Athrav – Online News Portal
अपराध फरीदाबाद

फरीदाबाद: दो लाख रूपए कहां रखे हैं, का राज नहीं बताने पर बुजुर्ग हर गोविन्द की सिर में पत्थर मार कर हत्या कर दी- अरेस्ट

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
फरीदाबाद: गांव में मकान बनाने के लिए इकट्ठा करके रखे गए दो लाख रुपए के बारे में नहीं बताने पर चाय बेचने वाले बुजुर्ग हर गोविन्द की सिर में पत्थर मार-मार कर रेलवे लाइन स्थित विवेका नंद पार्क के नजदीक उसकी हत्या की गई थी। इस मामले में क्राइम ब्रांच -65 की टीम ने एक शख्स को अरेस्ट किया है। इस आरोपित का दूसरा साथी अभी फरार हैं, जिसे पुलिस ने जल्द अरेस्ट कर ने का दावा किया है। इस सनसनीखेज वारदात आरोपित  ने 19 -20 मई 2022 की रात को सेक्टर- 21 बी के निकट रेलवे लाइन के पास दिया था। 

इंचार्ज ब्रह्म प्रकाश ने आज जानकारी देते बताया कि अरेस्ट किए गए आरोपित का नाम सोनू उर्फ अविनाश उर्फ बहरा है जो फरीदाबाद के फतेहपुर गांव चंदीला का रहने वाला है। इस मामले में आरोपित का एक साथी सुनील उर्फ बीड़ी उर्फ चूचू अभी फरार चल रहा है जिसकी पुलिस  द्वारा तलाश की जा रही है और उसे जल्द ही अरेस्ट किया जाएगा। दोनों आरोपित गांव अनखीर में एक सर्विस स्टेशन पर काम करते थे और दोनो नशेड़ी किस्म के व्यक्ति हैं जो शराब के साथ- साथ इंजेक्शन का नशा भी करते हैं। 

क्राइम ब्रांच की टीम ने गुप्त सूत्रों की सूचना के आधार पर कार्रवाई करते हुए आरोपित सोनू को कल शाम अनखीर चौक के पास के ठेके से अरेस्ट कर लिया। पुलिस थाना एनआईटी में गत  20 मई 2022 को हत्या की कई धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया था जिसमें आरोपित सोनू ने
अपने साथी सुनील के साथ मिलकर बीके अस्पताल में चाय की दुकान लगाने वाले 52 वर्षीय हर गोविंद की पत्थर से सिर में चोट मारकर हत्या कर दी थी। मृतक हरगोविंद के भाई की शिकायत पर पुलिस थाना एनआईटी में केस दर्ज किया गया था। डीसीपी क्राइम द्वारा इस मामले में तुरंत कार्रवाई के निर्देश दिए गए जिसके पश्चात मामले की गुत्थी को सुलझाने के लिए पुलिस टीम का गठन किया गया जिसमें सब इंस्पेक्टर सुरेश, हवलदार गुलाम मोहम्मद व दिनेश, सिपाही आशिद तथा नेपाल का नाम शामिल था। टीम ने मामले में तुरंत कार्रवाई करते हुए मामले में शामिल आरोपित को गत 23 मई को अरेस्ट कर लिया।

प्राथमिक पूछताछ में आरोपित ने बताया कि वह हरगोविंद को पिछले लगभग 6 महीने से जानते थे। हरगोविंद पिछले कई सालों से बीके अस्पताल की बिल्डिंग में चाय की दुकान लगाता था। हरगोविंद भी शराब पीने का आदी था। इसलिए दोनों आरोपित उसके पास आते जाते थे और उसकी दुकान पर बैठकर उसके साथ शराब पीते थे। एक दिन शराब पीकर बातों बातों में आरोपितों  ने हरगोविंद से उसकी कमाई के बारे में पूछा तो हर गोविंद ने बताया कि अपनी मेहनत से उसने करीब 2 लाख रुपए इकट्ठे कर लिए हैं और इन्हें लेजा कर वह गांव में अपना मकान बनाएगा। 2 लाख रुपए की बात सुनकर आरोपितों को लालच आ गया और उन्होंने हर गोविंद से पैसे हड़पने की योजना बनाई। इस योजना के तहत गत 19-20 मई की रात आरोपित  बुजुर्ग हरगोविंद को पार्टी देने के बहाने अपने गांव फतेहपुर चंदीला बुलाया और वहां पर शराब पिलाकर उससे पैसों के ठिकाने के बारे में पूछताछ की परंतु जब हर गोविंद ने पैसों के बारे में बताने के लिए मना कर दिया तो उन्होंने उसके साथ मारपीट की और बाद में उसे रेलवे  लाइन के पास स्थित विवेकानंद पार्क में लेकर आए और उसके सिर में पत्थर से चोट मारकर उसकी हत्या कर दी। पुलिस टीम द्वारा वारदात में प्रयोग खून से सना पत्थर बरामद किया गया है। आरोपित को अदालत में पेश करके 1 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है जिसमें पुलिस रिमांड के दौरान आरोपी से उसके साथी सुनील के बारे में गहनता से पूछताछ की जाएगी और उसकी तलाश करके उसे जल्द से जल्द अरेस्ट  किया जाएगा।

Related posts

जरूर पढ़े: 2500 से अधिक लोगों से करोड़ों की ठगी करने वाले 5 साइबर ठगों को जामताड़ा, झाड़खंड से पुलिस ने अरेस्ट किए हैं।

Ajit Sinha

चंडीगढ़ ब्रेकिंग: भ्रष्टाचार के आरोप में सहकारिता विभाग के संयुक्त रजिस्ट्रार नरेश कुमार गोयल पकड़ा गया।

Ajit Sinha

पलवल: प्रस्तावित कलेक्टर रेटों के ड्राफ्ट पर आमजन से मांगे ऐतराज व सुझाव : डीसी नेहा सिंह

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//nutchaungong.com/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x