Athrav – Online News Portal
अपराध हरियाणा

हरियाणा सरकार ने 25000 रूपए का ईनामी मोस्ट वान्टेड अपराधी अवैध हथियारों सहित गिरफ्तार।

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
चंडीगढ: पुलिस महानिदेशक मनोज यादव के निर्देशानुसार समस्त हरियाणा पुलिस ने ईनामी एवं मोस्ट वांटेड बदमाशों की धरपकड़ के लिए चलाए जा रहे अभियान के तहत सोनीपत जिले से  25000 रूपए  के ईनामी एवं मोस्ट वांटेड अपराधी को अवैध हथियारों सहित गिरफ्तार किया है। हरियाणा पुलिस प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि गिरफ्तार  आरोपित  की पहचान देवेन्द्र निवासी पुरबालयाण जिला मुज्जफरनगर ,उत्तरप्रदेश  के रूप में हुई है। अपराधी की गिरफतारी से हत्या, हत्या का प्रयास, चोरी, लूट व आर्म  एक्ट के लगभग आधा दर्जन मामलों को खुलासा हुआ है।
               
उन्होंने बताया कि सीआईए की टीम अपराधियों एंव असामाजिक तत्वों की खोज में बड़वासनी नहर पुल की सीमा में मौजूद थी कि इन्हें  अपने विश्वस्त सूत्रो से पता चला कि 25 हजार रूपए  का ईनामी एवं मोस्टवांटेड अपराधी देवेन्द्र अवैध हथियारों सहित किसी अपराधिक घटना को अन्जाम देने की फिराक में घुम रहा है। इस सूचना पर पुलिस टीम द्वारा अविलम्ब कार्रवाई  करते हुए आरोपित  को धर दबोचा। तलाशी लेने पर इसके कब्जा से एक अवैध देशी पिस्तौल व दो जिन्दा कारतूस मिले।
                 
प्रारंभिक पूछताछ में खुलासा हुआ कि देवेन्द्र ने वर्ष 2009 में अपने साथियों के साथ मिलकर एक व्यक्ति का अपहरण कर गोली मारकर हत्या करने की घटना को अन्जाम दिया था। इस घटना का थाना सदर सोनीपत में मुकदमा  दर्ज किया गया था। पुलिस द्वारा इस पर 25 हजार रूपए  का ईनाम घोषित किया था। न्यायालय द्वारा इसे वर्ष -2011 में फरार आरोपित  घोषित किया था।

आरोपी का आपराधिक रिकॉर्ड
1. वर्ष 2005 में अपने साथियों के साथ मिलकर जिला मुज्जफरनगर यू0पी0 में राहगीरों को लूटने की अलग-अलग घटनाओं को अन्जाम दिया था।
2. वर्ष 2006 में जिला मुज्जफरनगर यू0पी0 में अवैध शस्त्र रखने के संबंध में मुकदमा दर्ज है।
3. वर्ष 2007 में गिरफतार आरोपी ने जिला मुज्जफरनगर यू0पी0 में एक चोरी करने की घटना को अन्जाम दिया था।
4.  वर्ष 2008 में अपने साथियों के साथ मिलकर देहरादून में हत्या प्रयास की घटना को अन्जाम दिया था।
5. वर्ष 2011 में अपने साथियों के साथ मिलकर पटौदी जिला गुरूग्राम में तिहरे हत्याकांड को अन्जाम दिया था।
                 

Related posts

अर्जुन अवार्डी खिलाड़ियों को मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने किया सम्मानित

Ajit Sinha

फरीदाबाद: मुख्यमंत्री उड़न दस्ता का छापा:मृत व्यक्तियों के नाम निकली जा रही वृद्धावस्था पेंशन, केस दर्ज।

Ajit Sinha

दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने निवेशकों से 20 करोड़ के ठगी के मामले में एक कंपनी के 3 निदेशकों को किया अरेस्ट।   

Ajit Sinha
//mirsuwoaw.com/4/2220576
error: Content is protected !!