Athrav – Online News Portal
फरीदाबाद

पुलिस आयुक्त राकेश आर्य अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर पहुंचे महिला थाना एनआईटी, महिला दिवस की दी शुभकामनाएं


अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
फरीदाबाद- अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर पुलिस आयुक्त राकेश कुमार आर्य महिला थाना एनआईटी पहुंचे जहां पहुंच कर उन्होंने मौजूद सभी महिलाओं को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की शुभकामनाएं दी। महिलाओं की समाज में भागीदारी तथा महिला सुरक्षा के संबंध में किए गए उनके कार्यों की सराहना करते हुए प्रोत्साहित किया। इस अवसर पर उनके साथ डीसीपी सेंट्रल जसलीन कौर, डीसीपी ट्रैफिक उषा देवी, डीसीपी एनआईटी कुलदीप सिंह, एसीपी वूमेन सेफ्टी मोनिका, एसीपी मुजेसर महेश श्योराण, तीनों महिला थानों से थाना प्रबंधक व पुलिस टीम, श्री राम पब्लिक स्कूल प्रधानाचार्य श्रीमती ज्योति आनंद, डीएवी पुलिस पब्लिक स्कूल प्रधानाचार्य हेमा अरोड़ा, बीके अस्पताल से काउंसलर डॉक्टर प्रीति सहित अधिकारी मौजूद रहे। महिला थाना पहुंचने पर पुलिस आयुक्त का स्वागत किया गया। महिला सशक्तिकरण के बारे में पुलिस आयुक्त ने कहा कि आज हमारे देश की प्रगति में महिलाओं का अहम योगदान है। महिलाएं हर क्षेत्र में अपने दृढ़ निश्चय से हर जिम्मेवारी को बेहतरीन ढंग से निभाने का मादा रखती हैं। महिलाएं पुरुषों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर आगे बढ़ रही है।देवी देवताओं में भी सभी जरूरी विभाग देवियों को दिए गए हैं जैसे रक्षा विभाग माता दुर्गा, राजस्व विभाग माता लक्ष्मी तथा शिक्षा विभाग माता सरस्वती को दिया गया है।

आज शिक्षा के क्षेत्र में या किसी भी प्रकार की नौकरी में आईएएस, आईपीएस तक महिलाएं बड़ी संख्या में अपनी भागीदारी दर्ज करवा रही हैं। वह फरीदाबाद पुलिस की महिला पुलिसकर्मियों का भी उनके द्वारा किए गए सराहनीय कार्य के लिए प्रशंसा करते हैं। फरीदाबाद पुलिस द्वारा महिला सुरक्षा के संबंध में निरंतर प्रयास किया जा रहे हैं जिसमें उन्होंने बताया कि ऐसे स्थान चिन्हित किया गए हैं जहां पर महिलाओं के साथ ज्यादा आपराधिक वारदातें घटित होती हैं और चुने गए इन हॉटस्पॉट स्थानो पर महिला सुरक्षा के संबंध में आवश्यक कदम उठाए जा रहे हैं। इसके साथ ही ऑटो में यात्रा करने वाली महिलाओं की ट्रिप मॉनिटरिंग की जा रही है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि वह सुरक्षित अपने गंतव्य तक पहुंच चुकी है। ऑटो चालकों को यूनिकोड आवंटित कर उन्हें ट्रैक करने का सिस्टम बनाया गया है जिसमें कोई भी ऑटो चालक किसी महिला के साथ किसी प्रकार की वारदात करने की हिम्मत नहीं करेगा और महिलाएं सुरक्षित यात्रा कर सकेंगी। अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर थाने में बैडमिंटन तथा चेयर एक्सचेंज गेम का आयोजन करवाया गया जिसमें बैडमिंटन में महिला थाना एनआईटी प्रथम तथा महिला थाना बल्लभगढ़ की टीम ने दूसरा स्थान अर्जित किया।  पुलिस आयुक्त ने जीतने वाली टीम को ट्रॉफी देकर प्रोत्साहित किया व उनके उज्जवल भविष्य तथा अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं दी।

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष पर महिला सशक्तिकरण को प्रदर्शित करती फरीदाबाद पुलिस में तैनात डीसीपी सेंट्रल और साइबर जसलीन कौर, डीसीपी ट्रैफिक उषा देवी तथा एसीपी वूमेन सेफ्टी श्रीमती मोनिका ने महिला सशक्तिकरण के बारे में महिलाओं को प्रोत्साहित किया।डीसीपी सेंट्रल और साइबर जसलीन कौर ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर हम कामयाब और सशक्त महिलाओं तथा उनके हौसलों को सलाम करते हुए उनकी कामयाबी को सेलिब्रेट करते हैं और बाकी की महिलाओं को प्रोत्साहित करते हैं कि वह भी जीवन में कुछ करें और एक मुकाम हासिल करें। जब भी किसी इंसान को मौका मिलता है तो वह बाहर निकल कर अपनी मेहनत के दम पर कामयाबी की मंजिल को हासिल कर सकता है। इसलिए वह अनुरोध करती हैं कि हर व्यक्ति अपने बच्चों चाहे वह बेटा हो या बेटी दोनों को सामान मौका दे ताकि वह अपने आप को साबित कर सकें और अपना तथा अपने समाज का नाम रोशन कर सकें।डीसीपी ट्रैफिक उषा देवी ने कहा कि महिलाएं अपने परिवार के साथ-साथ अपने समाज की जिम्मेवारियां भी संभालने में पूरी तरह समर्थ है। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार माता दुर्गा कितने हाथों से अलग-अलग जिम्मेवारियां संभालती हैं। यह हाथ महिलाओं की क्षमता प्रदर्शित करते हैं कि उनमें कितने प्रकार की क्षमताएं हैं। महिलाएं इन क्षमताओं का अच्छे से प्रयोग करें। इस प्रकार महिलाएं भी अपने परिवार के साथ-साथ अपनी मंजिल को पाने के लिए दिन रात मेहनत करके उसे हासिल कर सकती हैं। फरीदाबाद में यातायात मैनेजमेंट के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि कोई भी जिम्मेदारी बड़ी या छोटी नहीं होती। सबका एक वर्क पोर्टफोलियो होता है तहत वह कार्य करते हैं। प्लान के तहत यह तय किया जाता है कि किस जगह पर ट्रैफिक किस प्रकार मैनेज किया जाए और सड़क सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सड़क दुर्घटना संभावित क्षेत्रों को चिन्हित कर सड़क दुर्घटना में कमी लाने के लिए कार्य किया जाता है। उन्होंने कहा कि हमारा लक्ष्य है कि शहर में यातायात व्यवस्था दुरुस्त रहे और किसी भी यात्री को यातायात से संबंधित कोई परेशानी का सामना नहीं करना पड़े। एसीपी मोनिका ने महिला सशक्तिकरण के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि महिलाओं को आगे बढ़ाने के लिए उनके परिवार का सपोर्ट होना बहुत आवश्यक है महिला के परिजन उन्हें आगे बढ़ाने के लिए उन्हें हौसला दे ताकि वह बेझिझक अपनी मंजिल लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए मेहनत कर सकें। इसके साथ-साथ सरकार द्वारा तथा गैर सरकारी संस्थाओं द्वारा बहुत से ऐसी स्कीम चलाई जा रही हैं जो महिला सशक्तिकरण को पंख प्रदान करती है और उन्हें आगे बढ़ाने में मदद करती हैं। फरीदाबाद पुलिस भी महिला सुरक्षा के लिए लगातार कार्य कर रही है और किसी भी महिला को किसी भी प्रकार की परेशानी होने पर वह डायल 112 पर फोन कर मदद ले सकती हैं फरीदाबाद पुलिस सदैव उनके साथ है।

Related posts

सरकारी वेबसाइट हैक कर फर्जी जन्म एवं मृत्यु प्रमाण पत्र जारी करने वाले दो शातिर आरोपित भाइयों को बिहार से किया अरेस्ट।

Ajit Sinha

फरीदाबाद: सीपी ओ पी सिंह ने 13 इंस्पेक्टरों और 37 सब इंस्पेक्टरों को इधर से उधर किए हैं, कई एसएचओ शामिल-लिस्ट पढ़े  

Ajit Sinha

फरीदाबाद :पुलिस कमिश्नर संजय कुमार ने स्वर्ण व 2 अन्य पदक जितने पर एएसआई भगत सिंह को प्रशंसा पत्र भेंट कर किया सम्मानित।

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//toathoule.com/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x