Athrav – Online News Portal
फरीदाबाद

ग्रीन फिल्ड कालोनी में वैध बिल्डिंगों में अवैध निर्माण करने पर डीटीपी इंफोर्स्मेंट ने बिल्डरों को रेस्टोरेशन नोटिस भेजा

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट
फरीदाबाद : ग्रीन फिल्ड कालोनी में बिल्डरों के द्वारा बनाए गए तक़रीबन दो दर्जन से अधिक वैध फ्लैटों में किए गए अवैध निर्माणों पर जून महीने के पहले या दूसरे हफ्ते में बुल्डोजर चलाने के फिराक में हैं, इस लिए डीटीपी इंफोर्स्मेंट कार्यालय ने सभी को अवैध निर्माण करने वाले बिल्डरों को रेस्ट्रोरेशन नोटिस भेज दी हैं, जिन बिल्डरों को अभी तक नोटिस नहीं मिले हैं,उसे जल्द ही दूसरी नोटिस मिल जाएगी। इस लिए ग्राहकों को ग्रीन फिल्ड कालोनी में फ्लैटों को खरीदने से पहले डीटीपी इंफोर्स्मेंट कार्यालय से सही जानकारी ले सकतें हैं। वरना बिल्डर लोग धोखे से आपकी हितों की बड़ी बड़ी बातें करके आपको 3 से 4 लाख रुपए की चपत लगा देंगें,अभी सभी ग्राहकों को फ्लैट खरीदने से बचना चाहिए।

डीटीपी इंफोर्स्मेंट नरेश कुमार का कहना हैं कि ग्रीन फिल्ड कालोनी में तक़रीबन 33 से 34 बिल्डिंग ऐसे हैं जिसे विभाग द्वारा ओक्कोपेशन सर्टिफिकेट दी गई थी। इसके बाद बिल्डरों ने कानूनी नियमों को मजाक उड़ाते हुए तक़रीबन सभी खुले एरिए में अवैध कब्जे करके किसी ने उसमें अवैध रूप से बाथरूम ,किचन,टॉयलेट व स्टोर बना लिए हैं, जोकि कानूनन गलत हैं। उनका कहना हैं कि इस प्रकरण में जिन जिन बिल्डिंगों को चिंहित किए थे, उन सभी बिल्डरों को लोकसभा चुनाव होने से पहले नोटिस दे दी गई थी जिसमें जवाब देने के लिए बिल्डरों को मात्र 7 दिनों का वक़्त दिया गया था पर बिल्डरों ने दिए गए नोटिस का जवाब नहीं दिया। संभवता उनके पास जवाब नहीं होगा। उनका कहना हैं कि इस बीच में लोकसभा चुनाव आ गया और जिला प्रशासन उसकी तैयारी में लग गया। अब चुनाव और काउंटिंग दोनों ही खत्म हो गए । उनका कहना हैं कि अब विभाग का रूटिंग का काम शुरू हो गया हैं और इस कार्य को गति देते हुए ग्रीन फिल्ड कालोनी के तक़रीबन दो दर्जन से अधिक बिल्डरों को रेस्ट्रोरेशन नोटिस भेज दी गई हैं।



इसके बाद विभाग के द्वारा तोड़फोड़ की कार्रवाई को अंजाम दिया जाएगा। सवाल के जवाब में उनका कहना हैं कि तोड़फोड़ की कार्रवाई जून महीने की शुरुआत में या बीच में अवश्य की जाएगी। ऐसे में लोगों से उनकी अपील हैं कि ग्रीन फिल्ड कालोनी में जब भी फ्लैट ख़रीदे जरा सोच समझ कर ख़रीदे। सही जानकारी के लिए उनके कार्यालय से संपर्क कर सकतें हैं जिन बिल्डिंगों को नोटिस दिए हैं उनके नंबर इस प्रकार हैं :-3229 ,3008, 3009 , 1646, 1506 ,776 , 267 ,736 ,970 ,991 ,865 , 925 ,920 ,160 ,25 , 823 , 125 , 255, 772 ,774, 161 ,1025 ,1059 , 270 , 2028 ,861 ,862 , 868 , 1818 ,232 , 1082 , 773 , 162 व 155 हैं। सम्भवता इसमें एकाद नंबर ऐसे हो सकतें हैं जिन्होनें पहले नोटिस का जवाब दे दिया होगा पर ऐसा कुछ नहीं हैं। वैध निर्माणों पर अवैध निर्माण करने पर जमकर डीटीपी इंफोर्स्मेंट का बुल्डोजर चलेगा

Related posts

पीएम के कार्यक्रम को लेकर मंडलायुक्त ने ली फाइनल कोऑर्डिनेशन मीटिंग,पास के साथ दिखानी होगी एक फोटोयुक्त आई डी।

Ajit Sinha

फरीदाबाद में कोरोना पॉजिटिव केसों पर लगी ब्रेक: कोरोना पॉजिटिव 43 केसों में से घट कर रह गए कुल15 केस, 28 लोग पहुंचे घर।

Ajit Sinha

एक बिल्डर ने एक लाइसेंस पर दो सोसाइटी बनाकर उन्हें धोखे से फ्लैटों को बेच दिया, अब सामान्य सुविधाएं भी नहीं दे रहा, लोग विधायक से मिले।

Ajit Sinha
//dukingdraon.com/4/2220576
error: Content is protected !!