Athrav – Online News Portal
जम्मू दिल्ली नई दिल्ली राष्ट्रीय

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आज ‘जम्मू एवं कश्मीर जन- संवाद वर्चुअल रैली को संबोधित किया

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट
केंद्रीय रक्षा मंत्री और भारतीय जनता पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने आज ‘जम्मू एवं कश्मीर जन- संवाद वर्चुअल रैली को संबोधित किया और जम्मू एवं कश्मीर की जनता एवं पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ कई विषयोंपर चर्चा की। उन्होंने धारा 370 के उन्मूलन के बाद जम्मू-कश्मीर की बदलती तस्वीर पर चर्चा करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार की उपलब्धियों पर विस्तार से प्रकाश डाला। उन्होंने नकारात्मक राजनीति की पर्याय बन चुकी कांग्रेस पर भी जनता को गुमराह करने को लेकर जोरदार हमला बोला। केंद्रीय रक्षा मंत्री ने देश की सुरक्षा में लगे जांबाज जवानों की अदम्य वीरता और उनके बलिदान को नमन करते हुए श्रद्धेय प्रेमनाथ डोगरा जी और मोहम्मद मकबूल शेरवानी जिन्होंने 1947 में कश्मीर में तिरंगा फहराया था, को भी सादर प्रणाम किया। उन्होंने आतंकवादी हमले में शहीद सरपंच अजय पंडिता की पावन स्मृति को भी नमन करते हुए अपने उद्बोधन की शुरुआत की।
सिंह ने कहा की प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार के छः वर्ष पूरे हुए हैं। दूसरे कार्यकाल का पहला वर्ष अभी-अभी पूर्ण हुआ है और भारतीय जनता पार्टी की परंपरा रही है कि हम देशवासियों को समय-समय पर अपने कामों का रिपोर्ट कार्ड बताते हैं। उन्होंने कहा कि दुनिया के कई बड़े-बड़े देश कोविड-19 से लड़खड़ा गए लेकिन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारत ने जिस तरह एकजुट होकर कोविड के खिलाफ लड़ाई लड़ी है, वह सराहनीय है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी भारत के प्रयासों को रेखांकित किया है। यदि समय पर देश में लॉकडाउन न हुआ होता तो भयावहता का अंदेशा भी नहीं लगाया जा सकता था। आज भारत बड़ी मात्रा में न केवल पीपीई किट और मास्क का उत्पादन कर रहा है बल्कि दूसरे देशों को निर्यात भी कर रहा है। आज देश में वेंटिलेटर भी बनाए जा रहे हैं। जम्मू-कश्मीर भी कोरोना के खिलाफ लड़ाई को पूरी तत्परता के साथ लड़ रहा है। गोवा के बाद यदि किसी संघ शासित प्रदेश की सबसे अधिक टेस्टिंग रेशियो है तो वह जम्मू-कश्मीर है। सिंह ने कहा कि 1952 में हमारा पहला घोषणापत्र आया था। हमने तब धारा 370 का मुद्दा उठाया था। डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी जी के नेतृत्व में जन संघ ने भारत की एकता और अखंडता के लिए आंदोलन चलाया। देश में एकविधान, एक प्रधान और एक निशान के लिए श्रद्धेय डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी जी ने अपना सर्वोच्च बलिदान दिया। वर्षों से यह मुद्दा था लेकिन हल नहीं हो रहा था। विपक्ष इसे लेकर भाजपा का मजाक भी उड़ाता था कि भाजपा केवल वोट के लिए इस तरह के मुद्दे उछालती है लेकिन बहुमत मिलते ही हमारी सरकार ने धारा 370 और 35A मुद्दे को हमेशा-हमेशा के लिए ख़त्म कर दिया। हम जो कहते हैं, कर के दिखाते हैं। स्वतंत्र भारत की राजनीति की यदि कोई समीक्षा करे तो पता चलेगा कि राजनीतिक पार्टियों और नेताओं ने लोगों को झूठे आश्वासन और प्रलोभनों के सिवा कुछ भी नहीं दिया लेकिन भारतीय जनता पार्टी हिंदुस्तान की एकमात्र ऐसी पार्टी है जो जनता से किये हर वादे को पूरा कर दिखाती है। भारतीय जनता पार्टी हिंदुस्तान की राजनीति में कभी भी विश्वास का संकट नहीं आने देगी। तभी तो धारा 370 के उन्मूलन पर किसी ने लिखा- “दर्द की रात गई, गम का खजाना भी गया, मोदी तेरे हिम्मत से यह दाग पुराना भी गया”।

Related posts

मेट्रो स्टेशनों पर इलेक्ट्रिक-साइकिल सेवाएं फर्थर का विस्तार अंतिम मील कनेक्टिविटी सुनिश्चित करने के लिए

webmaster

मासूम बच्चे की लाश मकान के छत के ऊपर लगे एक पानी की टंकी में मिली, हत्या, पुलिस की जांच जारी।

webmaster

मुंबई पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइड केस में बोले- जानने के लिए पढ़े  

webmaster
//dooloust.net/4/2220576
error: Content is protected !!