Athrav – Online News Portal
दिल्ली नई दिल्ली राजनीतिक राष्ट्रीय

ब्रेकिंग न्यूज़: राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) की बैठक में पारित प्रस्ताव


अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आजनई दिल्ली में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन अर्थात एनडीए (National Democratic Alliance ) की बैठक हुई। इसमें एनडीए के 39 घटक दलों ने भाग लिया। यह बैठक एनडीए कीस्थापना के25 सफल वर्ष पूरेहोने के अवसर पर आयोजित की गई।शिव सेना के अध्यक्ष एवं महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने बैठक में एनडीए का प्रस्ताव रखा। एआईएडीएमके के के. पलानीसामी  और असम गण परिषद के अतुल बोरा ने प्रस्ताव का समर्थन किया। बैठक में एनडीए के सभी घटक दलों ने संकल्प लिया गया कि एनडीए एकजुट होकर प्रधानमंत्री   नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में लोक सभा चुनाव लड़ेगाऔर लगातार तीसरी बार भारी बहुमत से नरेन्द्र मोदी देश के प्रधानमंत्री बनेंगे।  प्रस्ताव  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में पिछले9 वर्षों में एनडीएसरकार ने सेवा, सुशासन और गरीब कल्याण की परिकल्पना को वास्तविक अर्थों में साकारकिया है। एनडीए सरकार में देश प्रगति की नई ऊंचाइयों को छू रहा है।

सुशासन व विकास कीयात्रा में देश के सभी वर्गों, क्षेत्रोंव समुदायों की भागीदारी है। एनडीए अपने स्वरूप में ‘एक भारत, एकजुट भारत’ का प्रतिनिधित्व करता है। देश को प्रगति-पथ पर आगे बढ़ाने के लिए एनडीए के सभी दल  प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी  के दूरदर्शी व लोकप्रिय नेतृत्व का अभिनंदनकरते है.एनडीए के गठन को 25 साल हो गए हैं। इन 25 वर्षों में एनडीए ने सुशासन के उच्च मानकस्थापित किए हैं। एनडीए की सरकार जब भी सत्ता में आई है, उसने राष्ट्र प्रथम की भावना और जनकल्याणके उद्देश्य को सर्वोपरि मानकर काम किया है। 1998 से 2004 तक अटल बिहारी वाजपेयी की सरकारहो या 2014 से अबतक  नरेंद्र मोदी की सरकारहो, एनडीए सरकार ने सदैव देश की क्षेत्रीय आकांक्षाओंको समर्थन देते हुए राष्ट्र-निर्माणकी भावना के साथ काम किया है। राष्ट्रीय सुरक्षा को मजबूती, सुशासन की स्थापना, आधारभूत संरचना का निर्माण, गरीबों-पिछड़ों के जीवनस्तर में सुधार तथा विश्व पटलपर भारत की प्रतिष्ठा जैसे विषय एनडीए सरकार की प्राथमिकता में रहे हैं। विशेषकर पिछलेनौ वर्षों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  के नेतृत्व में सेवा, सुशासन और विकास की दृष्टि से एनडीए सरकारने जैसा काम किया है,वो अभूतपूर्व है.एनडीए के साथी दलों ने निजी स्वार्थों को छोड़ जनसेवा को सर्वोपरिमानकर भारतीय राजनीति के लिए एक महान आदर्श प्रस्तुत किया है। एनडीए की सोच, सिद्धांत और स्वरूप में देशहित प्रथम कीमूल भावना हमेशा से रही है। राष्ट्र-निर्माणऔर जनकल्याण के जिस महान विचार के साथ यह यात्रा 1998 में शुरू हुई थी, आज भी उसी रूप में जारी है.प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  के नेतृत्व में एनडीए के सभी साथी दल 2024 के लोकसभा चुनाव में विजय के अटूट विश्वास का संकल्प लेते हैं। एनडीए सेवा, सुशासन व गरीब कल्याण के प्रति मोदी सरकारकी प्रतिबद्धता के साथ-साथ सभी क्षेत्रों में उल्लेखनीय उपलब्धियोंकी भी सराहना करता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा2014 में व्यक्त ‘गरीब कल्याण’ के संकल्पों को साकार करते हुए एनडीए सरकारकी लाभार्थी कल्याण की अनेक योजनाओं से गरीबों केजीवन में बदलाव आया है। दुनिया के विश्वसनीय रिपोर्ट्स के अनुसार भी भारत में गरीबीतेजी से कम हुई है। जन-धन योजना के तहत बैंक खाते से लेकर पीएमउज्ज्वला योजना के तहत धुंआ मुक्त रसोई तक; स्वच्छभारत मिशन के तहत शौचालय से लेकर जल जीवन मिशन के माध्यम से शुद्ध पानी के नल तक; पीएम किसान सम्मान निधि के माध्यम से छोटेकिसानों को आर्थिक संबल देने से लेकर पीएम आवास योजना के माध्यम से भारत के करोड़ों परिवारों को बुनियादी सुविधाओं से युक्त आवास देने तक; छोटे व मध्यम उद्योगों को आर्थिक सहायतादेकर रोजगार व स्व-रोजगार के अवसर सृजित करने जैसे अनेक सराहनीयकार्य गत9 वर्षों की एनडीएसरकार में हुए हैं। इनके माध्यम से गरीबों के जीवन में बदलाव आया है। गरीब कल्याण केसंकल्प को साकार करने के लिए एनडीए के सभी घटक दल  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व का मुक्त कंठ से अभिनंदन करते हैं। पिछले 9 वर्षों में  नरेंद्र मोदी के नेतृत्वमें समाजिक न्याय की मूल भावना के अनुरूप एनडीए की सर्वस्पर्शी-समावेशी सरकार चल रही है। एनडीए की मोदी सरकार अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, पिछड़ा वर्ग, महिला तथा आर्थिक रूप से कमजोर तबके केलोगों के सामाजिक व आर्थिक उत्थान के लिए सदैव समर्पित है। वंचित समाज के हितों केलिए आवाज उठाने वाले महान राष्ट्रनायक बाबा साहब अम्बेडकर जी के जीवन से जुड़े स्थलोंको पञ्चतीर्थ के रूप में स्थापित करने का कार्य नरेंद्र मोदी ने किया है। इनस्थलों से समाज को समता और समरसता की प्रेरणा मिलती है। अनुसूचित जाति-जनजाति समाजके हित में पिछले9 वर्षों में जितनेकदम उठाए गए हैं,उतने पहले कभी नहीं उठाए गए। अनुसूचित जाति-जनजाति समाज के सामाजिक, शैक्षणिक एवं आर्थिक सशक्तीकरण के लिए साल-दर-साल बजट में बढ़ोत्तरी हुई है। मोदी सरकारकी लाभार्थी योजनाओं में भी दलित व आदिवासी समाज को प्राथमिकता दी गई  है। दलित समाजके आर्थिक सशक्तिकरण एवं स्व-रोजगारमें उनकी भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए स्टैंड अप योजना, मुद्रा योजना के तहत आसान ऋण में प्राथमिकताको मोदी सरकार सुनिश्चित कर रही है। इन योजनाओं का परिणाम है कि एससी-एसटी समाज के लोग शिक्षा, उद्योग, रोजगार, सेवा तथा सामाजिक क्षेत्र में उभरकर आ रहेहैं।2017 के राष्ट्रपति चुनाव में एनडीए ने दलितसमाज से आने वाले रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया और उन्होंनेराष्ट्रपति पद को सुशोभित किया। 2022 में जब राष्ट्रपति चुनाव हुआ तो एनडीए ने अनुसूचित समाज से आने वालीमहिला श्रीमती द्रौपदी मुर्मू को उम्मीदवार बनाया और वे राष्ट्रपति बनीं। यह दिखाताहै कि नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में एनडीए अनुसूचित जाति-जनजाति के सर्वांगीण विकास के लिए पूरीतरह से कटिबद्ध है। सामाजिक व शैक्षणिक रूप से पिछड़ा वर्गके सशक्तीकरण के लिए मोदी सरकार ने दशकों से लंबित पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जादेने की मांग को पूरा किया है। मोदी सरकार के नीतिगत निर्णय से मेडिकल क्षेत्र के दाखिलेमें पिछड़ा वर्ग से आने वाले छात्रों के लिए अवसर बढ़े हैं। शिक्षा और रोजगार में ओबीसी समाज की भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए मोदी सरकार के प्रयास अभिनंदन करने योग्य हैं। ‘नारी शक्ति’ के सशक्तीकरण के उद्देश्य से एनडीए सरकारने महिला-केंद्रित पहलों को सफलतापूर्वक शुरू कियाहै। आवासीय योजनाओं के तहत घरों को महिलाओं के नाम पर पंजीकृत करने, महिलाओं के लिए संपत्ति कार्ड वितरण, महिला स्वयं सहायता समूहों को सशक्त बनाने, महिला उद्यमियों को आसान ऋण उपलब्ध करानेसहित अनेक कदमों से देश की नारी शक्ति के लिए राजनीति, रोजगार-स्वरोजगार, सेवा, रक्षा सहित हर क्षेत्र में अवसरों के द्वारखुले हैं। इसका परिणाम है कि देश की नारी शक्ति की उपस्थिति हर क्षेत्र में देखने कोमिल रही है। सामाजिक न्याय की मूल परिकल्पना को नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार ने अपने नीतियों और निर्णयों से पूराकिया है। आज देश की राजनीति, सरकारतथा अन्य क्षेत्रों में समाज के हर वर्ग की हिस्सेदारी सुनिश्चित हो रही है, इसके लिए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदीजी की प्रतिबद्धता अभिनंदनीय है। एनडीए इसकी प्रशंसा करता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  के नेतृत्व में भारत 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनने केलक्ष्य के साथ वैश्विक अर्थतंत्र के नए केंद्र के रूप में तेजी से उभर रहा है। पिछले 9 वर्षों की एनडीए सरकार में देश ने अब तकका सर्वाधिक प्रत्यक्ष विदेशी निवेश प्राप्त करने के कीर्तिमान को भी हासिल किया है।तेजी से मजबूत होती भारत की अर्थव्यवस्था में देश के राज्य और केंद्र शासित प्रदेश भीसक्रिय भागीदार बनकर उभरे हैं। इसका परिणाम है कि अमृत काल का भारत रक्षा सहित अनेकक्षेत्रों में  आयात पर निर्भरता को कम करके निर्यात करने वाला देश बनकर उभर रहाहै। देश के बुनियादी ढाँचे को अभूतपूर्व आयामदेने वाली प्रधानमंत्री गति शक्ति परियोजना को आकार देने के लिए एनडीए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  की सराहना करता है। आधारभूत संरचना के क्षेत्र में तेजी से आगेबढ़ता भारत डिजिटल बुनियादी ढांचे में विश्व पटल पर अग्रणी भूमिका के रूप में उभर रहाहै। भारत में आर्थिक लेन-देन के लिए तैयार यूपीआई मॉडल को लेकर भारतके नेतृत्व को सभी ने देखा और सराहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में एनडीएसरकार में भारत रक्षा-सुरक्षा के क्षेत्र में तेजी से आत्मनिर्भरताहासिल कर रहा है। अमृत काल का नया भारत स्वदेशी रक्षा उपकरणों का निर्माता बनकर उभराहै। रक्षा उपकरणों का निर्यात करने वाले देश के रूप में भारत उभरा है। सीमा सुरक्षाके मामले में भारत ने पिछले 9 वर्षोंमें बुनियादी ढांचे का विस्तार किया है। सैन्य संसाधन में भारत शक्तिशाली देश बनकरउभरा है। आतंकवाद और नक्सलवाद के खिलाफ जीरो टोलरेंस की नीति पर चलते हुए भारत शांतिऔर प्रगति के संदेश का वाहक बना है। कोविड की कठिन चुनौती के खिलाफ लड़ाईमें भारत ने अपने असीम सामर्थ्य और आत्म निर्भरता का परिचय दिया है। कोविड महामारी सेलड़ाई में भारत के नेतृत्व की दूरदर्शिता को दुनिया भर में सराहना मिली है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में वैश्विकमंचों पर भारत की साख मजबूत हुई है। विश्व के सर्वाधिक लोकप्रिय जननेता के रूप मेंप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  को देशवासियों का अटूट विश्वास हासिल है। अपने नेतृत्व पर140 करोड़ देशवासियोंके विश्वास के कारण ही भारत की साख दुनिया में बढ़ी है। पूरे देश साहित हम सभी के लिए गौरव की बात है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  को 14 देशों द्वारा शीर्ष राष्ट्रीय सम्मान दियागया है। इसमें फ्रांस और खाड़ी क्षेत्र के कई देश शामिल हैं। यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सशक्त नेतृत्व में भारत के प्रति दुनिया के सम्मान पूर्ण दृष्टिकोणका परिचायक है। यह दुनिया के पटल पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रभावशालीनेतृत्व की पहचान है। भारत के प्रति दुनिया के नजरिये में बदलावका ही परिणाम है कि विश्व के जटिलतम विषयों पर दुनिया के देश भारत की तरफ आशा भरी नजरोंसे देखने लगे हैं। यह सुखद संयोग है कि इसी कालखंड में भारत जी-20 की अध्यक्षता कर रहा है। आज का भारत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  के प्रेरणा-शब्द ‘यही समय है, सही समय है’ की भावना के साथ ‘चरैवेति-चरैवेति’ का मंत्र लेकर विजन-2047 के लक्ष्यों को हासिल करने के लिए जनभागीदारीव जनविश्वास के साथ दौड़ चला भारत है। 2014 केलोकसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी  के नेतृत्व में एनडीए को जनता का जो आशीर्वादमिला, वह पांच साल बाद 2019 के लोकसभा चुनाव में और बढ़ा। विपक्षी दलोंके झूठ, अफवाह और बेबुनियाद बयानों को सिरे से नकारकर देश की जनता एनडीए नेतृत्व पर विश्वास जता रही है। विपक्ष अपनी पहचान के संकट सेजूझ रहा है। आज का विपक्ष भ्रम और भटकाव से घिरा हुआ है। राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के सभी दल यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व के प्रति अडिग विश्वास व्यक्त करते हुए पूरी एकजुटता केसाथ 2024 के लोकसभा चुनावों में 2019 में मिली जीत से भी बड़े जनादेश के साथ विजयके संकल्प का उद्घोष व्यक्त करते हैं। हम पूरी एकजुटता और आत्म विश्वास के साथ संकल्पव्यक्त करते हैं कि2024 के लोकसभा चुनावमें पहले से भी बड़ा जनादेश और अपार जन आशीर्वाद नरेंद्र मोदी  के नेतृत्व मेंएनडीए को मिलने जा रहा है। पनी कर्मशीलता, कर्मठता, अथक परिश्रम तथा देशसेवा के प्रति निस्वार्थसमर्पण से भारत को प्रगति-पथपर आगे ले जाने तथा अपने नेतृत्व से अनेक अवसरों पर देशवासियों को गौरव की सुखद अनुभतिकराने के लिए एनडीए के सभी साथी दल जन-मनके बीच सर्व-प्रिय तथा सर्व-स्वीकार्य जननेता नरेंद्र मोदी का अभिनंदन करते हैं। एनडीए घटक  सर्वसम्मति से यह संकल्प लेते हैं कि नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश की इस विकास-यात्रा के सहभागी के रूप में- हम एक हैं, एकजुट हैं, एकमत हैं।

Related posts

बेटा रोज स्कूल में बैग में ले जाता था बंदूक, पुलिस ने मां को सुनाई ऐसी खतरनाक सजा

webmaster

मुठभेड़: ज्योति बाबा गैंग का कुख्यात गिरोह के दो सदस्य अरेस्ट, 12 पिस्तौल व 47 जिंदा कारतूस बरामद।

webmaster

चंडीगढ़ ब्रेकिंग: गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर भारत सरकार ने की पद्म पुरस्कार 2022 की घोषणा

webmaster
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//sheegiwo.com/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x