Athrav – Online News Portal
अपराध नोएडा फरीदाबाद वीडियो

दो प्रॉपर्टी डीलरों की हत्या रंजिशन की गई थी, अब तक दोनों पक्षों के 5 लोगों की हत्याएं, दो आरोपितों किया गिरफ्तार,1 फरीदाबाद का हैं-देखें वीडियो

अरविंद उत्तम की रिपोर्ट 
नॉएडा: ग्रेटर नोएडा वेस्ट के थाना बिसरख क्षेत्र में बीते सात सितंबर की रात अजनारा ली गार्डन सोसायटी में हुए दो प्रॉपर्टी डीलरों की हत्या के मामले पुलिस ने दो आरोपितों गिरफ्तार हैं। पुलिस की माने तो  पूर्व में कृष्णा नामक शख्स  की हत्या का बदला लेने के लिए प्रॉपर्टी डीलर डालचंद की हत्या की योजना बनाई थी व उनकी हत्या की सुपारी शार्प शूटरों  को दी गई थी। घटना के दिन डालचंद के साथ कार में बैठे प्रॉपर्टी डीलर अरुण त्यागी भी बदमाशों की गोलियों के शिकार हो गए थे।

सूरजपुर में शुक्रवार को हुई प्रेस कान्फ्रेंस में डीसीपी सेंट्रल हरिश चंद्र ने बताया कि बीते 7 सितंबर को बिसरख थाना क्षेत्र के अजनारा ली गार्डन सोसायटी में कार में दो लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। उस मामले में पुलिस ने घटना के मास्टर माइंड गुरुग्राम निवासी सुरेश शर्मा और फरीदाबाद निवासी मोहित वत्स को ग्रेटर नोएडा वेस्ट स्थित गैलेक्सी वेगा सोसायटी के पास से गिरफ्तार किया है। दोनों आरोपितों  से पूछताछ में पता चला कि इस दोहरे हत्याकांड को पुरानी रंजिश के चलते अंजाम दिया गया है। पूर्व में सुरेश शर्मा के भाई कृष्ण की हत्या कर दी गई थी। उसका बदला लेने के लिए हरियाणा के बहादुरगढ़ निवासी टेकचन्द, डीलर उर्फ दयाचन्द उर्फ काली और ओमवीर  ने अपने साथियों के साथ मिलकर डालचंद की रेकी की और  बीते 7 सितंबर को टाटा हैरियर गाड़ी में बैठे डालचन्द पर गोलियों की बौझार कर दी। डालचंद के साथ कार में बैठे प्रॉपर्टी डीलर अरुण त्यागी भी बदमाशों की गोलियों के शिकार हो गए थे।

डीसीपी सेंट्रल हरिश  चंद्र ने बताया कि मास्टर माइंड सुरेश के पैरोल पर जेल से बाहर आने के बाद अपराधी मोहित वत्स ने उसे बताया कि जैकी उर्फ डालचन्द अपना नाम बदलकर नोएडा की सोसायटी में रह रहा है। उसकी रैकी करवा रखी है। आसानी से मारा जा सकता है। यह हत्या कृष्ण की हत्या का बदला लेने के लिए की गई है। अपराधी  सुरेश हत्या के मुकदमे में आजीवन कारावास की सजा काट रहा था। बीते 27 फरवरी 2020 को जेल से पैरोल पर छूटकर आया था। डीसीपी ने बताया कि दोहरे हत्याकांड में अपराधियों  की गिरफ्तारी पर 25 हजार रूपए  का इनाम घोषित किया गया था। बाद में इनाम राशि को बढ़ा कर 50 हजार रुपये करने के लिए उच्च अधिकारी को रिपोर्ट प्रेषित की गई है।

Related posts

फरीदाबाद के सेक्टर- 3 को कन्टेनमेंट जोन से बाहर कर दिया गया है, अब नियम व शर्ते लागू नहीं होंगी: डीसी

Ajit Sinha

फरीदाबाद : रणजीत हत्याकांड की गुथ्थी क्राइम ब्रांच डीएलएफ ने लिया सुलझा, जीजा ने ही किया था अपने साले की हत्या, गिरफ्तार।

Ajit Sinha

फरीदाबाद की सिरिंज से दुनिया को लग रही वैक्सीन – धनखड़

Ajit Sinha
//thefacux.com/4/2220576
error: Content is protected !!