Athrav – Online News Portal
राजनीतिक हरियाणा

मां नैना और पिता अजय संग नामांकन भरने पहुंचे दुष्यंत चौटाला

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट
हिसार: हिसार लोकसभा क्षेत्र के चुनावी मैदान में उतरे दुष्यंत चौटाला अपने पिता डा. अजय सिंह चौटाला और मां नैना चौटाला संग अपना नामांकन भरने पहुंचे। यह दूसरा मौका है जब दुष्यंत चौटाला हिसार लोकसभा क्षेत्र से अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। इससे पहले दुष्यंत चौटाला 2014 में इंडियन नेशनल लोकदल की टिकट पर चुनाव लड़ कर सांसद बने थे। चार माह पूर्व अस्तित्व में आई जननायक जनता पार्टी की टिकट पर इस बार दुष्यंत प्रत्याशी बने हैं। नामांकन भरने से पहले दुष्यंत चौटाला ने अपनी मां नैना चौटाला के चरण स्पर्श किए। नैना ने दुष्यंत को गले लगा लिया और माथा चूम कर जीत का आशीर्वाद दिया। इसके बाद दुष्यंत ने अपने पिता अजय चौटाला के पांव छूए तो अजय सिंह ने दुष्यंत को गले लगा लिया। शनिवार को सवा दो बजे दुष्यंत चौटाला ने लघु सचिवालय में हिसार लोकसभा क्षेत्र के रिटर्निंग आफिसर कार्यालय में अपना नामाकंन दाखिल किया। सांसद दुष्यंत चौटाला ने नामांकन के दो सेट दाखिल किए। दुष्यंत चौटाला के साथ नामांकन भरवाने के लिए पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष सरदार निशान सिंह, आप के प्रदेशाध्यक्ष नवीन जयहिंद भी मौजूद रहे।

बाद में पत्रकारों से बातचीत करते हुए सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि मैंने हिसार लोकसभा की जनता के लिए पांच वर्ष तक ईमानदारी, मेहनत व नए विजन के साथ काम किया है। उन्होंने कहा कि यदि मेरा काम जनता को पंसद आया, तो हिसार की जनता मुझे दोबारा आशीर्वाद देगी। उन्होंने कहा कि आम-जन गठबंधन ने अभी तक घोषित सभी सीटों पर युवा प्रत्याशियों को मैदान में उतारा है। जनभावनाएं बदलाव चाहती हैं और भाजपा प्रत्याशियों का प्रदेश के कोने-कोने में विरोध हो रहा है। प्रदेश की जनता सुरक्षा, प्रगति, उन्नति और समृद्धि चाहती है। उन्होंने बताया कि आज सिरसा व हिसार लोकसभा क्षेत्र के लिए पार्टी प्रत्याशियों ने नामांकन भरा है। बाकी सभी लोकसभा सीटों पर जेजेपी और आम आदमी पार्टी आगामी 22 व 23 अप्रैल को नामांकन पत्र भरेगी। हरियाणा में कांग्रेस के साथ महागठबंधन को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में दुष्यंत ने एक बार स्पष्ट कर दिया है कि जेजेपी कांग्रेस के साथ नहीं जाएगी। हमने चार सीटों पर अपने प्रत्याशी तय कर दिए हैं और बाकी सीटों पर जल्द ही अपने प्रत्याशी घोषित कर देगी।

आम आदमी पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष नवीन जयहिंद ने कहा कि हिसार लोकसभा क्षेत्र से उतारे भाजपा प्रत्याशी की नौकरी भी गई और भाजपा भी गई। उन्होंने हिसार लोकसभा क्षेत्र में सांसद दुष्यंत चौटाला ने विपक्ष में रहते हुए जो काम कर सकते थे, उससे भी ज्यादा काम किए। उन्होंने कहा कि कुलदीप बिश्नोई अपने बेटे को प्रैक्टिस करवाने के लिए चुनाव लड़ा रहे हैं। कांग्रेस में कोई भी नेता चुनाव ही नहीं लडऩा चाहता चाहे कुलदीप बिश्नोई स्वयं हो, नवीन जिंदल हों या कोई और कांग्रेसी नेता। उन्होंने कहा कि जेेजेपी-आप गठबंधन भाजपा का खूंटा पाड़ कर ही दम लेगा। उन्होंने भाजपा नेता द्वारा अपने पन्ना प्रमुखों को मुर्दों के वोट डलवाने संबंधी दिए निर्देशों की बाबत कहा कि बीजेेपी चाहे भूतों की वोट डलवा ले,फिर भी वो हारेगी और दुष्यंत चौटाला एक लाख से अधिक मतों से विजयी होंगे।
…पांच साल में एक इंच जमीन भी नहीं खरीद पाए दुष्यंत
खेती से जुड़े दुष्यंत पिछले पांच वर्ष की अवधि के दौरान एक इंच जमीन या प्लॉट का टुकड़ा भी नहीं खरीद पाए। उनके पास पांच वर्ष पहले जमीन थी आज भी वे उतनी ही जमीन के मालिक हैं। उन्होंने अपने नामांकन के साथ जमा करवाए प्रोपर्टी डिटेल में यह जानकारी दी है। इतना ही नहीं उन्होंने पिछले पांच सालों में नया मकान भी नहीं खरीदा है। हालांकि पिछले लोकसभा चुनाव में दाखिल किए गए शपथ पत्र के मुकाबले इस बार दुष्यंत की अचल संपत्ति की कीमत बढ़ी है। पिछले नामांकन पत्र में दुष्यंत ने जो कृषि भूमि व अन्य अचल संपत्ति दर्शाई थी, उस संपत्ति में कोई बढ़ोतरी नहीं हुई है। इस अचल संपत्ति की कीमत वर्ष 2014 में 26 करोड़ 68 लाख रूपये थी अब ज्यों-ज्यों मार्केट वैल्यू बढ़ी है त्यों-त्यों इस अचल संपत्ति की कीमत अब बढ़ कर लगभग 32 करोड़, दो लाख रूपये हो गई है। दुष्यंत के पास बैंक बैलेंस, एफडीआर, एलआईसी, मोटर व्हीकल, शेयरों में निवेश, ज्वैलरी व लेनदेन पिछली बार लगभग 9 करोड़ 45 लाख था जोकि अब लगभग 15 करोड़ 19 लाख हो गया है। पिछली बार के मुकाबले इस बार चल संपत्ति बढऩे का मुख्य कारण सांसद को मिलने वाले वेतन, भत्ते, कृषि आय, शेयरों की कीमत तथा ब्याज के रूप में होन वाली आय शामिल है।

सांसद को सालाना करीब 25 लाख रूपये वेतन व भत्तों के पांच सालों में करीबन सवा करोड़ रूप में मिले हैं वहीं दुष्यंत को अपनी कृषि भूमि से करीब हर वर्ष 30 लाख रूपये की आमदनी के हिसाब से डेढ़ करोड़ रूपये हुई। इसके अलावा पांच साल में सांसद दुष्यंत को उसकी एफडी व जमा राशि से 60 लाख रूपये से ज्यादा ब्याज के रूप में आम दनी हुई है। वर्तमान समय में दुष्यंत के पास करीब 3 लाख 55 हजार रूपये की नकदी है। सांसद दुष्यंत चौटाला पर किसी प्रकार का कोई आपराधिक मुकद्दमा दर्ज नहीं है यह विवरण उन्होंने अपने नामांकन पत्र में दिया है। दुष्यंत चौटाला के पास एक ही अपनी गाड़ी टोयटा की फारच्यूनर गाड़ी है। यह गाड़ी दुष्यंत चौटाला के नाम है। पिछले चुनावों में दुष्यंत ने इसी गाड़ी से चुनाव प्रचार किया था। पिछले पांच सालों में दुष्यंत एक भी नई गाड़ी नहीं खरीद पाए हैं।

Related posts

व्हाट्सएप लिंक के जरिए लाखों की ठगी करने वाले अरेस्ट।

Ajit Sinha

हरियाणा को बनाएगें क्राइम फ्री स्टेट, एसटीएफ को और मजबूत बनाया जाएगा-गृह मंत्री अनिल विज

Ajit Sinha

नशा कारोबारियों पर हरियाणा पुलिस का प्रहार: 5 क्विंटल डोडा  पोस्त और 64 किलोग्राम गांजा बरामद  

Ajit Sinha
//kaushooptawo.net/4/2220576
error: Content is protected !!