Athrav – Online News Portal
फरीदाबाद

ओल्ड नगर निगम का तोड़फोड़ सिर्फ ड्रामा निकला, डीपीसी और पिलर तोड़ कर लौटे, बड़े ईमारत को नहीं छेड़ा

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट
फरीदाबाद : ओल्ड फरीदाबाद नगर निगम का आज का तोड़फोड़ ड्रामा निकला। आज नगर निगम के तोड़फोड़ दस्ते ने आज अलग -अलग जगहों पर एक निर्माणधीन दुकान सहित कई डीपीसी और दुकानों के पिलर तोड़े, पर बड़े -बड़े अवैध निर्माणों को बिल्कुल हाथ तक नहीं लगाया। इस कारण से नगर निगम के अधिकारीयों पर बड़े सवाल खड़े हो रहे हैं। लोग बतातें हैं कि ऐसी कौन सी बात हैं,जो अवैध रूप से बने बड़े -बड़े बिल्डिंगों को हाथ तक नहीं लगाते हैं,क्यूंकि अब नगर निगम प्रशासन की तोड़फोड़ की कार्रवाई अवैध रूप से बनाए जा रहे दुकानों के पिलर और डीपीसी तक सिमित रह गई हैं।

नगर निगम के कार्यकारी अभियंता ओमवीर सिंह के नेतृत्व आज ओल्ड फरीदाबाद नगर निगम का तोड़फोड़ दस्ता खेड़ी रोड पर बिल्डरों के द्वारा अवैध रूप बनाएं जाने वाले तक़रीबन एक दर्जन दुकानों के डीपीसी और बनाई गई पिलर को दो अर्थमूभर मशीनों की सहायता से तोड़ दिया गया। इसके बाद जब नगर निगम का तोड़फोड़ दस्ता चांदी वाला चौक के समीप पहुंचा तो वहां एक गरीब परिवार की गरीब महिला नगर निगम के अधिकारीयों के सामने रोने लगी और उसका पति वहीँ बेहोश हो गया।

ऐसा प्रतीत होता हैं, कि बहुत गरीब परिवार और इंसान हैं और अपने इस दूकान में उसकी पूरी जिंदगी भर की कमाई लगी हैं इस बाबत निगम प्रशासन ने रहम करने के बाद फ़िलहाल उसकी निर्माणधीन दुकान को छोड़ दिया। यदि नगर निगम उसकी दुकान को तोड़ती तो संभवता उनमें से किसी एक की मौत हो जाती हैं। इसके बाद नगर निगम का तोड़फोड़ दस्ता बिहारी चौक के समीप पहुंचा और वहां पर एक अवैध रूप से बनाई जा रही शॉपिंग काम्प्लेक्स के शुरूआती दौर के डीपीसी को तोड़ दिया। इसके अलावा वही पर एक निर्माणधीन दुकान और बेसमेंट को दो अर्थमूभर मशीन की सहयता से तोडा गया।



एक अन्य स्थान से तोड़फोड़ दस्ते ने झुग्गी झोपडी को हटाया। वहीँ,लोगों को कहना हैं कि वजीर पुर पर अवैध रूप से बनाई गई बड़ी इमारत जिसमें एक बेसमेंट, ग्राउंड फ्लोर व फस्ट फ्लोर जो कि निर्माणधीन हैं,को ओल्ड फरीदाबाद नगर निगम ने आज कोई कार्रवाई नहीं की,इसके आगे भी एक अवैध निर्माण का कार्य चल रहा हैं। इस के अलावा एसआरएस चौक के पास अवैध कालोनी को विकसित किया गया हैं जिसमें कई कमरे बने हुए हैं उसमें ओल्ड फरीदाबाद नगर निगम ने पिछले दिनों तोड़फोड़ की कार्रवाई के नाम पर मामूली कार्रवाई की थी। जोकि नगर निगम के वरिष्ठ अधिकारी और आमजनों के साथ बहुत बड़ा धोखा हैं।

इस मसले पर नगर निगम की कमिश्नर अनीता यादव व प्रदेश सरकार को गंभीरता से ध्यान देना चाहिए और आमजनों को लूटने से बचाना चाहिए। आज के तोड़फोड़ के कार्रवाई के दौरान ओल्ड फरीदाबाद नगर निगम के संयुक्त आयुक्त महिपाल सिंह ड्यूटी मजिस्टेट के रूप में मौजूद थे जबकि तोड़फोड़ की कार्रवाई निगम के कार्यकारी अभियंता ओमवीर सिंह की मौजूदगी में एसडीओ सुशील कुमार , भवन निरीक्षक मनीष सहरावत व डी.के सोलंकी कर रहे थे हालांकि पुलिस बल का नेतृत्व खेड़ीपुल थाने के एडिशनल एसएचओ जगबीर सिंह कर रहे थे।

Related posts

बलात्कार के झूठे केस में फंसाने की धमकी देकर दो करोड़ ले चुकी महिला, 5 करोड़ रूपए और मांग रही थी- पत्नी -पति अरेस्ट।

Ajit Sinha

फरीदाबाद: घने कोहरे व कड़ाके ठंड की वजह से रेलवे लाइन पर लॉक चेक कर रहे रेलवे कर्मचारी को मालगाड़ी ने कुचला, मौत।

Ajit Sinha

नगर निगम की मतदाता सूची में दावे-आपत्तियां दर्ज कराने के लिए रिवाइजिंग अथॉरिटी तथा ऑथराइज्ड ऑफिसर नियुक्त: डीसी 

Ajit Sinha
//ptamselrou.com/4/2220576
error: Content is protected !!