Athrav – Online News Portal
अपराध फरीदाबाद

फरीदाबाद: क्राइम ब्रांच बॉर्डर ने आज 36 लाख रुपए लूट के मामले को सुलझाया, दो शिकायतकर्ता ही निकला मास्टरमाइंड, 7 अरेस्ट

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
फरीदाबाद: क्राइम ब्रांच बॉर्डर की टीम ने आज 36 लाख 40 हजार रूपए के लूट के मामले में दो लोगों को अरेस्ट किया है। इस लूट की साजिश कंपनी के कैश लाने -ले जाने वाले कर्मचारी ने ही रची थी । इस लूट के मामले में अब तक सात आरोपितों को अरेस्ट किया है और इनके कब्जे से लूटी गई रकम में 31 लाख 72 हजार रूपए बरामद किए गए हैं। अरेस्ट किए गए आरोपितों के नाम रोहन निवासी मिलन विहार जगतपुर, बुराड़ी दिल्ली,विकास निवासी शालीमार, दिल्ली सचिन उर्फ़ मूलचंद निवासी मीरगंज जिला बरेली, उत्तरप्रदेश हाल किराएदार शालीमार दिल्ली, मोनी निवासी गोरिन्दा जिला उन्नाव, उत्तरप्रदेश हाल शालीमार बाग दिल्ली,अर्जुन निवासी दरिया गंज जिला एटा, उत्तरप्रदेश हाल शालीमार ,दिल्ली सुरजीत निवासी बेला, जिला सीतामढ़ी बिहार शालीमार,दिल्ली,सोनू उर्फ़ जोनी निवासी भलस्वा, दिल्ली हाल शालीमार दिल्ली हैं।  

इंचार्ज  सेठी मलिक ने जानकारी देते हुए बताया कि बीते 4 मार्च 2021 को उनको आरोपित  अर्जुन ने एक सूचना दी थी कि  वह एक कंपनी में काम करते हैं जो कि प्रीतमपुरा से कंपनी के 36 लाख 40 हजार रुपए लेकर आ रहे थे जैसे ही वह टोल प्लाजा के नजदीक पहुंचा तो नाम पता ना मालूम बदमाशों  ने उसकी आंखों में मिर्ची डालकर पैसे लूट लिए और फरार हो गए। जिस पर तुरंत लूट का मामला थाना सराय ख्वाजा में  दर्ज किया गया था। मामले को गंभीरता से लेते हुए  उन्होनें  जब मामले की गहनता से अध्ययन किया तो मामला कुछ और ही निकला। उन्होंने बताया कि जिन दो लोगों ने लूट होने की शिकायत दी थी असलियत में वही लोग मुख्य साजिशकर्ता निकले। आरोपित  अर्जुन और  रोहन वुडपैकर नाम की कंपनी में प्रीतमपुरा में काम करते हैं जोकि कंपनी के पैसों को फरीदाबाद व अन्य जगह पहुंचाने का काम करते थे। आरोपितों  के मन में एक दिन लालच आया और उन्होंने योजना बनाई कि जिस दिन वह ज्यादा पैसा लेकर जाएंगे उस दिन वारदात को अंजाम देंगे। अपने अन्य साथियों को इस संबंध में बताकर और इन लोगों ने बीते  4 मार्च को वारदात को अंजाम देने की  योजना बना डाली।

आरोपितों  ने अपने अन्य दोस्तों को बता दिया था कि जब वह टोल प्लाजा के नजदीक आए तब तुम लोग हमारी आंखों में मिर्च डाल देना और पैसों को लूट कर फरार हो जाना। जांच में सामने आया कि सुरजीत, विकास और सचिन ने अपने किसी पड़ोसी की स्कूटी मांग कर उस पर सवार होकर पैसा लूटने के लिए फरीदाबाद आए थे। आरोपित सोनू उर्फ जॉनी शालीमार गांव में ही रुक कर एक दूसरे की लोकेशन बताने का काम कर रहा था। उन्होनें  ये भी  बताया कि उनकी टीम ने आरोपित  रोहन निवासी गाँव बुराड़ी दिल्ली, विकास, सचिन, मोनी, अर्जुन, सुरजीत, सोनू को गाँव शालीमार, दिल्ली से अरेस्ट  किया है। पुलिस टीम ने आरोपित  विकास से 13,82,500, सचिन उर्फ़  मूलचंद 6000/-, मोनी से 6500/-, अर्जुन से 1,00,000/-, सुरजीत से 14,62,000/-, सोनू उर्फ़  जॉनी से 2,15,000/- बरामद किए  है। आरोपितों  से कुल 31,72,000/-रुपये बरामद किए गए  है। आज सभी आरोपितों को अदालत के सम्मुख पेश किया जहां से सभी आरोपितों को जेल भेज दिया गया है।  

 

Related posts

फरीदाबाद : स्टेट रैजिडैन्ट डाटा बेस (एसआरडीबी) का जन सेवा सर्वे एक अत्यन्त महत्वपूर्ण कार्यक्रम है समीरपाल सरो

Ajit Sinha

फरीदाबाद: मुख्यमंत्री उड़न दस्ता की टीम ने आज फर्जी जन्म प्रमाण बनाने वाले गिरोह का किया पर्दाफाश -केस दर्ज।

Ajit Sinha

बडखल विधानसभा क्षेत्र के एसजीएम नगर के ब्लाक डी में बनने वाली इंटरलॉकिंग टाइल्स के निर्माण का शुभारंभ

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//grunoaph.net/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x