Athrav – Online News Portal
फरीदाबाद

फरीदाबाद: डीटीपी इंफोर्स्मेंट विभाग की लापरवाही से ग्रीन फिल्ड कालोनी के बिल्डरों के हौसलें बुलंद,सील तोड़ कर रहे खुलेआम निर्माण

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
फरीदाबाद: डीटीपी इंफोर्स्मेंट विभाग की घोर लापरवाही के चलते ग्रीन फिल्ड कालोनी के बिल्डरों के हौसले काफी बुलंद हैं, यही कारण हैं कि डीटीपी इंफोर्स्मेंट विभाग द्वारा सील की गई बिल्डिंग की सरेआम सील तोड़कर निर्माण कार्य पूरा करके ग्राहकों को सौपने के फिराक में हैं। ग्रीन फिल्ड कालोनी में इस वक़्त लगभग 10 ऐसे अवैध बिल्डिंगें हैं जिनमें अवैध निर्माण खुले रूप में किया गया हैं और इन अवैध निर्माण वाले बिल्डिंगों को बिल्डर लोग धोखे से ग्राहकों को बेच कर अपना उल्लू आसानी से सीधा करने में लगा हैं क्यूंकि डीटीपी इंफोर्स्मेंट विभाग अभी तक इन अवैध निर्माणों और अवैध निर्माण बनाने वाले बिल्डरों के खिलाफ व सील तोड़ने के मामले में कोई सख्त कार्रवाई नहीं की गई हैं, जोकि एक बहुत बड़ी चिंता का बिषय हैं। 

इस मामले में डीटीपी इंफोर्स्मेंट राजेंद्र टी शर्मा का कहना हैं कि किसी भी सूरत में अवैध निर्माणों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उनके पास ग्रीन फिल्ड कालोनी के  बिल्डरों और ठेकेदारों के द्वारा बनाए लगभग दस से बारह ऐसे बिल्डिंगों के नंबर मिले हैं जिसमें अवैध निर्माण किए गए हैं। इस पर जल्द ही सख्त कार्रवाई की जाएगी। इन  निर्माणकर्ताओं को किसी भी सूरत में बख्सा नहीं जाएगा। जल्द ही ग्रीन फिल्ड कालोनी में तोड़फोड़ की बड़ी कार्रवाई की जाएगी। जहां तक प्लाट नंबर-932 में बनाए बिल्डिग की पूर्व डीटीपी इंफोर्स्मेंट नरेश कुमार ने तोड़फोड़ के अलावा सीलिंग की कार्रवाई की थी और अब बिल्डरों ने सीलिंग को तोड़ कर टूटे हुए अवैध निर्माण को फिर से बना लिया गया हैं पर तत्परता से जल्द ही सख्त कार्रवाई की जाएगी। उनका साफ़ तौर पर कहना हैं कि वह जानबूझ कर आम जनता को बिल्डरों के हाथों लूटने नहीं दूंगा. 

खबर के मुताबिक ग्रीन फिल्ड कालोनी के प्लाट नंबर-932 पर नक़्शे के मुताबिक पार्किंग के साथ चार मंजिल की बिल्डिंग बनाई गई हैं पर इस बिल्डिंग के पिछले हिस्सों में चार मंजिलों तक अवैध निर्माण किया गया हैं जोकि कानूनी तौर पर बिल्कुल गलत हैं। इसी के चलते बीते 9 अक्टूबर 2020 को उनके विभाग के द्वारा तोड़फोड़ और सीलिंग की कार्रवाई की थी। इसके बाद बिल्डरों ने किए गए सील को तोड़ दिया और तोड़े गए अवैध निर्माण को  फिर से बना लिया हैं। इस बात से पूरे बिल्डरों में डीटीपी इंफोर्स्मेंट के प्रति खौफ बिल्कुल खत्म हो गया हैं। थोड़ा बहुत खौफ डीटीपी इंफोर्स्मेंट रहे नरेश कुमार का था जिनका पिछले दिनों तबादला हो गया था ,उनके स्थान पर नए डीटीपी इंफोर्स्मेंट राजेंद्र टी शर्मा आए हैं जिन्होनें अभी तक कोई कार्रवाई अवैध निर्माणों के खिलाफ नहीं की हैं। इसी के चलते बाकि के सभी बिल्डरों के हौसले बुलंद हैं।

इसी को देख कर लगभग 10-12 अन्य बिल्डरों ने अपने बिल्डिंगों में अवैध निर्माण कर लिया हैं जिसका नंबर- 932 , 1848 , 9 , 2511, 2994, 1670 , 1723 , 11 , 1676, 1822 हैं, इस तरह के  नंबर तलासने पर और भी मिल सकते हैं पर ऐसे नंबरों को तलाशेगा कौन यह तो नहीं मालूम ,पर यह कार्य तो डीटीपी इंफोर्स्मेंट विभाग के सम्बंधित अधिकारी का ही हैं। इस मामले में 1670 में अवैध निर्माण बनाने वाले बिल्डर एस पी महेश्वरी से जब बात की गई तो उनका कहना हैं कि उन्होनें 1670 ए में जो बिल्डिंगे बनाई हैं, उसमें कुछ हिस्सा अवैध रूप से बनाई हुई हैं पर उन्होनें इसके बदले एफएआर परचेज कर ली हैं इस लिए किए गए अवैध निर्माणों  को अब अवैध निर्माण नहीं कह सकते हैं। इस मामले में सही जानकारी लेने के लिए डीटीपी रेणुका से फोन पर संपर्क किया गया पर उन्होनें अपना फोन नहीं उठाया,हो सकता हैं वह अपने किसी कार्य में व्यस्त होंगी। फिर भी डीटीपी इंफोर्स्मेंट राजेंद्र टी शर्मा को भी सही ढंग से इस बिल्डिंग को चेक करना चाहिए कि नक़्शे के मुताबिक बिल्डिंगें बनी भी हैं या नहीं हैं और किए गए अवैध निर्माणों के एफएआर परचेज किए गए हैं या नहीं हैं। क्यूंकि इनकी बिल्डिंग काफी शिकायतें आई हैं। इस पर डीटीपी इंफोर्स्मेंट राजेंद्र टी शर्मा को विशेष ध्यान देना चाहिए। इस खबर में ऊपर के दो फोटो हैं जिसमें आगे और पीछे का हिस्सा हैं उस प्लाट का नंबर -1670 हैं इस तस्बीर में अवैध निर्माण को दर्शाता हैं और उसके निचे तीन फोटों हैं जोकि कार्रवाई वाले दिन का हैं, ये तस्बीर प्लाट नंबर -932 की हैं जिस में सीलिंग तोड़ कर निर्माण कार्य किया जा रहा हैं। और डीटीपी इंफोर्स्मेंट विभाग कुछ करवाई नहीं कर पा रहा बिल्कुल बिवश हैं पता नहीं इनकी क्या मजबूरी हैं। 

Related posts

फरीदाबाद: भाजपाइयों की स्वयंभू स्मार्ट सिटी में कूड़ा घर में तब्दील हुआ साइकिलिंग ट्रैक : सुमित गौड़

Ajit Sinha

फरीदाबाद: पुलिस कमिश्नर ओ पी सिंह ने आज 6 इंस्पेक्टरों सहित 22 पुलिस कर्मियों को इधर से उधर किए हैं -लिस्ट पढ़े

Ajit Sinha

फरीदाबाद: अग्रवाल वैश्य समाज ने आयोजित सम्मान समारोह में यूपीएससी में चयनित प्रत्याशियों को किया सम्मानित

Ajit Sinha
//zaltaumi.net/4/2220576
error: Content is protected !!