Athrav – Online News Portal
फरीदाबाद

फरीदाबाद: भाई बीजेपी की सरकार में कांग्रेस नेता की खूब चल रहीं हैं, यह किसी के अवैध निर्माण बनवा दें ,किसी की तुड़वा दे हैं। 

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
फरीदाबाद: ओल्ड फरीदाबाद की पथवारी मंदिर के नजदीक दो मंजोलों के बनाए जा रहे अवैध शोरूम को देख कर अब उन सभी लोगों को खटकने लगी हैं जिनके पिछले दिनों निर्माणधीन दुकानें व मकानों को ओल्ड फरीदाबाद नगर निगम के तोड़फोड़ दस्ते ने सीलिंग और तोड़फोड़ की कार्रवाई कर दी थी। पहले दौड़ में ये नजर आया था कि इस कार्रवाई के पीछे भाजपा विधायक नरेंद्र गुप्ता का हाथ हो सकता हैं,पर इस खेल के पीछे और ही हैं जो इस खेल को खेल रहा हैं। 

लोगों की माने तो इस नेता का नगर निगम प्रशासन में अच्छी पकड़ हैं,असल में इस नेता का काम प्रॉपर्टी का। यह नेता तो अवैध प्लॉटिंग करके तो बेचता ही हैं। साथ में उसकी नगर निगम में अधिकारियों के साथ सेटिंग भी बहुत अच्छी हैं। इस सेटिंग के कारण यह नेता किसी की दुकानें और मकानें को बनवा देता हैं और निगम से तुड़वा भी देता हैं। पिछले दिनों ओल्ड फरीदाबाद के अलग-अलग हिस्सों में ऐसी कुछ घटनाएं गठित हुई हैं.जिसका सीधा इशारा इसी नेता पर किया जा रहा हैं। बताया गया हैं कि ओल्ड  फरीदाबाद की पथवारी मंदिर के पास पहले एक स्थान पर छोटी दुकान हुआ करती थी अब उस स्थान पर दो मंजिलों का एक बड़ा शॉपिंग काम्प्लेक्स अवैध रूप से बना दी गई हैं। यह दुकाने ओल्ड फरीदाबाद के नगर निगम के सम्बंधित विभाग के अधिकारियों के जानकारी में बखूबी हैं। वावजूद इसके इस अवैध दुकानों पर किसी प्रकार की कोई कार्रवाई नहीं की गई जिससे नगर निगम को राजस्व मिल सकें। इस नेता का ओल्ड फरीदाबाद नगर निगम के संबंधित अधिकारियों के ऊपर दबाव इतना ज्यादा हैं कि इस दुकान के ऊपर कार्रवाई करने की सोच भी ही नहीं सकता हैं। 

मालूम हुआ हैं कि इसी नेता के दबाव में ओल्ड फरीदाबाद नगर निगम प्रशासन ने पहले तो खेड़ी चौक के समीप निगम द्वारा तोड़ी गई दुकानों को,पहले तो फिर से बनवाया गया और अब उसी नेता के इशारे पर उन दुकानों की सीलिंग कर दी गई थी।  इसके बाद सेक्टर -19 स्थित एक निर्माण धीन शॉपिंग काम्प्लेक्स को ओल्ड फरीदाबाद नगर निगम के तोड़फोड़ दस्ते ने सीलिंग कर दी। इसके बाद ओल्ड फरीदाबाद नगर निगम के तोड़फोड़ दस्ते ने 16 सितंबर बुधवार को न्यू भारत कालोनी में महाराजा अग्रसेन विवाह समिति के प्रधान ब्रह्म प्रकाश गोयल की बनी बनाई कई मकानों को तोड़ दिया। जबकि इसके आसपास में बहुत सारे और भी काफी मकानें बनी हुई थी पर उन मकानों को निगम ने जरा भी टच नहीं किया। सिर्फ उन्हीं के मकानों को तोडा गया। लोगों की माने तो उनके समझ में नहीं आ रहा हैं कि ओल्ड फरीदाबाद नगर निगम की यह कैसी कार्रवाई की हैं। लोगों को यह भी समझ में नहीं आ रहा हैं। यहां का विधायक भारतीय जनता पार्टी का हैं और उसी की प्रदेश में सरकार हैं और मुख्यमंत्री मनोहर लाल हैं फिर इस  नेता की  जिला प्रशासन में चल कैसी रहीं हैं। 


इस प्रकरण में इससे पहले ओल्ड नगर निगम के कार्यकारी अभियंता ओमवीर सिंह ने पत्रकारों से कहा था कि न्यू भारत कालोनी में जो निर्माणधीन मकानें तोड़ी गई हैं और खेड़ी चौक पर जो अवैध निर्माणधीन दुकानों की सीलिंग की गई हैं। इन सभी अवैध निर्माणों की खबरें सोशल मीडिया पर आई थी। इस वजह से ओल्ड फरीदाबाद नगर निगम इन सभी अवैध निर्माणों पर सख्त कार्रवाई की हैं। अब आँखों देखा अवैध निर्माणों पर तो निगम कभी कार्रवाई तो करती नहीं जब तक कोई भी अवैध निर्माणों की खबर सोशल मीडिया पर ना आ जाए। ओल्ड फरीदाबाद नगर निगम के तोड़फोड़ विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि ओल्ड फरीदाबाद में पथवारी मंदिर के पास जो अवैध शोरूम बन रही हैं उसे तो नोटिस दिया जा चूका हैं पर इस अवैध निर्माणधीन शोरूम पर कार्रवाई कब होगी इसका जवाब उसके पास नहीं था। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खटटर से आमजनों की मांग की हैं कि इन सभी प्रकरण की जांच गंभीरता से कराई जाए अवैध निर्माणकर्ताओं के साथ भेदभाव क्यों की जा रही हैं। और इस नेता के कहने पर किसी की दुकानों को पहले तो बनवा दी जाती हैं। उसी के इशारे पर तुड़वा दी जाती हैं। या पूरे इलाके में अवैध निर्माण बनाने का ठेका इसी के पूरे परिवार के पास हैं। लोगों के जहन में इस वक़्त यह बातें चल रहीं हैं जिसपर पर आप ही जांच के बाद इस पर से पर्दा उठा सकतें हैं।  

Related posts

फरीदाबाद: बंद पेटियों में लोहे का सामान बता कर अंग्रेजी शराब की बोतलों को ट्रांसपोर्ट के जरिए बिहार ले जा रहा था ,बरामद ।

Ajit Sinha

हरियाणा एंटी करप्शन ब्यूरो ने 60 हज़ार की रिश्वत लेते सब इंस्पेक्टर राम निवास को रंगे हाथों किया गिरफ्तार

Ajit Sinha

DHBVN ने कर्मचारियों को दिवाली टोकन गिफ्ट के रूप में दी जाने वाली राशि ₹1000 से बढ़ा कर अब 1500 रुपए कर दिया है।

Ajit Sinha
//maithigloab.net/4/2220576
error: Content is protected !!