Athrav – Online News Portal
गुडगाँव

आमजनों को स्वच्छता के प्रति जागरूक करने के लिए स्वच्छता महोत्सव कार्यक्रम आयोजित किया गया।

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट
गुरूग्राम:आमजन को स्वच्छता के प्रति जागरूक करने के लिए आज स्वच्छता महोत्सव कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम में गुरूग्राम के मंडलायुक्त अशोक सांगवान ने मुख्य अतिथि के तौर पर शिरकत की। इस अवसर पर उनके साथ गुरूग्राम के अतिरिक्त उपायुक्त मोहम्मद इमरान रजा भी उपस्थित थे। आज आयोजित इस कार्यक्रम के दौरान गुरूग्राम की 10 ग्राम पंचायतों को स्वच्छता के क्षेत्र में सराहनीय कार्य करने के लिए सम्मानित किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ मंडलायुक्त अशोक सांगवान ने दीप प्रज्जवलित करके किया। कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए मंडलायुक्त ने कहा कि स्वच्छता से एक ऐसा विषय है जिसके लिए समाज को एकजुट होकर प्रयास करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि आजादी के बाद से ही हमारा देश इस समस्या से जूझ रहा है। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने कहा था कि ‘स्वच्छता तन की ही नही बल्कि मन की भी जरूरी है‘।

उन्होंने कहा कि वातावरण को स्वच्छ व सुंदर बनाना हमारा उत्तरदायित्व ही नही है बल्कि मानव जाति के अस्तित्व के लिए भी महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि यदि हम आज स्वच्छता को लेकर जागरूक नही होंगे तो भविष्य में हमें इसके दुष्परिणाम भुगतने होंगे। उन्होंने कहा कि दूसरों के साथ हमें स्वयं भी अपने कत्र्तव्यों का पालन करना होगा।
उन्होंने कहा कि गुरूग्राम प्रदेश में ही नही बल्कि पूरे विश्व में महत्वपूर्ण स्थान रखता है। समय के साथ साथ यहां काफी विकास हुआ लेकिन उसी के साथ यहां औद्योगिक इकाईयां , फैक्ट्री , होटल सहित कई उद्योग स्थापित किए गए। हमें विकास के साथ साथ स्वच्छता बनाए रखने में भी अपना योगदान देना चाहिए। हमें घरों से निकलने वाले कचरे का प्रबंधन करने के साथ साथ सड़कों को भी स्वच्छ बनाना चाहिए। उन्होंने स्वच्छता बनाए रखने के लिए पंचायतों की भूमिका को महत्वपूर्ण बताते हुए कहा कि हमारे देश के लोकतंत्र में पंचायत को अहम समझा जाता है। उन्होंने कहा कि इसमें कोई शक नही है कि गुरूग्राम जिला की पंचायतों द्वारा स्वच्छता के क्षेत्र में सराहनीय कार्य किया जा रहा है और आगे भी जिला प्रशासन द्वारा पंचायतों से अपेक्षाएं हैं कि वे स्वच्छता सर्वेक्षण के जिला गुरूग्राम की रैंकिंग को नंबर-1 पर लेकर आएं।



उन्होंने कहा कि यदि हम घरों से निकलने वाले गीले व सूखे कचरे को अलग करें तो इस समस्या को काफी हद तक कम किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि घरों से निकलने वाले गीले कचरे से खाद आदि बनाई जा सकती है जिसका प्रयोग किचन गार्डन या पेड़-पौधों के रखाव के लिए किया जा सकता है। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि का स्वागत गुरूग्राम के अतिरिक्त उपायुक्त मोहम्मद इमरान रजा ने किया और स्वच्छ भारत मिशन के तहत जिला में चल रही गतिविधियों के बारे में अवगत करवाया। उन्होंने कहा कि गुरूग्राम जिला को पहले से ही खुले में शौच मुक्त घोषित किया जा चुका है जोकि एक बड़ी उपलब्धि है। उन्होंने कहा कि स्वच्छता सर्वेक्षण-2019 के तहत प्रदेश के प्रत्येक जिले की रैंकिंग की जानी है, इसीलिए जरूरी है कि हम इस रैंकिंग में नंबर-1 पर आने के लिए एकजुट होकर प्रयास करें और अपने जिला को स्वच्छ बनाने में अपना योगदान दें। उन्होंने बताया कि जिला में स्वच्छता बनाने के लिए सामुदायिक शौचालय बनाने सहित कई महत्वपूर्ण कदम उठाए गए हैं। इतना ही नही, ठोस व तरल कचरा प्रबंधन के लिए सोहना के 8 गांवो में पायलेट प्रौजेक्ट चलाया जा रहा है। इन गांवो में घरों से निकलने वाले कचरे का प्रबंधन गांवो में ही किया जा रहा है। इस अवसर पर उन्होंने जिलावासियों का स्वच्छता बनाए रखने में अपना सहयोग देने का भी आह्वान किया। कार्यक्रम में राजकीय विद्यालय सैक्टर-4 के विद्यार्थियों द्वारा स्वच्छता को लेकर नाट्य प्रस्तुति भी दी गई जिसे उपस्थित दर्शकों ने खूब सराहा। इस अवसर पर डिप्टी डीईओ संगीता, लैक्चरर संगीता, स्वच्छ भारत मिशन के प्रौजेक्ट डायरेक्टर राजेश गुप्ता, मिनी सहित कई गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

Related posts

मंगलवार 2 जून को निर्जला एकादशी  के दिन मीठे पानी की छबीले लगाने पर पाबंदी: डीसी

Ajit Sinha

40 दिन में 50 से ज्यादा किसानों की हो चुकी है शहादत, लेकिन फिर भी नहीं पसीजा सरकार का दिल- दीपेंद्र हुड्डा

Ajit Sinha

अन्न आपूर्ति के लिए गुरुग्राम में लगा देश का पहला ‘ग्रेन एटीएम, उपभोक्ता अगूंठा लगाकर मशीन से निकाल सकेगा अनाज

Ajit Sinha
//poupteps.net/4/2220576
error: Content is protected !!