Athrav – Online News Portal
अपराध नोएडा

पूर्व सीएम कमलनाथ के चचेरे भाई-भाभी के हत्या का खुलासा, दो बदमाश मुठभेड़ के बाद अरेस्ट-कारण जानने के देखें वीडियो

अरविन्द उत्तम की रिपोर्ट                                                                                            ग्रेटर नोएडा के सेक्टर- अल्फा-2 में रहने वाले एमपी के पूर्व सीएम कमलनाथ के चचेरे भाई और भाभी की हत्या करने वाले दो आरोपितों  को गिरफ्तार कर किया है। इनमें  से एक को पुलिस ने एटीएस गोल चक्कर के पास पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान पैर में गोली लगने के बाद लहूलुहान अवस्था में गिरफ्तार किया है, जब कि हत्या और लूट का मास्टर माइंड और एक अन्य बदमाश फरार होने ने सफल हो गए।

पुलिस ने घायल बदमाश को सिविल अस्पताल में ईलाज के लिए भर्ती कराया है और फरार बदमाशों की सरगर्मी से तलाश कर रही है। पुलिस ने आरोपितों से लूटे गए 13 हजार रुपये नकद ,दस्तावेज ,आभूषण, चोरी की बाइक व तमंचा आदि बरामद किए है। पुलिस कमिश्नर ने हत्याकांड का खुलासा करने  वाली टीम को  50 हजार रुपये के इनाम देने की घोषणा की है।

मुठभेड़ के बाद इलाज के अस्पताल ले जा रही पुलिस  गिरफ्त में बदमाश विशन भदौरिया है, जब कि इस हत्या और लूट का मास्टर माइंड रोहित और सुभाष फरार होने में  सफल हो गए । पुलिस के अनुसार पुलिस टीम को सीडीआर, सर्विलांस व संदिग्ध आरोपितों  से पूछताछ में ठोस सुराग मिले थे। जिसके आधार पुलिस ने देव शर्मा को गिरफ्तार किया था, देव शर्मा ने होटल और कैब अपने मोबाइल फोन से बुक की थी। देव शर्मा से मिले इनपुट पर आरोपित कोर्ट में सरेंडर के लिए वकील से संपर्क करने जा रहे थे। इसके बाद पुलिस ने एटीएस गोल चक्कर के पास उसे घेर लिया,अपने आप को घिरा देख बदमाशों ने फायरिंग की जसकी जवाबी कार्रवाई में विशन भदौरिया घायल हो गया,

जबकि रोहित और सुभाष फरार हो गए। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि पूछताछ में पता लगा है कि हत्यारोपी अस्पताल का वार्ड बॉय और उसी अस्पताल का सुरक्षाकर्मी है। हत्यारोपी रोहित की जान पहचान मृतक नरेंद्र नाथ से शराब पीने के दौरान दोस्ती हुई थी, जिसके बाद एक हत्यारोपी को मृतक नरेंद्र नाथ ने दो लाख रुपए उधार दिए थे। उधार के दो लाख रूपए ना देना पड़े और घर से मोटा सामान लूटने  के लिए इस दोहरे हत्याकांड को अंजाम दिया गया।

इसके अलावा रोहित का घर में आना जाना मृतका सुमन नाथ को पसंद नहीं था। सुमन ने एक दो बार उसे बुरी तरह से फटकार लगा कर भगाया था। जिससे वह खफा था और अपने साथियो के साथ मिलकर इस घटना को अंजाम दिया था। उन्होंने मकान के बेसमेंट में बैठकर कारोबारी नरेंद्र नाथ के साथ पहले शराब पी। इसके बाद हमलावरों ने कारोबारी नरेंद्र नाथ और उनकी पत्नी सुमन नाथ की हत्या कर दी। हमलावरों ने हत्या करने के बाद आरोपितों ने घर से नकदी, आभूषण, डेबिट कार्ड, मोबाइल, जरूरी दस्तावेज आदि सभी लूटकर ले गए। डीसीपी का कहना है कि फरार बदमाशों की तलाश की जा रही है। पकड़े गए आरोपितों  से लूटे गए 13 हजार रुपये, दस्तावेज, आभूषण,चोरी की बाइक व तमंचा आदि बरामद किए गए है। पुलिस कमिश्नर हत्या कांड का खुलासा करने  वाली टीम को 50 हजार रुपये इनाम देने की घोषणा की है।

Related posts

बहुचर्चित मेहंदी व्यापारी अंकित हत्या के मुख्य आरोपी को क्राइम ब्रांच डीएलएफ ने 4 साल 4 महीने के बाद किया गिरफ्तार।  

Ajit Sinha

घोटालेबाज के अरेस्ट पर विधायक नीरज शर्मा बोले, छोटी मछलियों को पकड़कर बड़े मगरमच्छों को बचाना चाहती है सरकार

Ajit Sinha

फरीदाबाद: बंद पेटियों में लोहे का सामान बता कर अंग्रेजी शराब की बोतलों को ट्रांसपोर्ट के जरिए बिहार ले जा रहा था ,बरामद ।

Ajit Sinha
//thefacux.com/4/2220576
error: Content is protected !!