Athrav – Online News Portal
अपराध फरीदाबाद

फरीदाबाद ब्रेकिंग: एयर इंडिया में आमजनों को नौकरी लगाने के नाम साइबर ठगी के मामले में दो लड़कियां सहित 9 लोग अरेस्ट।


अजीत सिन्हा की रिपोर्ट
फरीदाबाद: साइबर थाना बल्लभगढ़ टीम ने आज एयर इंडिया कंपनी में नौकरी लगवाने के नाम पर आमजनों से साइबर ठगी को अंजाम देने वाले गिरोह का पर्दाफाश करते हुए गिरोह के 9 सदस्यों को अरेस्ट किया है। ये खुलासा आज डीसीपी अमित यशवर्धन ने अपने कार्यालय में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में किए हैं। डीसीपी अमित यशवर्धन ने पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि अरेस्ट किए गए आरोपितों के नाम अभय, रवि, विजय उर्फ बबलू, हिमांशु, नितेश, राहुल, रजनीश, खुशबू तथा रिया है। आरोपित अभय तथा रवि उत्तर प्रदेश के नोएडा व अन्य आरोपित गाजियाबाद के रहने वाले हैं। ये सभी आरोपित बहुत ही शातिर किस्म के अपराधी हैं जो भोले- भाले लोगों को साइबर ठगी के जाल में फंसाकर उनके पैसे ऐंठ लेते हैं। आरोपितों फेसबुक के माध्यम से नौकरी ढूंढ रहे आम जनों को अपना निशाना बनाते हैं।

आरोपित इन युवाओं को अपने झांसे में लेते हैं और अपने आपको एयर इंडिया के अधिकारी बताकर सामने वाले व्यक्ति से संपर्क करते हैं। आरोपित अपने आपको एयर इंडिया कंपनी का अधिकारी बनाकर अलग-अलग डिपार्टमेंट से कॉल करते हैं और उन्हें एक अच्छी नौकरी का सपना दिखाकर अपने झांसे में ले लेते हैं। बेरोजगार युवा नौकरी के लालच में आकर उनकी बात मान लेता है जिसके पश्चात आरोपित एयर इंडिया का एक फर्जी जॉब लेटर तैयार करके उस व्यक्ति को भेजते हैं और सामने वाला व्यक्ति समझता है कि यह एयर इंडिया का असली ऑफर लेटर है। इसके पश्चात आरोपित ट्रेनिंग, आईडी कार्ड, फीस इत्यादि का बहाना बनाकर उस व्यक्ति से पैसों की मांग करते हैं और पीड़ित आरोपितों के जाल को समझ नहीं पाता और उनकी बातों में आकर उन्हें पैसे भेजता रहता है। इस प्रकार आरोपितों ने फरीदाबाद की रहने वाली एक महिला के साथ ₹41349 की ठगी की वारदात को अंजाम दिया था। महिला को जब इस ठगी का एहसास हुआ तो उसने इसकी शिकायत साइबर थाने में की जिसके पश्चात आरोपितों के खिलाफ धोखाधड़ी की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज करके मामले की जांच शुरू की गई। उनका कहना हैं कि आरोपितों की धरपकड़ के लिए थाना प्रभारी नवीन कुमार के नेतृत्व में पुलिस टीम का गठन किया गया जिसमें एसआई विकास व प्रवीण, एएसआई अनूप, दीपक, मुख्य सिपाही भूपेंद्र व नावेद, सिपाही आजाद, प्रदीप, विक्रांत तथा महिला सिपाही मनीषा का नाम शामिल था। पुलिस ने इस मामले में कड़ी मशक्कत करते हुए तकनीकी व गुप्त सूत्रों की सहायता से मामले में शामिल उक्त आरोपितों को नोएडा व गाजियाबाद से अरेस्ट कर लिया जिसमें 2 लड़कियां भी शामिल थी। दोनों लड़कियों को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया, वहीं अन्य आरोपितों को 5 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया जिसमें पुलिस पूछताछ में सामने आया कि आरोपितों के फर्जी बैंक खातों में 20 लाख रुपए का लेनदेन पाया गया है और आरोपितों द्वारा उत्तर प्रदेश, हरियाणा, दिल्ली, गुजरात, महाराष्ट्र सहित देश के कई अन्य इलाकों से साइबर ठगी की वारदातों का किया जाना पाया गया है। पुलिस द्वारा संबंधित थानों को इस बारे में सूचना भेजी जा रही है। पुलिस पूछताछ पूरी होने के पश्चात आरोपितों को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है।

Related posts

प्लाज़्मा की कालाबाजारी करने वाले गिरोह के दो सदस्य अरेस्ट , एक यूनिट प्लाज्मा, ब्लड सैंपल, एक कार, दो मोबाइल बरामद।

Ajit Sinha

सोसायटी में पिता-पुत्र की डंडों से पिटाई करने वाले 8 गार्ड अरेस्ट, दो आरडब्ल्यूए के पदाधिकारी का नाम एफआईआर में शामिल।

Ajit Sinha

कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा ने किया हरको बैंक के नवनियुक्त चेयरमैन हुकम सिंह भाटी को सम्मानित

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//dolatiaschan.com/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x