Athrav – Online News Portal
अपराध गुडगाँव

नशीला पदार्थ जेल में सप्लाई के मामले में एक जेल वार्डन सहित दो लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार।

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
गुरुग्राम: जेल में नशीले  पदार्थ सप्लाई  करने के मामले में आज रविवार को एक जेल वार्डन सहित कुल दो आरोपितों को रंगे हाथ अपराध शाखा डी. एल.एफ. फेस-4  टीम ने गिरफ्तार किया। जेल में बंद  एक आरोपित को सप्लाई करने आए दोनों आरोपितों के कब्जा से पुलिस टीम ने कुल 110 ग्राम सुल्फा व 24 ग्राम स्मैक बरामद की गई हैं। यह जानकारी एसीपी क्राइम प्रीतपाल सांगवान ने आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में दिए। गिरफ्तार किए गए आरोपितों के नाम  अंकित निवासी गाँव मसानी , थाना धारुङेङा, जिला रेवाङी व प्रेम चन्द, निवासी गाँव खुडाना, जिला महेन्द्रगढ, हरियाणा हैं। 

एसीपी क्राइम प्रीतपाल सांगवान ने पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि शनिवार की रात अपराध शाखा डीएलएफ -4 के इंचार्ज नवीन कुमार  को गुप्ता सूचना मिली कि जेल में दो लोग नशीला पदार्थ के सप्लाई करने के बारे में मिली थी। इस सूचना को उन्होनें गंभीरता से लेते हुए एक विशेष टीम गठित की और गठित की गई टीम मुखबिर द्वारा बताएं गए स्थान पर पहुंच गई। वह स्थान था भौंडसी जेल मोड़ था। वहां पर उनकी टीम को दो लड़के जेल मोड़ पर दिखाई दिए। उनका कहना हैं कि उनकी टीम ने शक के आधार पर जब उसकी तलाशी तो इन सभी के पास से नशीला पदार्थ निकला। वजन करने पर 110 ग्राम सुल्फा व 24 स्मैक था। पूछताछ में दोनों आरोपितों ने अपना नाम  अंकित निवासी गाँव मसानी, थाना धारुङेङा, जिला रेवाङी व प्रेम चन्द निवासी गाँव खुडाना, जिला महेन्द्रगढ, हरियाणा बताया। 

इसके बाद दोनों आरोपितों के खिलाफ भारतीय दंड सहिंता की विभिन्न धाराओं के तहत थाना सेक्टर -65 मुकदमा दर्ज किया गया। आरोपितों  से पुलिस पूछताछ में यह भी ज्ञात हुआ कि जेल में बन्द आरोपित  दीपक उर्फ दीपू ने अपने भाई धर्मबीर उर्फ मोटो निवासी गाँव डालियावास, जिला रेवाङी को फोन करके जेल में मादक पदार्थ पहुंचाने के लिए कहा था तो धर्मबीर उर्फ मोटो ने उपरोक्त आरोपित अंकित को मादक पदार्थ जेल में पहुंचाने के लिए दिया था। आरोपित  अंकित मादक पदार्थ लेकर उपरोक्त आरोपित  प्रेम चन्द को देने के लिए आया था। उपरोक्त आरोपित प्रेम चन्द जेल में बतौर जेल वार्डन तैनात है और प्रेम चन्द जेल में बन्द आरोपित  दीपक उर्फ दीपू तक यह मादक पदार्थ पहुंचा देता, किन्तु जब उक्त आरोपित अंकित यह मादक पदार्थ उक्त आरोपित जेलवार्डन प्रेमचन्द को दे रहा था तभी पुलिस टीम ने इन दोनों के रंगे हाथ काबू कर लिया। जेल में बन्द आरोपित  दीपक उर्फ दीपू जेल में मादक पदार्थ सप्लाई करने के मामले में बन्द है। दीपक उर्फ दीपू पर अवैध हथियार, जेल में मादक पदार्थों की सप्लाई , लङाई-झगङे व मारपीट करके छीनाझपटी करने के कुल 10 मुकदमें  अंकित है। अभी यह जेल में मादक पदार्थस प्लाई करने के मामले में बन्द है।  

Related posts

एडीजीपी ममता सिंह और भारतीय पुलिस सेवा के 4 नवनियुक्त प्रशिक्षु अधिकारियों ने राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय से शिष्टाचार भेंट की।

Ajit Sinha

एक साल के बेटे को देता था कम सुनाई, मां ने हत्‍या कर खुद भी किया सुसाइड

Ajit Sinha

गुरुग्राम ब्रेकिंग: द्वारका एक्सप्रेस वे का हरियाणा क्षेत्र में निर्माण 99 फीसदी तक पूरा : डीसी

Ajit Sinha
//rndnoibattor.com/4/2220576
error: Content is protected !!