Athrav – Online News Portal
फरीदाबाद

पुलिस का दावा लीजा के हत्यारे की पहचान कर ली गई हैं, आरोपी शख्स जल्द होगा पुलिस गिरफ्त में।

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट
फरीदाबाद: सेक्टर -3 के मकान न. 1456 में एक 18 साल की लड़की की अर्धनग्न अवस्था में जो लाश मिली थी उसका आज पुलिस ने जिले के नागरिक अस्पताल में पोस्टमार्टम करा कर परिजनों को सौप दिया और उसका आज परिजनों ने अंतिम संस्कार भी कर दिया हैं। पुलिस की माने तो उनके पास अभी तक पोस्टमार्टम रिपोर्ट नहीं आई हैं,इसलिए अभी इस बारे में और ज्यादा नहीं बता सकते हैं,उधर,पुलिस का दावा हैं कि हत्यारे की पहचान हो गई हैं और जल्द ही उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा। इस हत्याकांड में आरोपी शख्स के खिलाफ सेक्टर -7 थाने में हत्या का मुकदमा दर्ज हैं। इस हत्याकांड में क्राइम ब्रांच की 5 टीमें अपने -अपने एंगल से कार्य कर रहीं हैं और जल्द ही आरोपी पुलिस गिरफ्त होगा।



मिली जानकारी के अनुसार 18 वर्षीय लीजा की हत्या के मामले में जब पुलिस ने जांच शुरू की और उसके आसपास में लगे सीसीटीवी कैमरे को खंगाला तो एक लड़का अपने चेहरे पर कपड़ा डाल कर निकलते हुए दिखाई दिया। इसके बाद से पुलिस ने उस तस्बीर को लेकर जिस स्कूल में लीजा पढ़ती थी,उस स्कूल के टीचरों को दिखाई पर स्कूल वालों ने पुलिस को साफ़ मना कर दिया कि यह लड़का उनके स्कूल में नहीं पढ़ता हैं और उनके स्कूल में कभी भी नहीं पढता था। इसके बाद मृतका लीजा जिस कोचिंग सेण्टर में कोचिंग करती थी,वहां पर भी उस लड़के की तस्बीर को दिखाई गई पर वहां पर भी कोचिंग वालों ने उस लड़कों को पहचाने से साफ़ इंकार कर दिया। इसके बाद पुलिस का नजरिया वहां के आसपास के रहने वाले लोगों के ऊपर हैं। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार आज हत्यारे लड़के की पहचान हो गई हैं और उसे पकड़ने के लिए क्राइम ब्रांच की पांच टीमें जगह -जगह छापेमारी कर रहीं हैं और पुलिस प्रशासन ने दावा किया हैं कि लीजा के हत्यारे को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
छानबीन के दौरान पता चला हैं कि आरोपी शख्स सेक्टर -7 और बल्लबगढ़ इलाके के आसपास का रहने वाला हैं। जल्द ही इस केस का खुलासा पुलिस करने का दावा किया हैं। आपकों जानकारी हेतु बतादें कि लीजा अपने घर में शुक्रवार को अकेली थी इस दौरान किसी अंजान शख्स ने उसी के घर में घुस कर डंडों से पीट -पीट कर हत्या कर दी थी और लहूलुहान और अर्धनग्न अवस्था में लीजा मृत मिली थी और उसके शरीर पर कपडे भी नहीं थे। उसके माता -पिता सरकारी स्कूल में टीचर हैं और वह लोग अपने डियूटी पर गए हुए थे और उसका छोटा भाई स्कूल गया हुआ था जब वह स्कूल से दोपहर में लौटा तो मृत अवस्था में अपनी बहन को देख कर उसके पैर से जमीन खिसक गई और अपने घर के बहार आकर जोर जोर से रोने लगा। इस दौरान एक पड़ोसी ने उसे रोते हुए देखा तो उसने उसके पिता भगवान दास को फोन पर बता दिया की आपका बेटा घर के बाहर रो रहा हैं। जब वह अपने घर पहुंचे तो लीजा के हत्या का पता चला था।

Related posts

सीएम मनोहर ने पुलिस कमिश्नर विकास अरोड़ा को स्वतंत्रता दिवस’ के अवसर पर तिरंगा झंडा भेज कर दी शुभकामनाएं

Ajit Sinha

फरीदाबाद: जिला उपायुक्त जितेंद्र यादव ने सभी विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक कर समयावधि तय की

Ajit Sinha

फरीदाबाद : मुख्यमंत्री, मंत्रियों व विधायकों को सिर्फ अख़बारों में सुखियाँ चाहिए, पर सुर्खियां बनाने वाले की हालत हैं कंडम, 60 पद खाली पड़े हैं।

Ajit Sinha
//psuftoum.com/4/2220576
error: Content is protected !!