Athrav – Online News Portal
फरीदाबाद

ग्रीन फिल्ड कालोनी में कब्जाधारियों द्वारा नाला पर बनाई चार दीवारी को निगम ने तोडा, दस्ते के साथ की गई धक्का मुक्की की गई। 

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
फरीदाबाद;ग्रीन फिल्ड कालोनी के रहने वाले एक शख्स को नाला पर कब्ज़ा करने वाले के खिलाफ नगर निगम के कमिश्नर यश गर्ग से शिकायत करना पड़ा महंगा। नगर निगम के कमिश्नर यश गर्ग के आदेश पर कनिष्ठ अभियंता सुमेर सिंह ने अपने तोड़फोड़ दस्ते के साथ कब्जाधारियों के द्वारा नाला पर किए गए कब्जे व उसमें मिटटी भर कर किए गए चारदीवारी को, जैसे ही अपने अर्थमूभर मशीन से तोड़फोड़ कार्रवाई शुरू की तो वहां के लोगों ने विरोध शुरू कर दिया और उसके साथ एक महिला व उसके पति सहित कई अन्य लोगों ने धक्का मुक्की शुरू कर दी। इसके बाद नगर निगम का तोड़फोड़ दस्ता अपने आधा अधूरा कार्रवाई को बीच में छोड़ कर करके वापिस लौट आई। 


इसके बाद नाला पर कब्ज़ा करने वाले लोगों ने तुरंत बाद एक अर्थमूभर मशीन को कहीं और से ले आए और शिकायत कर्ता के गेट के आगे खड्डा खोद दिया। खोदी गई इस खड्डे की वजह से फ्लैट में रहने वाले लोगों को अपने फ्लैटों से बाहर निकलना मुश्किल हो गया। हालांकि इस घटना की सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को दे दी गई हैं। इस मामले में एडवोकेट पारुल बाबा का कहना हैं कि यह तो सरेआम गुंडा गर्दी हैं,एक तो नाले में जबरन मिटटी डाल कर लेबलिंग कर ली और उस पर गैर- कानूनी तरीके से चार दीवारी बना ली जब नगर निगम ने अपनी कार्रवाई की तो उसके साथ धक्का -मुक्की की गई  और अब शिकायतकर्ता के गेट के आगे अर्थमूभर मशीन से खड्डा खोद कर उनका घर से बाहर निकलना मुश्किल कर दिया हैं।

उनका कहना हैं कि उनके पास मौके के सभी वीडियो मौजूद हैं, जल्द ही पुलिस प्रशासन को इस गुंडा गर्दी की शिकायत करेंगें। इस वीडियो में जिन जिन के चेहरे नजर आ रहे हैं उन सभी के खिलाफ नाम सहित शिकायत करेंगें।



कनिष्ठ अभियंता सुमेर सिंह का कहना हैं कि ग्रीन फिल्ड कालोनी के निवासी गण ने नगर निगम के कमिश्नर यश गर्ग को एक नाला में मिटटी डाल कर लेबलिंग करने और कब्ज़ा करने की नियत से चार दीवारी करने की शिकायत की थी। इस पर अमल करते हुए नगर निगम के कमिश्नर यश गर्ग के आदेश  पर आज नाला के ऊपर अवैध रूप से बने चार दीवारी को तोड़ने की कार्रवाई शुरू की गई और चार दीवारी को तोड़ भी दिया। जब नाला के ऊपर से अर्थमूभर मशीन की सहायता से मिटटी हटाने की कार्रवाई शुरू की गई तो वहां के निवासी लोग आ गए जो कब्जाधारियों से मिले हुए थे ने उनके द्वारा की जा रही कार्रवाई का विरोध करना शुरू कर दिया।

इसके बाद वह आधा अधूरा कार्रवाई करके दस्ते को वापिस लौटना पड़ा। उन्होनें एक महिला जो छोटी कद थी और उसके पति ने उनके साथ काफी बतमीजी की और कई अन्य लोगों ने धक्का मुक्की की हैं। उनका कहना हैं कि जल्द ही अपने बड़े अधिकारी के आदेश पर पुलिस बल  के साथ जाएंगे और बचे हुए कार्य को पूरा करके आएंगे। और बंद नाला को चालू करके आएंगें। इस मामले में शिकायतकर्ता से फोन पर बातचीत करने की कोशिश की गई पर उन्होनें अपना फोन नहीं उठाया पर उनके साथियों ने जरूर कहा कि इस घटना और की गई कार्रवाई का फूल वीडियो उनके पास हैं,के आधार पर जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन से अवश्य शिकायत करेंगें। यदि प्रशासन ने पीड़ित के साथ इंसाफ और तोड़फोड़ दस्ते के साथ धक्का मुक्की करने वालों के खिलाफ कार्रवाई नहीं की तो इस मसले को कोर्ट में ले जाएंगे।  
    

Related posts

ग्रीन फिल्ड कालोनी में बिना भागीदारी के सड़क बनाए जाने पर आरडब्लूए के प्रधान वीरेंद्र भड़ाना का लोगों ने किया धन्यवाद। 

Ajit Sinha

फरीदाबाद: जे.सी. बोस विश्वविद्यालय वैश्विक साझेदारी को बढ़ावा देने के लिए प्रतिबद्धः प्रो. सुशील कुमार तोमर

Ajit Sinha

महेंद्रगढ़ :प्रयास श्री बाला जी संगठन ने शनिदेव मंदिर में किया पौधा रोपण प्रकृति समस्त जीवों के जीवन का मूल आधार है: मनोज मेघनवास

Ajit Sinha
//vursoofte.net/4/2220576
error: Content is protected !!