Athrav – Online News Portal
हरियाणा

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने एक अप्रैल 2017 से पहले के गठित सभी किसान क्लब को तुरंत प्रभाव से भंग किया।

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
चंडीगढ़: हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि प्रदेश में किसानों की खुशहाली के लिए किसान क्लब का गठन किया गया है। ऐसे में क्लब की अहम भूमिका होती है जिसके कारण इनका पुनर्गठन निधारित अवधि में होना चाहिए। उन्होंने कहा कि एक अप्रैल 2017 से पहले के गठित सभी किसान क्लब को तुरंत प्रभाव से भंग किया जाता है और पिछले तीन साल में जिन किसान क्लबो में चुनाव होकर पुनर्गठन हुआ है, वे ही मान्य होंगे। वर्षों से बिना कार्य के चल रहे किसान क्लब भंग होंगे। मुख्यमंत्री ने ये आदेश आज गुरुग्राम में आयोजित जिला लोक संपर्क एवं कष्ट निवारण समिति की बैठक में परिवादों की सुनवाई करते हुए दिए। उन्होंने बैठक में रखे गए दस परिवादों की सुनवाई की और मौके पर ही विभिन्न विभागों से संबंधित शिकायतों पर संज्ञान लेते हुए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। 

कष्ट निवारण समिति की बैठक में रखे गए गांव कादीपुर से संबंधित परिवाद पर सुनवाई करते हुए मुख्यमंत्री ने आदेश दिए कि नगर निगम क्षेत्र में स्थित सभी डेयरी से निकलने वाले गोबर को नगर निगम की ओर से रोजाना दिन में दो बार उठाया जाना सुनिश्चित किया जाए। स्वच्छता की दिशा में उठाए जाने वाले इस कदम में संबंधित डेयरी संचालक से उनके पशु संख्या अनुसार देय राशि निर्धारित की जाए। एक अन्य परिवाद का निपटारा करते हुए उन्होंने कहा कि शहरी व ग्रामीण क्षेत्र में अतिक्रमण व अवैध निर्माण की स्थिति पैदा न हो, इसके लिए संबंधित विभाग नियमित तौर पर अपने अधिकार क्षेत्र में मॉनिटरिंग करें। अतिक्रमण व अवैध निर्माण करने का किसी को कोई अधिकार नहीं है। उन्होंने शहर की सडक़ों पर यातायात व्यवस्था को सुचारू बनाए रखने के लिए पुलिस अधिकारियों को नियमानुसार कार्रवाई करने के भी आदेश दिए। सैक्टर 92 में निजी डेवलपर्स से संबंधित परिवाद पर सुनवाई करते हुए मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि इस रिहायशी कालोनी में रहने वाले लोगों द्वारा आरडब्लूए का गठन किया जाए। साथ ही यहां मूलभूत सुविधाएं प्रदान करने के लिए उपायुक्त स्वयं मामले की पड़ताल करके ठोस कदम उठाएं। उन्होंने नेशनल हाईवे पर स्थित गांव बिलासपुर चौक पर जलभराव की स्थिति का स्थाई समाधान करने के लिए गांव के तालाब की खुदाई करवा कर पानी की समुचित निकासी के आदेश भी दिए।        

गुरुग्राम से निकल रहे राष्ट्रीय राजमार्ग से संबंधित विभिन्न पहलुओं पर आई शिकायतों पर संज्ञान लेते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि बिलासपुर चौक,धारूहेड़ा चौक व बावल चौक पर फ्लाईओवर तथा ग्वाल पहाड़ी में फरीदाबाद रोड पर वाहनों की अधिकता के कारण फ्लाइओवर के निर्माण सहित राष्ट्रीय राजमार्ग के अन्य बिंदुओं पर वे स्वयं केंद्रीय सडक़ एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी से मुलाकात करके फ्लाईओवर बनवाने बारे बात करेंगे। उन्होंने उपस्थित लोगों को विश्वास दिलाया कि जल्द ही राष्ट्रीय राजमार्ग से संबंधित शिकायतों का समाधान किया जाएगा। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि कोरोना वायरस से आमजन को घबराने की जरूरत नहीं है। सरकार की ओर से पुख्ता प्रबंध किए गए हैं और हर परिस्थिति से निपटने के लिए कदम उठाए जा रहे हैं। उन्होंने गुरुग्राम सहित हरियाणा के अन्य शहरों में स्थित मल्टीनेशनल कंपनी संचालकों से अपील की है कि वे कोरोना वायरस से बचाव में स्वास्थ्य सुरक्षा के अंतर्गत अपनी कंपनी के अधिकारियों व कर्मचारियों, विशेष रूप से आईटी  कंपनियों के कर्मियों को वर्क एट हॉम के तहत कार्य करवाएं और कंपनी में कर्मियों की उपस्थिति कम रखें। उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में कोरोना वायरस से बचाव को लेकर आवश्यकता अनुसार स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध हैं।

Related posts

हरियाणा पुलिस ने उड़ीसा से तस्करी कर लाई जा रही 204 किलो गांजा पत्ती जब्त  

Ajit Sinha

ब्रेकिंग न्यूज़: हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने आज 105 पटवारियों को किया सम्मानित

Ajit Sinha

हरियाणा पुलिस को निर्भया फंड में मिले 13 करोड़ 66 लाख को महिला सुरक्षा के लिए शत प्रतिशत खर्च किए गए हैं। 

Ajit Sinha
//nossairt.net/4/2220576
error: Content is protected !!