया कि दो महीने तक मुफ्त राशन देने का मतलब यह नहीं है कि दिल्ली में लाॅकडाउन भी दो महीने चलेगा। कोरोना के केस कम होते ही लाॅकडाउन खत्म कर दिया जाएगा। सीएम ने कहा कि यह समय एक-दूसरे की मदद करने और अच्छा इंसान बनने का है। मैं अपील करता हूं कि सभी पार्टी और जाति-धर्म के लोग एक-दूसरे की मदद करें। हम लोगों को अस्पताल में भर्ती कराने, ऑक्सीजन व बेड दिलाने, बीमार और गरीब लोगों को खाना खिलाने में मदद कर सकते हैं। मुझे पूरी उम्मीद है कि हम सब मिलकर लड़ेंगे, तो बहुत जल्द कोरोना से जीत पा लेंगे।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल आज डिजिटल प्रेस काॅन्फ्रेंस कर कहा कि कोरोना से निपटने के लिए दिल्ली में हम लोगों ने लाॅकडाउन लगाया है। लाॅकडाउन लगाना जरूरी था, ताकि कोरोना के केस में कमी आ सके और कोरोना की संक्रमण की चेन टूट सके। हम सब लोग जानते हैं कि लाॅकडाउन खासकर गरीब लोगों के लिए बड़ा आर्थिक संकट पैदा कर देता है। खास कर उन लोगों के लिए जो दिहाड़ी करके रोज कमाते हैं, रोज खाते हैं। ऐसे लोगों के लिए तो अपना घर चलाना मुश्किल हो जाता है। पिछले हफ्ते हम लोगों ने खासकर मजदूरों के खाते में 5-5 हजार रुपए डालने का ऐलान किया था। उनके खाते में 5-5 हजार रुपए जा भी चुके हैं। इसके अलावा, जो लोग बीमार होते हैं और जिनकी आरटी-पीसीआर की रिपोर्ट पॉजिटिव आ रही है, हम लोगों ने उन मजदूरों के लिए भी अलग से मदद करने का ऐलान किया था। सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आज दिल्ली सरकार ने दो निर्णय लिए हैं। एक यह कि दिल्ली में जितने राशन कार्ड धारक हैं। इनकी संख्या लगभग 72 लाख है। दिल्ली सरकार ने निर्णय लिया है कि इन 72 लाख लोगों को अगले 2 महीने के लिए मुफ्त में राशन दिया जाएगा। इसका मतलब आप यह मत निकालिएगा कि लाॅकडाउन अगले 2 महीने तक चलेगा। भगवान न करे कि लाॅकडाउन को ज्यादा दिन चलाना पड़े। भगवान करे कि जल्दी केस कम होना चालू हों और जल्दी लाॅकडाउन खत्म हो, लेकिन आर्थिक तंगी से जो गरीब आदमी जूझ रहा है, उसको मदद करने के लिए सरकार ने निर्णय लिया कि दिल्ली सरकार की तरफ से अगले 2 महीने तक सबको राशन मुफ्त दिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि दूसरा निर्णय यह है कि जितने दिल्ली में ऑटो चालक हैं, टैक्सी चालक हैं, यह लोग रोज ऑटो और टैक्सी चलाया करते थे। शाम को थोड़े पैसे घर ले जाते थे और उसी से इनका घर चला करता था। इन लोगों के घर में कोई बहुत ज्यादा बचत भी नहीं थी, ये गरीब लोग होते हैं। पिछले कुछ हफ्तों से दिल्ली के अंदर लॉकडाउन है, जिसकी वजह से इन लोगों की रोजी-रोटी बिल्कुल खत्म हो गई है, बिल्कुल बंद हो गई है। पिछले साल भी हम लोगों ने किया था। जब पिछले साल लाॅकडाउन लगा था, तो दिल्ली के सभी ऑटो और टैक्सी चालकों को दिल्ली सरकार ने 5-5 हजार रुपए देकर उनकी मदद की थी। आज भी हमने यह निर्णय लिया है कि दिल्ली सरकार सभी ऑटो चालकों और टैक्सी चालकों को 5-5 हजार रुपए देकर मदद करेगी, ताकि उन लोगों को इस आर्थिक तंगी के दौर में थोड़ी सी मदद मिल सके। मैं उम्मीद करता हूं कि इस आर्थिक तंगी के दौर में इससे उनको मदद मिलेगी। पिछली बार भी हम लोगों ने 1.56 लाख ऐसे चालकों की मदद की थी। उन सभी लोगों की मदद इस बार भी दिल्ली सरकार करेगी। सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि यह बहुत ही कठिन दौर है, जिससे हम सब लोग गुजर रहे हैं। खासतौर से जो दूसरी लहर आई है, यह दूसरी लहर तो बहुत ज्यादा खतरनाक है। हम सब लोग देख रहे हैं कि चारों तरफ कितना दुख है, चारों तरफ लोग कितने परेशान हैं, चारों तरफ लोग कितने बीमार हैं। मेरी सब लोगों से हाथ जोड़कर विनती है कि यह समय हमें एक-दूसरे की मदद करने का है। यह समय एक अच्छा इंसान बनने का है। सब लोग, चाहे वह किसी भी पार्टी के हों, चाहे वो बीजेपी के हों, चाहे कांग्रेस के हों, चाहे आम आदमी पार्टी के हों, सब लोग आपस में मिलकर एक-दूसरे की मदद करें। इस वक्त कोई राजनीति नहीं करनी हैं। सब मिलकर मदद करें। चाहे किसी भी धर्म या किसी भी जाति के हों। यह बीमारी तो किसी को भी नहीं देखती। चाहे अमीर हो, चाहे गरीब हो, सब एक-दूसरे की मदद करें। उन्होंने कहा कि अगर कोई बीमार है, तो उसको अस्पताल में भर्ती कराने में मदद कर सकते हैं। अगर किसी को बेड नहीं मिल रहा है, उसको बेड दिलवाने और ढूंढने में मदद कर सकते हैं। कई बार केवल सूचना मिलने से काफी मदद मिल जाती है। किसी को ऑक्सीजन दिलवाने में मदद कर सकते हैं, किसी के घर में सब बीमार हो गए हैं, उनको खाना खिलाने में मदद कर सकते हैं। उनके घर पर खाना पहुंचाने में मदद कर सकते हैं। इस वक्त ऐसे बहुत लोग होंगे, जिनकी रोजी-रोटी नहीं चल रही होगी, गरीब लोग हैं, उनको आर्थिक मदद कर सकते हैं, ताकि उनका घर चल सके। तरह-तरह से आप लोगों की मदद कर सकते हैं। मेरी सब लोगों से हाथ जोड़ कर अपील है कि कृपया सबकी मदद कीजिए, एक-दूसरे की मदद कीजिए। बहुत पुण्य लगेगा और तभी देश की तरक्की होगी। हम सब मिलकर इससे लड़ेंगे, तो मुझे पूरी उम्मीद है कि बहुत जल्द हम कोरोना से जीत पा लेंगे।

Related posts

नई दिल्ली: 11 जुलाई से शुरू होगा वन महोत्सव के तहत वृक्षारोपण महाअभियान- गोपाल राय

Ajit Sinha

Ajit Sinha

कांग्रेस पार्टी ने आज लोकसभा चुनाव 2024 के लिए 6 उम्मीदवारों के नाम की लिस्ट जारी की हैं – पढ़े

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//glogopse.net/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x