Athrav – Online News Portal
गुडगाँव

वर्ष 1991 में गठित सेवक सोसायटी के नियमों के तहत दिया जाएगा प्रशिक्षण, प्रशिक्षित युवा कहलायेंगे सेवक : एडीसी


अजीत सिन्हा की रिपोर्ट
गुरूग्राम:जिला में स्थित राजकीय शिक्षण संस्थानों के विद्यार्थियों को मार्किट डिमांड के अनुरूप कौशल परीक्षण देकर उन्हें आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से सेवक बिल्डिंग सेंटर(विकास सदन) के चैयरमैन एवं एडीसी हितेश कुमार मीणा ने छह विभिन्न औद्योगिक व शिक्षण संस्थानों के साथ एमओयू साइन किया है। ये संस्थान विद्यार्थियों को विभिन्न कौशल कलाओं में पारंगत कर उन्हें मार्किट में सर्विस सेक्टर से जुड़ी चुनोतियों व उनके निवारण में पारंगत कर उनकी आर्थिक उन्नति के लिए उन्हें बेहतर मार्केट उपलब्ध कराने में भी सहयोग करेंगे।

एडीसी हितेश कुमार मीणा ने बताया कि जिला में युवा वर्ग में बेरोजगारी की समस्या को दूर करने के लिए वर्ष 1991 में पंजीकरण सोसाइटी एक्ट 1980 के तहत सेवक सोसायटी(सेल्फ एम्प्लॉयड वर्कर्स एसोसिएशन केंद्र-sewak) गठन किया गया था। यह सोसाइटी राजकीय शिक्षण संस्थानों के विद्यार्थियों व ग्रामीण पृष्ठभूमि के बेरोजगार युवाओं को मार्किट की डिमांड के अनुरूप जैसे इलेक्ट्रीशियन, मोटर वाइंडिंग, प्लम्बर व कम्प्यूटर आदि का कौशल प्रशिक्षण देकर उन्हें आत्मनिर्भर बनाती रही है। सोसाइटी में प्रशिक्षित कर्मियों द्वारा रिहायशी क्षेत्रों में उचित मूल्य पर भिन्न-भिन्न कार्यों के लिए के लिए सेवा देने का लक्ष्य था। उन्होंने बताया कि इस सोसाइटी के तहत वर्तमान में सेक्टर 15 में एक केंद्र संचालित किया जा रहा है। जिसमें पहले से ट्रेंड 25 सेवक शामिल है जोकि विभिन्न क्षेत्रों में अपनी सेवाएं दे रहे हैं। एडीसी ने बताया कि एक लंबे अरसे से इस सोसाइटी की सेवाओं व नियमों को अपडेट नहीं किया गया था। ऐसे में जिला प्रशासन ने एक नई पहल करते हुए जिला में सोसायटी सेवकों की संख्या बढ़ाने के लिए छह विभिन्न औद्योगिक व शिक्षण संस्थानों के साथ एमओयू किया है। उन्होंने बताया कि सेक्टर 14 स्थित गवर्नमेंट आईटीआई के विद्यार्थियों को प्लम्बर व इलेक्ट्रिकल ट्रेड में प्रशिक्षण देने के लिए जगुआर कंपनी, कंप्यूटर से जुड़े कोर्स के लिए तीन शिक्षण संस्थानों व गवर्नमेंट गर्ल्स कॉलेज सेक्टर 14 व महिला आईटीआई की छात्राओं को ड्राइविंग का प्रशिक्षण देने के लिए दो एनजीओ के साथ करार हुआ है।एडीसी ने बताया कि प्रशिक्षण प्राप्त विद्यार्थियों को सर्विस सेक्टर से जुड़े बेहतर मार्किट प्लेस उपलब्ध कराने में जिला प्रशासन इन सेवको का पूर्ण रूप से सहयोगी बनेगा। उन्होंने बताया कि जिला प्रशासन को ओर से इन सेवकों को बाकायदा आईडी कार्ड उपलब्ध कराए जाएंगे। वहीं विभिन्न ऑनलाइन पोर्टल की तर्ज पर उन्हें ऑनलाइन आर्डर दिलाने में सहयोग किया जाएगा। एडीसी ने कहा कि इसके साथ ही शहर में स्थित विभिन्न आरडब्ल्यूए संग बैठक कर विभिन्न सेवाओं के लिए सेवकों को प्राथमिकता देने के पहल भी जाएगी। उन्होंने आमजन से आह्वान किया है कि वे जिला प्रशासन की इस सार्थक मुहिम में सहयोगी बनकर इसे सफल बनाने में सहयोग करें। एडीसी ने आश्वस्त किया है कि जिला प्रशासन की ओर से तैयार ये सेवक मार्किट रेट से कम दामों पर बेहतर व गुणवत्तापूर्ण सेवा उपलब्ध कराएंगे। इस अवसर पर गवर्नमेंट गर्ल्स कॉलेज सेक्टर 14 के प्रिंसिपल डॉ जितेंद्र मलिक, गवर्मेंट महिला आईटीआई से जेपी यादव, जगुआर कंपनी के एचओडी शमशेर सहित अन्य गणमान्य उपस्थित रहे।

Related posts

बिजली आपूर्ति बाधित होने की स्थिति में भी अब यह लिफट नही रूकेगी और निरंतर चलती रहेगी: डीसी

Ajit Sinha

कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव 2024 के लिए उम्मीदवारों के नाम की एक और लिस्ट जारी की हैं, राज बब्बर गुरुग्राम से लड़ेंगे चुनाव।

Ajit Sinha

गुरुग्राम : उर्वशी गैस एजेंसी के मैनेजर से पिस्टल की नौक पर 37 लाख रूपए लूटने के दो लूटेरों को क्राइम यूनिट 9 ने गिरफ्तार किए हैं।

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//meenetiy.com/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x