Athrav – Online News Portal
नोएडा

डॉक्टर कोठी में लगी आग, 13 को फायर विभाग ने किया रेस्क्यू, दो फायरमैन घायल अस्पताल में भर्ती

अरविन्द उत्तम की रिपोर्ट 
नोएडा : सेक्टर-20 के स्थित एक कोठी डी-11 आग लग गई। आग कोठी के फर्स्ट और सेकेंड फ्लोर पर लगी थी। आग लगने से आसपास के लोगों में हड़कंप मच गया, वही आग में एक दर्जनों लोग फंस गए जिनमें बच्चे भी शामिल थे. सूचना मिलते ही पुलिस और फायर विभाग की टीम मौके पर पहुंची और कड़ी मशक्कत के बाद सभी लोगों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया और आग को पूरी तरह बुझा दिया। अग्निशमन कार्य करते समय फायर सर्विस के दो कर्मचारियों की धुंये और आग गर्मी की वजह से तबीयत खराब होने पर उन्हें हॉस्पिटल भर्ती कराया गया है.

पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह उनके साहस भरे कार्य की सराहना की। सेक्टर-20 के स्थित ये कोठी नोएडा के सीनियर डॉक्टर केसी सूद की है डाक्टर केसी सूद का ग्राउंड फ्लोर पर क्लीनिक चलाते हैं और फर्स्ट फ्लोर परिवार के साथ रहते हैं। दूसरे फ्लोर पर एक दूसरा परिवार किराए पर रहता है। डॉक्टर केसी सूद ने बताया कि कमरे में पूजा के दौरान दीपक जलाया गया। दीपक गिरने से आग लग गई। पीवीसी की वायर होने के चलते आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। इस दौरान आग सेकंड फ्लोर तक पहुंच गई। आग से घर में रहने वाले करीब 13 लोग फंस गए। गार्ड ने इसकी सूचना दमकल विभाग को दी.
 
सीएफओ अरूण कुमार सिंह ने बताया कि  जब आग लगने की सूचना पर जब वे मौके पर पहुंचे उस समय कोठी में 13 लोगों फंसे थे इसमें कुछ बच्चे भी शामिल थे। मकान के फर्स्ट और सेकंड फ्लोर पर फंसे हुए लोगों को निकालना आसान नहीं था  इन दोनों तलों पर पूरा धुआं भरा हुआ था। ऊपर जाने के लिए सीढ़ी में भी घना धुंआ भरा हुआ था। वहां तापमाप भी अत्यधिक था। ऐसी परिस्थितियों में ऊपर जाना असंभव था। फायर सर्विस की टीम ने ब्रीदिंग आपरेटस सेट पहनकर पानी की बौछारों के बीच घने धुएं और गर्मी के बीच से होकर 13 लोगों को आग से बचाया।
 
सीएफओ अरुण कुमार सिंह ने बताया कि रेस्क्यू टीम ने छत के माध्यम से पड़ोस की छत पर सीढ़ी लगाकर सभी को सुरक्षित बाहर निकाल लिया। आग बुझाते समय फायर सर्विस के लीडिंग फायरमैन महिपाल सिंह व फायर मैन निज़ामुद्दीन की धुंये व ताप की वजह से तबियत खराब होने पर उन्हें सेक्टर-26 स्थित अपोलो हॉस्पिटल भेजा गया। चार फायर टेंडरों के माध्यम से आग पर पूरी तरह काबू पाया. ज्वाइंट सीपी लव कुमार ने अस्पताल इन कर्मचारियों के स्वास्थ्य की जानकारी ली और  पुलिस कमिशनर आलोक सिंह इनके साहस भरे कार्य की सराहना की।

Related posts

संदिग्ध हालात में विवाहिता की मौत, लडकी के पिता ने बेटी के ससुराल वालों पर हत्या का आरोप लगाया, पुलिस जांच में जुटी

Ajit Sinha

वकील की हत्या 50 करोड़ रूपए के जमीनी विवाद के चलते की गई थी, पुलिस ने मुठभेड़ के बाद आरोपित अरेस्ट

Ajit Sinha

पर्दाफाश: विदेशियों को उनके ड्रग माफियाओं से संबंध होने की बात कहकर धमकाकर की जाती थी वसूली

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//shookribux.net/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x