Athrav – Online News Portal
गुडगाँव

सैन्य सम्मान के साथ कर्नल प्रीत सिंह को अंतिम विदाई ,बुधवार को पंजाब में सड़क दुर्घटना में हुआ था देहांत

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट
गुरुग्राम: बुधवार को पंजाब के गिदड़बाहा के पास सड़क दुर्घटना में कर्नल प्रीत सिंह की निधन हो गया। आज कर्नल प्रीत सिंह को गुरुग्राम में सैन्य सम्मान के साथ नम आंखों से अंतिम विदाई दी गई। उनका परिवार गुरुग्राम के सेक्टर-22 में रहता है। उनकी अंतिम यात्रा में शामिल होने को नेता, आर्मी के वरिष्ठ, कनिष्ठ अधिकारियों के साथ काफी संख्या में लोग पहुंचे। मूलरूप से हरियाणा के जिला झज्जर के गांव सुरहेली के रहने वाले रघुबीर सिंह एवं सरबती देवी के चार पुत्रों में से तीसरे नंबर के प्रीत ङ्क्षसह का जन्म दो फरवरी 1975 को हुआ था। मार्च 2001 में 26 वर्ष की उम्र में वे आर्मी में लेफ्टिनेंट के रूप में चयनित हुए। सेना की ओर से उन्हें श्रद्धांजलि देने पहुंचे आर्मी मुख्यालय की ओर से डिप्टी डायरेक्टर जनरल इंद्राबालन ने बताया कि अपनी ड्यूटी के प्रति निष्ठावान प्रीत सिंह की जहां भी तैनाती हुई, उन्होंने अपनी यूनिट में बेहतरीन काम किया। उनकी तैनाती चाइना बॉर्डर, जम्मू एंंड कश्मीर में भी रही, जहां पर हमेशा स्थिति गंभीर रहती है।

विपरीत परिस्थितियों में भी प्रीत ङ्क्षसह ने अपनी ड्यूटी के प्रति निष्ठावान रहते हुए अपना नाम रोशन किया। उनकी इसी निष्ठा की बदौलत ही उन्हें वर्ष 2006 में राष्ट्रपति द्वारा सेना मेडल से सम्मानित किया गया। डीडीजी इंद्राबालन ने बताया कि प्रीत ङ्क्षसह के देहांत को बेटल कैजुअल्टी माना जाएगा और उसी के अनुरूप उनके परिवार को सेना के बेनिफिट्स दिए जाएंगें । इस समय उनकी तैनाती राजस्थान बॉर्डर पर थी। वे वहां इंजीनियर्स रेजीमेंट को कमांड कर रहे थे। कर्नल प्रीत सिंह अपने पीछे माता-पिता,तीन भाई अनिल कुमार,राजेश,प्रवीण कुमार, पत्नी स्वाति के साथ एक बेटा (7 साल) व एक बेटी (2 साल) समेत भरा-पूरा परिवार छोड़ गए हैं।



भटिंडा से आर्मी हेलिकॉप्टर में दिल्ली लाया गया शव पंजाब के गिदड़ाबाहा में सड़क दुर्घटना के बाद कर्नल प्रीत सिंह को भटिंडा में उपचार के लिए ले जाया गया था। लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका। वहां से प्रक्रिया पूरी करने के बाद कर्नल प्रीत सिंह के शव को आर्मी के हेलिकॉप्टर से दिल्ली में लाया गया। आज सैनिक सम्मान के साथ प्रीत सिंह का शव गुरुग्राम के सेक्टर-22 स्थित आवास पर लाया गया। यहां रस्में पूरी करने के बाद सेना के वाहन में उन्हें शमघाट ले जाया गया। वहां पर हरियाणा के पूर्व मंत्री राव धर्मपाल सिंह, रिटायर्ड ब्रिगेडियर टीसी राव, आर्मी के कर्नल कमांडेंट लेफ्टिनेंट जनरल पीपी मल्होत्रा, सुनील मलिक, विशेष झलानी के अलावा अन्य कई वरिष्ठ से लेकर कनिष्ठ अधिकारियों के साथ आमजन ने भी उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किए ।

Related posts

हरियाणा: स्टेट विजिलेंस ने जेल के एक सिपाही को एक लाख की रिश्वत लेते हुए किया अरेस्ट, जेल अधीक्षक समेत 4 पर केस दर्ज

Ajit Sinha

गुरुग्राम पुलिस ने रविवार रात ऑपरेशन रोमियों के तहत एमबी मॉल सहित अन्य कई मॉलों से आवारा किस्म के 42 लड़कों को किया गिरफ्तार।

Ajit Sinha

स्पा की आड़ में चल रहे देहव्यापार के धंधे का पुलिस ने किया पर्दाफाश, इस वीडियो में एसीपी क्राइम को सुने।  

Ajit Sinha
error: Content is protected !!