Athrav – Online News Portal
फरीदाबाद

फरीदाबाद:नगर निगम के कमिश्नर डा. यशपाल यादव ने आज निगम के सभी पार्षदों के साथ मीटिंग की, जाने क्या हुआ

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
फरीदाबाद: नगर निगम के कमिश्नर  डा. यशपाल यादव ने आज शहर की समस्याओं और विकास कार्यों को लेकर निगम के सभी पार्षदों के साथ कैम्प कार्यालय पर मीटिंग की। जिसमें प्रत्येक पार्षदों ने अपने-अपने क्षेत्र में होने वाले विकास कार्य और उनसे संबंधित समस्याओं के बारे में विचार-विमर्श किया। आज की मीटिंग में निगम की महापौर सुमनबाला, वरिष्ठ उप महापौर देवेन्द्र चैधरी, उपमहापौर मनमोहन गर्ग सहित सभी पार्षदगण मौजूद थे।
निगमायुक्त डा. यशपाल ने सभी निगम पार्षदों की समस्याओं को गौर से सुना और कहा कि शहर में नागरिकों की सुविधा के लिए वार्ड कर्मटियां गठित की जाएगी जो नागरिकों की हिस्सेदारी के लिए काम करेगी।

उन्होंने बताया कि भारत सरकार का एक पाॅयलट प्रोजेक्ट है जो शहर के बड़े-बडे़ नालों को बरसात से पहले साफ करने का कार्य करेगा जिससे आम नागरिक और दुकानदारों को बरसात के मौसम में जलभराव की समस्या से निपटारा मिल जाएगा। निगमायुक्त ने बताया कि सीएंडडी बेस्ट कंट्रक्शन एंड डोमोलेशन टैंडर भी कर दिया गया है तथा अलाॅटमेन्ट का कार्य महीने के आखिरी में कर दिया जाएगा। मीटिंग में निगमायुक्त ने पार्षदों को अवगत कराया कि नगर निगम में विभिन्न प्रकार की समस्याओं के समाधान हेतु चालान एप व फरीदाबाद 311’ एप  का ट्रॉयल शुरू हो गया है। 25 फरवरी को इसको लॉन्च किया जाएगा। इसके तहत एक ही एप पर सभी सुविधाएं मिल सकेंगी। यदि स्ट्रीट लाइटिंग, वाटर सप्लाई, कचरा प्रबंधन, सीवरेज व संपत्ति कर, जन्म एवं मृत्यु प्रमाण पत्र व अन्य सुविधाओं को लेकर उससे संबंधित एप के बारे में जानना चाहता है तो उसे परेशान नहीं होना पड़ेगा। उसकी समस्या का समाधान एप द्वारा हो जाएगा। मीटिंग में निगमायुक्त ने बताया कि स्वच्छता को ध्यान में रखते हुए इसी की तर्ज पर नगर निगम ने स्वच्छ फरीदाबाद मोबाइल ऐप का शुंभारंभ भी 25 फरवरी को किया जाएगा।

अगर आपके वार्डो के आसपास गंदगी जमा है और कई दिनों से शिकायत के बाद भी कचरा नहीं उठाया जा रहा है  तो इस पर फोटो खींचकर आपको अपलोड करना होगा साथ ही मौके की जानकारी भी लिखनी होगी। इसके बाद अपलोड किया गया फोटो जहां निगम निगम के संबंधित अधिकारियों को फोटो और उसकी लोकेशन तत्काल भेजी जाएगी। ऐसे हालात में निगम अधिकारियों को तत्काल कार्रवाई भी करनी होगी। अगर अधिकारी उक्त काम में किसी भी प्रकार की लापरवाही बरतते है तो उनके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी।निगमायुक्त ने बताया कि स्वच्छ फरीदाबाद मोबाइल ऐप को प्ले स्टोर से स्वच्छता एप के नाम से डाउनलोड कर सकते है। इसके बाद जरूरी जानकारी देकर एप्प को एक्टिवेट करें और फोटो का आॅपशन क्लिक कर मौके पर कचरे का फोटो खींचकर उसकी जानकारी और शिकायत लिख सकते है। स्वच्छ फरीदाबाद मोबाइल ऐप में सफाई व्यवस्था के प्रमाण पत्र के तौर पर सिद्ध होगी। इसके माध्यम से कोई भी फरीदाबाद जिले से संबंधित वार्डवासी निगम क्षेत्र में गंदी नाली, अस्वच्छ सड़क या गंदगी के ढेर की फोटो लोड कर सकता है। 

Related posts

फरीदाबाद: मानव रचना ने अंतर्राष्ट्रीय जल शिखर सम्मेलन का आयोजन किया।

Ajit Sinha

पुलिस कमिश्नर राकेश ने 11 पुलिसकर्मियों को चुना “हीरो ऑफ द वीक” नगद इनाम व प्रथम श्रेणी प्रशंसा पत्र देकर किया सम्मानित

Ajit Sinha

नहरपार हुआ भाजपा उम्मीदवार नरेंद्र गुप्ता का जोरदार स्वागत, आपकी उम्मीदों पर खरा उतरकर करूंगा आपकी सेवा : नरेंद्र गुप्ता

Ajit Sinha
//glaultoa.com/4/2220576
error: Content is protected !!