Athrav – Online News Portal
गुडगाँव

गुरुग्राम जिला में ‘आओ करें -जल पर चर्चा’ नामक पहल की शुरुआत की जाएगी।

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट
गुरूग्राम:विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर गुरुग्राम जिला में ‘आओ करें -जल पर चर्चा’ नामक पहल की शुरुआत की जाएगी। इस मुहिम के तहत जिला में लगभग 100 स्थानों पर जल संरक्षण को लेकर चर्चा होगी। इस चर्चा में जिला वासियों को जल संरक्षण संबंधी विभिन्न सरकारी योजनाओं की जानकारी देने के साथ साथ इस संबंध में अन्य महत्वपूर्ण जानकारी दी जाएगी। यह जानकारी आज गुरुग्राम के उपायुक्त अमित खत्री ने लघु सचिवालय में आयोजित ‘आओ करें-जल पर चर्चा’ नामक मुहिम को लेकर आयोजित प्रशिक्षण कार्यक्रम में दी। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में जल संरक्षण को लेकर विस्तार से चर्चा की गई। प्रशिक्षण कार्यक्रम में पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न जल संरक्षण योजनाओं की जानकारी दी गई। प्रशिक्षण कार्यक्रम में पहुंचे जल संरक्षण वालंटियरो ने भी अपने विचार रखे। प्रशिक्षण कार्यक्रम में जल प्रबंधन को लेकर चलाए जा रहे कार्यक्रमों को बेहतर बनाने पर भी विचार विमर्श किया गया।

श्री खत्री ने बताया कि जिला प्रशासन का प्रयास है कि जल प्रबंधन को लेकर चलाई जा रही सरकारी योजनाएं आम जनता तक धरातल स्तर पर पहुंचे और उन्हें इस मुहिम से जोड़ा जा सके। उन्होंने कहा कि लोग जल प्रबंधन की योजनाओं को बेहतर बनाने के लिए भी अपने सुझाव दे सकते हैं। जिला प्रशासन अच्छे सुझावों पर अवश्य विचार विमर्श करके अमल में लाएगा। उन्होंने कहा कि जल संरक्षण में कोई भी संस्थान आरडब्लूए या जनप्रतिनिधि अपना सहयोग दे सकता है और इसी दिशा में ‘आओ करें -जल पर चर्चा ‘ नामक मुहिम की शुरुआत की जा रही है। उन्होंने कहा कि जल संरक्षण को लेकर जिला प्रशासन द्वारा सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट भी लगाए जा रहे हैं ताकि पानी को रिसाइकल कर उसका सदुपयोग किया जा सके। उन्होंने कहा कि इस मुहिम के माध्यम से आम नागरिक में जल संरक्षण को लेकर जागरूकता बढ़ेगी और वे जल के महत्व को समझते हुए जिला प्रशासन की इस मुहिम के साथ जुड़ेंगे। उन्होंने कहा कि जनसाधारण के सहयोग के बिना इस मुहिम को सफल नहीं बनाया जा सकता इसलिए जरूरी है कि आम नागरिक इस अभियान को सफल बनाने के लिए अपनी भागीदारी सुनिश्चित करें।



उपायुक्त ने कहा कि गुरुग्राम जिला का भूमिगत जलस्तर काफी नीचे जा चुका है जिस में सुधार लाए जाने के लिए इस प्रकार के पहल शुरू किए जाने अत्यंत आवश्यक है। उन्होंने कहा कि जिला गुरुग्राम में ऐसे बहुत से कॉरपोरेट व स्वयंसेवी संस्थाएं हैं जो जल संरक्षण की दिशा में प्रयासरत हैं । इस मुहिम के माध्यम से जिला की उन सभी संस्थाओं को एक प्लेटफार्म मिलेगा और वे एकजुट होकर इस दिशा में आगे बढ़ेंगे। आज आयोजित प्रशिक्षण कार्यक्रम में लगभग 87 वॉलिंटियरो ने अपना रजिस्ट्रेशन करवाया। प्रशिक्षण कार्यक्रम में पहुंचे वालंटियरो को अलग अलग सेशन लगाकर जल संरक्षण के बारे में जागरुक किया गया। वॉलिंटियरो को लोगों से किस प्रकार इंटरेक्शन करना है, के बारे में विस्तार से बताया गया। ये वॉलिंटियर जिला में आरडब्ल्यूए, झुग्गी झोपड़ियों, कॉरपोरेट ऑफिसेज आदि में जाकर लोगों को जल प्रबंधन के बारे में जागरूक करेंगे। इस अवसर पर उपायुक्त के अलावा जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी नरेंद्र सारवान, हीरो मोटोकॉर्प से सीओओ रवि पाहूजा, शुभी, अनुप्रिया व शशांक कालरा सहित कई गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

Related posts

ऑडी कार में एक शख्स की ओढ़ी हुई चादर से गला घोंट कर हत्या करने और  लाश को गंदे नाले में फेंकने के जुर्म में दो अरेस्ट। 

Ajit Sinha

विदेशी म्यूजिशियन लाखों रूपए के अफीम और चरस के साथ गिरफ्तार

Ajit Sinha

एक पति ने अपने नेता पत्नी की गोली मार कर हत्या कर दी, पति के खिलाफ केस दर्ज, प्रेम प्रसंग से नाराज था।   

Ajit Sinha
//kaushooptawo.net/4/2220576
error: Content is protected !!