Athrav – Online News Portal
अपराध फरीदाबाद हरियाणा

चंडीगढ़ ब्रेकिंग: 99% अंक लेकर मासिक रैंकिंग में प्रदेश पुलिस पहले स्थान पर: सीसीटीएनएस प्रगति डैशबोर्ड में पाए 100%

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
चंडीगढ़:प्रदेश पुलिस ने सभी राज्यों से आगे निकलते हुए अखिल भारतीय स्तर पर जारी नवीनतम अपराध एवं अपराधी ट्रैकिंग नेटवर्क (सीसीटीएनएस) प्रगति रैंकिंग में 99 प्रतिशत अंक लेकर पहला स्थान प्राप्त किया है। इस वर्ष सितम्बर माह में उत्तर प्रदेश व दिल्ली को पछाड़ते हुए प्रदेश पुलिस शीर्ष स्थान पर रही। यह रैंकिंग हर माह एनसीआरबी, भारत सरकार द्वारा जारी की जाती है। विदित है कि हरियाणा पुलिस ने अखिल भारतीय सीसीटीएनएस रैंकिंग में इस वर्ष मई माह में भी बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए प्रथम स्थान प्राप्त किया था। अति. पुलिस महानिदेशक, स्टेट क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो निदेशक ओ पी सिंह, आईपीएस ने सीसीटीएनएस परियोजना कार्यान्वयन में शामिल अधिकारियों व पुलिसकर्मियों को बधाई दी है। यह प्रणाली डिजिटल तरीके से अपराधियों की ट्रैकिंग और पुलिस जांच को अपनाने से संबंधित है। प्रथम स्थान आने पर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक शत्रुजीत कपूर ने समस्त पुलिस विभाग की पीठ थपथपाई है।

पुलिस प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि इंफ्रास्ट्रचर, सीसीटीएनएस डेटाबेस व नेफिस की सभी केटेगरी में हरियाणा पुलिस ने 100 प्रतिशत अंक प्राप्त किए  है। इसके अलावा ,प्रदेश पुलिस ने कैपेसिटी बिल्डिंग में भी 100 प्रतिशत अंक प्राप्त किए  है। प्रदेश के सभी थाने सीसीटीएनएस से जुड़ गए है। एनसीआरबी द्वारा जारी की गई रैंकिंग में हरियाणा पुलिस 99.90 प्रतिशत अंक प्राप्त कर प्रथम स्थान पर रही, वहीँ उत्तर प्रदेश 99.4 प्रतिशत, दिल्ली 98.46 प्रतिशत पाकर क्रमश दूसरे व तीसरे स्थान पर रहे। इसके अतिरिक्त मध्य प्रदेश 96.62 प्रतिशत व महाराष्ट्र 95.34 प्रतिशत पाकर, क्रमश चौथे व पांचवे स्थान पर रहा है। आगे जानकारी देते हुए बताया है कि प्रदेश पुलिस ने विभिन्न मापदंडों जैसे कि कोर्ट में एफआईआर देने, थानों में रिपोर्ट जनरेट करना, कोर एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर में गिरफ्तार व गुमशुदा व्यक्ति के फोटो की एंट्री करने में, स्टेट सिटीजन पोर्टल सर्विसेज़, थानों का नेशनल डेटाबेस, 1930 हेल्पलाइन का रिस्पांस में पूर्ण अंक प्राप्त किए  है। एससीआरबी निदेशक ओ पी सिंह, आईपीएस, ने बताया कि प्रदेश के सभी 383 थाने सीसीटीएनएस से कनेक्टेड है। वहीँ अगस्त महीने में 100 प्रतिशत एफआईआर ऑनलाइन माध्यम से ही कोर्ट में दी गई है। एससीआरबी निदेशक ने बताया कि इस महीने तक़रीबन आईसीजेएस पर 14,52,949 सर्च की गई है। उन्होंने बताया कि अंतर–प्रचलित आपराधिक न्याय प्रणाली (आईसीजेएस) एक मंच से अदालतों, पुलिस, जेल और फोरेंसिक विज्ञान प्रयोगशालाओं जैसे आपराधिक न्याय प्रणाली के विभिन्न स्तंभों के बीच आंकड़ों और सूचनाओं के निर्बाध हस्तांतरण का प्लेटफार्म है। आईसीजेएस प्लेटफार्म की सहायता से सभी उच्च न्यायालयों और अधीनस्थ न्यायालयों द्वारा एफआईआर और आरोप पत्र के आंकड़ों को एसेस किया जा सकता है। न्यायालय के उपयोग के लिए एफआईआर, केस डायरी और आरोप पत्र जैसे दस्तावेज पुलिस द्वारा पीडीएफ फॉर्मेट में अपलोड किए जाते हैं। विदित है कि सीसीटीएनएस का 112 से रिवर्स इंटीग्रेशन सफलतापूर्वक कर लिया गया है। जैसे ही डायल 112 पर कोई शिकायत प्राप्त होती, तुरंत एक ईआरवी घटनास्थल पर जाएगी, तुरंत सॉफ्टवेयर द्वारा स्वत एंट्री संबंधित पुलिस थाने में जनरेट हो जाएगी, जिसका डेटा सीसीटीएनएस में दर्ज कर लिया जायेगा।पुलिस प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि वर्तमान में सीसीटीएनएस के माध्यम से प्रदेश पुलिस द्वारा प्राथमिकी पंजीकरण, गैर संज्ञेय रिपोर्ट, मेडिको लीगल केस, गुमशुदा व्यक्ति, खोई  हुई संपत्ति,लापता मवेशी, विदेशी पंजीकरण, सी-फार्म, लावारिस/परित्यक्त संपत्ति, अज्ञात/पाया व्यक्ति, निवारक कार्यवाही, पर्यवेक्षण रिपोर्ट/प्रगति का पंजीकरण, अज्ञात मृत शरीर/अस्वाभाविक मृत्यु पंजीकरण, अनुसंधान संबंधी कार्य, शिकायतों के पंजीकरण, डेटाबैंक सेवाएं आदि कार्य किये जाते हैं। अब तक सीसीटीएनएस सॉफ्टवेयर से 2013 से अब तक कुल 11,72,472 एफआईआर दर्ज की जा चुकी है। वहीं सभी डेटा 100 प्रतिशत सफ़लतापूर्वक प्लेटफार्म पर स्थानांतरित कर लिया गया है। इसके अलावा, इस वर्ष नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो द्वारा दिया गया लक्ष्य, जिसमें प्रदेश पुलिस के 20000 से अधिक कर्मचारियों को प्रशिक्षित करना था, उसे भी पूरा कर लिया गया है। इस उपलब्धि पर हरियाणा राज्य अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो के निदेशक, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक, ओ पी सिंह, आईपीएस ने सभी राजपत्रित अधिकारियों व सीसीटीएनएस शाखा में पदस्थ पुलिस कर्मचारियों को शुभकामनाएं दी।पुलिस प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि प्रदेश पुलिस ने सीसीटीएनएस के कोर एप्लीकेशन सिस्टम में 12054 अपराधियों के फोटो सफलतापूर्वक अपलोड कर दिए है। वहीं इसके अतिरिक्त, 175 डेड बॉडीज के फोटो भी अपडेट किए गए है। आगे जानकारी देते हुए बताया कि प्रदेश पुलिस वर्तमान में सभी प्रकार की सिटीजन पोर्टल पर उपलब्ध सर्विस आम जनता को उपलब्ध करवा रही है। वर्तमान में सिस्टम पर कुल 9 प्रकार की सिटीजन सर्विस उपलब्ध है। इस माह 24915 शिकायतें सिटीजन पोर्टल पर प्रदेश पुलिस को प्राप्त हुई थी, जिसमें से 18812 शिकायतों का निवारण कर दिया गया है। इसके अतिरिक्त इस माह प्राप्त 57715 वेरिफिकेशन के अनुरोध,जैसे की सीनियर सिटीजन रिक्वेस्ट, पासपोर्ट वेरिफिकेशन आदि को सफलतापूर्वक 100 प्रतिशत पूर्ण प्राप्त किया गया। वर्तमान में प्रदेश में सभी एफआईआर सीसीटीएनएस के माध्यम से पंजीकरण किया जा रहा है। आम जन सीसीटीएनएस पर एफआईआर दर्ज होते ही उसकी प्रति घर बैठे डाउनलोड कर प्राप्त कर सकते है। इसके अलावा हर प्रकार के एनओसी इसी के माध्यम से भी प्राप्त किया जा सकता है। वहीँ चरित्र प्रमाण पत्र  या मकान किराये पर देने हेतु किरायेदार की पुलिस सत्यापन की सुविधा भी आसान हो जाती है।

Related posts

फरीदाबाद : संजय कालोनी पुलिस ने एटीएम मशीन को हैंग कर,सहायता के नाम पर धोखे से पैसे निकालने वाले शख्स को धर दबोचा।

Ajit Sinha

फरीदाबाद: ज्ञान बल और योग बल से नारी होगी सशक्त-पुलिस कमिश्नर विकास अरोड़ा।

Ajit Sinha

फरीदाबाद : बिल्डर की गुंडागर्दी : ग्रीन फील्ड कालोनी में बिल्डर ने एक महिला को अपने ऑफिस में बुलाकर लात घूसों से कर दी पिटाई, होंगें गिरफ्तार।

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//mordoops.com/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x