Athrav – Online News Portal
Uncategorized

भाजयुमो के राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या को दंगा पीड़ितों से मिलने के लिए करौली मार्च करने से रोका गया

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
नई दिल्ली: भारतीय जनता युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या बुधवार को राजस्थान के करौली शहर की सीमा पर रोक दिया गया और हिरासत में ले लिया गया जब वह करौली दंगों के पीड़ितों से मिलने जा रहे थे। हाल ही में करौली में हिंदू नव वर्ष के जुलूस के दौरान, उपद्रवियों ने पथराव किया था और नवरात्रि उत्सव के दौरान शांतिपूर्ण सभा में हिंसा की वारदात को अंजाम दिया था।

राजस्थान सरकार से दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग करते हुए भाजयुमो ने बुधवार को न्याय यात्रा का आयोजन किया और राज्य की राजधानी जयपुर से करीब 170 किलोमीटर दूर स्थित करौली की ओर रवाना हो गए। कांग्रेस राज्य सरकार ने शांतिपूर्ण मार्च के में शामिल होने जा रहे नेताओं को करौली के प्रवेश के पास हिरासत में ले लिया और बिना किसी कारण के पुलिस ने भाजयुमो के कई कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज किया। इससे पहले भाजयुमो के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने जयपुर के एसएमएस अस्पताल का भी दौरा किया और भाजयुमो की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष नेहा जोशी, भाजयुमो राजस्थान के अध्यक्ष हिमांशु शर्मा और भाजयुमो राजस्थान के उपाध्यक्ष मुकेश दधीच के साथ करौली हिंसा में घायल हुए पीड़ितों से मुलाकात की।

आज हिंसा में घायल लोगों से मुलाक़ात कर सूर्या ने कहा-“हमने लालू प्रसाद का जंगल राज सुना था लेकिन आज अशोक गहलोत का जंगलराज देख रहे हैं। बीस-पच्चीस साल के युवा जिनका पूरा जीवन शेष है आज वो गंभीर रूप से घायल होकर जीवन के लिए संघर्ष कर रहे हैं।भारतीय जनता युवा मोर्चा इस हिंसा का पुरज़ोर विरोध करती है और आने वाले समय में अशोक गहलोत के जंगलराज का और अधिक उग्र रूप से विरोध किया जाएगा।” सूर्या ने मीडिया से हिंसा में घायल पीड़ितों का सच और उनकी पीड़ा पूरे देश को दिखाने के लिए अनुरोध करते हुए कहा- “जहां-जहां मुस्लिम बाहुल्य इलाक़ों में हिंदू भाई-बहनों पर सांप्रदायिक हिंसा की जाएगी वहाँ-वहाँ भारतीय जनता युवा मोर्चा का प्रत्येक कार्यकर्ता अपने हिंदू भाई बहनों की रक्षा में खड़ा मिलेगा”। राजस्थान की स्थिति पर टिप्पणी करते हुए  सूर्या ने कहा –“करौली हिंसा पीड़ितों के लिए न्याय मांगने पर गहलोत सरकार की लाठियां इस बात का प्रमाण है की करौली हिंसा के लिए गहलोत सरकार की तुष्टिकरण की नीति और अपराधियों को सरकार का संरक्षण ज़िम्मेदार है।किसी हिरासत से भाजयुमो नहीं रुकेगा और करौली हिंसा के पीड़ितों के लिए न्याय के लिए अपनी लड़ाई जारी रखेगा।”

Related posts

महेंद्रगढ़ : समाज की बदलती धारणा से नारी को मिलने लगा है सम्मान – मंजू कौशिक

Ajit Sinha

एयर इंडिया ने आक्रामक खेल दिखाते हुए परिणामों को अपने पक्ष में किया

Ajit Sinha

सीरिया में बम हमले में 24 नागरिकों की मौत

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//cezoachu.net/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x