Athrav – Online News Portal
अपराध दिल्ली

काला जठेड़ी-नरेश सेठी-अनिल छिप्पी गिरोह के दो शातिर शूटर गिरफ्तार

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस की  एजीएस/अपराध शाखा की टीम ने आज संदीप काला उर्फ़  काला जठेड़ी- नरेश सेठी-अनिल छिप्पी गिरोह के दो शार्प शूटर आशुदीप उर्फ़  आशू, उम्र 28 वर्ष, निवासी – गांव करोर, थाना सांपला, रोहतक, हरियाणा और अंशुमन सिंह, उम्र 27 वर्ष, निवासी छोटी बाजार, रायबरेली, उत्तर प्रदेश को गिरफ्तार किया है | इनके कब्जे से 6 पिस्तौल सहित 14 जिंदा कारतूस और चोरी की एक मोटरसाइकिल बरामद की गई है।

स्पेशल डीसीपी अपराध रविंद्र सिंह यादव ने जानकारी देते हुए बताया कि दिल्ली पुलिस की एजीएस/अपराध शाखा जबरन वसूली, हत्या और डकैती आदि में शामिल अंतरराज्यीय गिरोहों पर काम कर रही है। उप-निरीक्षक सचिन को सूचना मिली कि थाना पालम गांव के जबरन वसूली मामले में शामिल काला जठेड़ी गिरोह के वांछित और शातिर निशानेबाज निर्मल धाम और रोहिणी के इलाके में अपने साथियों को हथियारों की खेप पहुंचाने के लिए आएंगे।
तदानुसार, संयुक्त आयुक्त एसडी मिश्रा व उपायुक्त अमित गोयल द्वारा सहायक आयुक्त नरेश कुमार की देखरेख में एक टीम का गठन किया गया जिसका नेतृत्व निरीक्षक कृष्ण कुमार और निरीक्षक गुलशन कर रहे थे | जिसमें उप-निरीक्षक सचिन, सहायक उप-निरीक्षक सुरेंद्र, सहायक उप-निरीक्षक मुकेश, प्रधान सिपाही नरेंद्र, प्रधान सिपाही दीपक, प्रधान सिपाही श्याम सुंदर, प्रधान सिपाही पप्पू, प्रधान सिपाही धर्मराज और सिपाही धीरज शामिल थे। गुप्त सूचना के आधार पर, टीम ने दो अलग-अलग स्थानों पर कार्रवाई करते हुए काला जठेड़ी-नरेश सेठी-अनिल छिप्पी गिरोह के दो शातिर निशानेबाजों को गिरफ्तार कर लिया। 
ऑपरेशन-I
यादव का कहना हैं कि गुप्त सूचना के आधार पर दिल्ली के निर्मल धाम, छावला नाले के पास जाल बिछाया गया व आरोपी आशुदीप उर्फ़ आशू को चोरी की मोटरसाइकिल के साथ पकड़ लिया गया और उसके कब्जे से 5 पिस्तौल सहित 10 जिंदा कारतूस बरामद किए गए। इस संबंध में एफआईआर नंबर 135/2023, धारा 25 आर्म्स एक्ट, थाना अपराध शाखा दर्ज की गई । अनिल रोहिल्ला उर्फ़  छिप्पी ने आरोपी आशुदीप उर्फ़  आशु को हथियार खरीद कर गिरोह के अन्य सदस्यों तक पहुचाने का आदेश दिया था ताकि अपराधिक गतिविधियों को अंजाम देने में इनका इस्तेमाल किया जा सके।
ऑपरेशन-II
गुप्त सूचना के आधार पर विकास मार्ग, सेक्टर-24, रोहिणी, दिल्ली में जाल बिछाया गया और आरोपी अंशुमान सिंह को पकड़ लिया गया। उसके कब्जे से एक पिस्तौल और 4 जिंदा कारतूस बरामद किए गए।
पूछताछ:
उनका कहना हैं कि दौराने पूछताछ आरोपी आशुदीप उर्फ़ आशु ने खुलासा किया कि संदीप काला उर्फ़ काला जठेड़ी और अनिल रोहिल्ला उर्फ़ छिप्पी के निर्देश पर दिनांक 31.01.2023 को उसने अपने सहयोगी अंशुमन के साथ रामफल चौक, द्वारका एक प्रॉपर्टी डीलर को बंदूक की नोक पर 2 करोड़ रुपये की रंगदारी देने की धमकी दी थी। उन्होंने शिकायतकर्ता की संदीप काला उर्फ़ काला जठेड़ी से फ़ोन पर बात भी कराई थी। इस संबंध में एफआईआर नंबर 102/23, धारा 387 भारतीय दंड संहिता, थाना पालम गांव, नई दिल्ली दर्ज की गई थी। दिनांक 03.02.2023 को, आरोपी अंशुमन सिंह अपने सहयोगी के साथ पूठ कलां, दिल्ली में एक उद्योगपति के घर उसे जान से मारने के लिए गया क्योंकि वह रंगदारी देने के लिए तैयार नहीं था। जब वे उसके घर पहुंचे, तो उन्होंने पाया कि मुख्य द्वार बंद था और उन्होंने शिकायतकर्ता के मुख्य द्वार पर 7-8 गोलियां चलायी। घटनास्थल का निरीक्षण करने पर 7 खाली कारतूस पाए गये। इस संबंध में एफआईआर नंबर-137/23, धारा 387/506/507/34 भारतीय दंड संहिता और 25/27/54/ 59 आर्म्स एक्ट, थाना सुल्तानपुरी, दिल्ली दर्ज की गई। पूछताछ के दौरान पता चला कि काला जठेड़ी ने जबरन वसूली की योजना बनाई थी। अनिल छिप्पी ने जबरन वसूली को अंजाम देने के लिए गिरोह के सदस्यों को हथियार मुहैया कराये थे और नरेश सेठी ने गिरोह के सदस्यों के माध्यम से जबरन वसूली को अंजाम दिलवाया था।  तीनों ने एक गिरोह बनाया था जिसका संचालन जेल से होता था।  सोशल मीडिया के माध्यम से गिरोह के लिए नए सदस्यों की भर्ती की जाती थी।

आरोपी आशुदीप @ आशु की पिछली अपराधिक संलिप्तता:
प्राथमिकी संख्या 68/2020, धारा 148/149/224/225/186/307/333/353 भारतीय दंड संहिता और 25/27 आर्म्स एक्ट, थाना डबुआ ,फरीदाबाद, हरियाणा|

सुलझाए गए मामले:
1.प्राथमिकी संख्या 102/2023, धारा 387 भारतीय दंड संहिता व धारा 27 आर्म्स एक्ट, थाना पालम गांव, दिल्ली |
2.प्राथमिकी संख्या 137/23, धारा 387/506/507/34 भारतीय दंड संहिता और 25/27/54/59 आर्म्स एक्ट, थाना सुल्तानपुरी, दिल्ली।
3.ई-प्राथमिकी संख्या 023281/21, धारा 379 भारतीय दंड संहिता, थाना अमन विहार, दिल्ली। 
आरोपी का प्रोफाइल:
1.आरोपी आशु दीप उर्फ़  आशु , उम्र 28 वर्ष, गांव करोर, थाना सांपला, रोहतक, हरियाणा ने 11 वीं कक्षा तक पढ़ाई की है। अपनी स्कूली शिक्षा के दौरान, वह काला जठेड़ी गैंग के करीबी सहयोगी अनिल रोहिला उर्फ़  छिप्पी के संपर्क में आया। फरवरी 2020 में उसने अपने साथियों नरेश सेठी, कपिल डावाला, काजू होडेल, रवि भोला, सचिन भांजा, अंशु बवाना, अरुण ढिल्लू बझगेरा, जोगिंदर जोगी धनोद, मंजीत और विकाश सोनीपत के साथ मिलकर हरियाणा पुलिस पर फायरिंग की और संदीप काला उर्फ़ काला जठेड़ी को हरियाणा पुलिस की हिरासत से छुडवा कर ले गए  | इस सम्बन्ध में प्राथमिकी संख्या, धारा 68/2020 148/149/224/225/186/307/333/353 भारतीय दंड संहिता और 25/27 आर्म्स एक्ट, थाना डबुआ, फरीदाबाद, हरियाणा दर्ज की गई  थी | आरोपी आशुदीप उर्फ़  आशु को हरियाणा पुलिस ने गिरफ्तार किया था जबकि गिरोह का सरगना संदीप काला उर्फ़  काला जठेड़ी फरार था और बाद में संदीप काला उर्फ़ काला जठेड़ी को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया ।
2. आरोपी अंशुमन सिंह, उम्र 27 वर्ष, निवासी छोटी बाजार, रायबरेली, उत्तर प्रदेश ने फिरोज गांधी कॉलेज, रायबरेली से स्नातक तक पढाई की है। वह गैंगस्टरों से बहुत प्रभावित था।  वह इंस्टाग्राम पर गैंगस्टरों द्वारा अपलोड किए गए वीडियो देखना पसंद करता हैं। एक बार उसे इंस्टाग्राम पर गैंगस्टर का वीडियो पसंद आया और गैंग के सदस्यों ने उससे संपर्क किया और गैंग में शामिल होने के लिए कहा। वह शार्प शूटर के रूप में गिरोह में शामिल हो गया। धमकी देने और जबरन वसूली के हर काम पर उसे गिरोह के सरगना से अच्छी रकम मिलती थी।

Related posts

दिल्ली में 500 जगहों पर बड़े-बड़े तिरंगे लगाने और बुजुर्गों को फ्री में राम मंदिर का दर्शन कराने के ऐलान का भाजपा-कांग्रेस क्यों विरोध कर रहीं

Ajit Sinha

परिवारिक कलेश के चलते पति ने पत्नी की हत्या कर उसे बोरी में भरकर यमुना नदी में फेंका।

Ajit Sinha

भारतीय जनता पार्टी की सरकार में पश्चिम बंगाल में हिंसा का दौर रुकेगा और विकास की धारा बहेगी- अमित शाह

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//soocaips.com/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x