Athrav – Online News Portal
गुडगाँव दिल्ली

केंद्रीय सडक़ परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने किया द्वारका एक्सप्रेस-वे का निरीक्षण


अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
गुरुग्राम: हरियाणा के गुरुग्राम से राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली तक जल्द ही कनेक्टिविटी बेहतर होने जा रही है। दिल्ली-गुरुग्राम के बीच पुराने एनएच के साथ ही अब द्वारका एक्सप्रेस-वे का नया विकल्प मिलेगा। केंद्रीय सडक़ परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने गुरूवार को गुरूग्राम में खेडक़ी दौला टोल के समीप एक्सप्रेस वे के ट्रंपेट इंटरचेंज से नई दिल्ली के द्वारका तक निर्माणाधीन परियोजना का निरीक्षण किया।उनके साथ केंद्रीय सांख्यिकी एवं कार्यक्रम क्रियांवयन व योजना राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) एवं स्थानीय सांसद राव इंद्रजीत सिंह, केंद्रीय सडक़ परिवहन एवं राजमार्ग राज्य मंत्री व नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री वीके सिंह तथा दिल्ली के उप राज्यपाल वीके सक्सेना भी मौजूद रहे।

केंद्रीय सडक़ परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री ने खेडक़ी दौला के समीप एक्सप्रेस वे पर बने इंटरचेंज का अवलोकन किया। इसके उपरांत वे राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण द्वारा द्वारका एक्सप्रेस-वे के निर्माण की प्रगति पर आधारित प्रदर्शनी में पहुंचे। जहां पर स्थानीय निवासियों ने हरियाणा की पारंपरिक पगड़ी बांध कर केंद्रीय मंत्री का स्वागत किया। इस एक्सप्रेस वे के आरंभ होने से गुरूग्राम और दिल्ली के आईजीआई एयरपोर्ट के बीच कनेक्टिविटी बेहतर होगी साथ ही इस परियोजना में सडक़ परिवहन की चार श्रेणी जोकि टनल, अंडरपास, फ्लाईओवर तथा फ्लाईओवर के ऊपर फ्लाई ओवर होंगे। हरियाणा वाले हिस्से में इस सडक़ की लंबाई 18.9 किलोमीटर तथा दिल्ली वाले क्षेत्र में 10.1 किलोमीटर है। केंद्रीय सांख्यिकी, कार्यक्रम क्रियान्वयन व योजना राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) एवं स्थानीय सांसद राव इंद्रजीत सिंह ने गुरूग्राम आगमन पर केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री  नितिन गडकरी का स्वागत किया। निरीक्षण  के उपरांत उन्होंने क्षेत्रवासियों को द्वारका एक्सप्रेस-वे के लिए बधाई दी। गुरूग्राम के निवासियांे के लिए सरकार की यह एक बड़ी सौगात है। इस एक्सप्रेस-वे के आरंभ होने से न केवल गुरूग्राम बल्कि एनसीआर क्षेत्र में सड़कों के ढांचागत तंत्र को नया विस्तार मिलेगा। जिसका लाभ इस क्षेत्र के नए सेक्टरों में रहने वाले लोगों को भी होगा। साथ ही क्षेत्र मे तरक्की आएगी।द्वारका एक्सप्रेस-वे का निर्माण चार खणडों में प्रगति पर है। जिनमें दिल्ली क्षेत्र में पहला महिपालपुर के शिव मूर्ति से बिजवासन तक (5.9 किमी), दूसरा बिजवासन आरओबी से गुरुग्राम में दिल्ली-हरियाणा सीमा तक (4.2 किमी), हरियाणा क्षेत्र में तीसरा दिल्ली-हरियाणा सीमा से बसई आरओबी तक (10.2 किमी) तथा चौथा बसई आरओबी से खेडक़ी दौला (क्लोवरलीफ इंटरचेंज) तक (8.7 किमी) है। दिल्ली में पहले खण्ड के निर्माण पर 2507 करोड़ रुपए, दूसरे पर 2068 करोड़ रुपए, हरियाणा क्षेत्र में तीसरे पर 2228 करोड़ रुपए तथा चौथे खण्ड के निर्माण पर 1859 करोड़ रुपए खर्च होंगे। दिल्ली क्षेत्र में पहले खण्ड का 61 प्रतिशत, दूसरे का 82 प्रतिशत, हरियाणा की सीमा में तीसरे का 94 प्रतिशत तथा चौथे खण्ड का 99 प्रतिशत कार्य पूरा हो चुका है। हरियाणा क्षेत्र के दोनों सेक्शन में अगले महीने तक काम पूरा होगा।लगभग 9000 करोड़ रुपए की लागत से द्वारका एक्सप्रेसवे एलिवेटेड 8-लेन एक्सेस कंट्रोल एक्सप्रेसवे बनाया जा रहा है। जिसमें 9 किलोमीटर लंबाई में सिंगल पिलर पर आठ लेन का 34 मीटर चौड़ा एलिवेटेड रोड भी है जोकि देश में अपनी तरह का पहला एलिवेटेड रोड है। हरियाणा में यह एक्सप्रेसवे पटौदी रोड (एसएच-26) में हरसरू के पास और फरूखनगर (एसएच-15 ए) में बसई के पास मिलेेगा। इसके अलावा यह दिल्ली-रेवाड़ी रेल लाइन को गुरुग्राम के सेक्टर-88 (बी) के पास और भरथल में भी क्रॉस करेगा। एक्सप्रेस-वे गुरुग्राम जिला में प्रस्तावित ग्लोबल सिटी के साथ-साथ सेक्टर – 88, 83, 84, 99, 113 को द्वारका सेक्टर-21 से जोड़ेगा।

Related posts

कांग्रेस पार्टी ने आज आयोजित प्रेस वार्ता में मोदी सरकार को महंगाई दर को लेकर घेरा।

Ajit Sinha

घरेलू विवाद: पत्नी को घर लाने से मना तो इंजिनियर कलयुगी बेटे ने अपनी मां की चाकू मारकर कर दी हत्या -अरेस्ट

Ajit Sinha

देश के दूसरे हिस्सों की तुलना में दिल्ली में इलेक्ट्रिक वाहनों की बिक्री लगभग 6 गुना ज्यादा है-सीएम

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//fudukrujoa.com/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x