Athrav – Online News Portal
नोएडा व्यापार

दिवाली से पहले 54वां आईएचजीएफ दिल्ली फेयर आयोजन 14 अक्टूबर को, सौ से अधिक देशों के विदेशी खरीदार आएंगें।

अरविन्द उत्तम की रिपोर्ट 
ग्रेटर नोएडा : दिवाली से पहले ग्रेटर नोएडा के एक्सपो मार्ट में 54वें आईएचजीएफ दिल्ली फेयर का आयोजन होने जा रहा है.  14 अक्टूबर से शुरू होकर 5 दिनों तक चलने वाले इस प्रदर्शनी में देश की सैकड़ों एक्सहिबीटर और कई देशों के विजिटर भाग ले रहे है। एक्सपो मार्ट में आयोजित प्रेस मीट में हस्तशिल्प निर्यात संवर्धन परिषद के महानिदेशक डॉ राकेश कुमार ने बताया कि इस बार मेले में देश भर के 3000 से अधिक हस्तशिल्प निर्यातकों द्वारा घर, जीवन शैली, फैशन, वस्त्र और फर्नीचर उत्पादों को ला रहे हैं, जो विदेशी खरीददार समुदाय को दिखाने के लिए उत्सुक हैं।   

ईपीसीएस के महानिदेशक राकेश कुमार ने मीडिया को बताया कि मेले 100 से अधिक देशों के विदेशी खरीदार और कई अन्य देशों से खरीदारों ने मेले में आने के लिए पहले ही रजिस्ट्रेशन कराया है. आईएचजीएफ-दिल्ली मेला ऑटम 2022 अपनी तरह का एक अनूठा मेला है और इस संस्करण के लिए 2000 से अधिक विस्तृत-रेंज से नए उत्पाद चुने जाएंगे जो 14 उत्पाद कैटेगरी के 300 से अधिक डिजाइन एक्सप्रेशन में से होंगे, मेले में एक्सपो सेंटर के 16 हॉल और मार्ट क्षेत्र के 900 स्थायी शोरूम के साथ शिल्प क्लस्टरों का जोरदार प्रतिनिधित्व होगा, जो इसे व्यापक सोर्सिंग पॉइंट बनाता है. थीम पर आधारित पवेलियन में पूरे भारत से शिल्पकार मौजूद रहेंगे जो विदेशी खरीदार समुदायों के लिए यहां अहम आकर्षण होगा. 

डॉ.राकेश कुमार ने बताया कि बताया कि इस इस मेले में प्रमुख भारतीय रिटेल ऑनलाइन ब्रांड के कई विजिटर भी शामिल होंगे मेले में आने के लिए द विशिंग चेयर, ऐट होम, अर्बन लैडर, फैब इंडिया लिमिटेड, द पर्पल टर्टल्स, फ्लिपकार्ट, शॉपर्स स्टॉप लिमिटेड, रिलायंस रिटेल लिमिटेड, डीएलएफ ब्रांड्स प्राइवेट लिमिटेड, होम एंड बाजार, कालरा, गुडेअर्थ डिजाइन स्टूडियो प्राइवेट लिमिटेड, मिस्टर डाय, द फर्नीचर स्टॉप, पेपरफ्राई लिमिटेड, द बॉम्बे स्वदेशी स्टोर्स, फर्नीचरवाला, एशियन पेंट्स लिमिटेड, होम सेंटर एवं ईबे और कई अन्य ने पहले से रजिस्ट्रेशन कराया है.

इसका कारण ये है कि यहां एक उत्कृष्ट उत्पाद रेंज आकर्षक कीमतों विशेष गुणवत्ता के साथ अग्रणी भारतीय निर्माताओं के लिए एक विशेष जुड़ाव भी है. ईपीसीएस के महानिदेशक डॉ.राकेश कुमार ने कहा कि 2021-22 के दौरान हस्तशिल्प का निर्यात 33253.00 करोड़ रुपये (4459.76 मिलियन अमेरिकी डॉलर) का हुआ जो बीते वर्ष की तुलना में रुपये के संदर्भ में 29.49% और डॉलर के संदर्भ में 28.90% की वृद्धि दर्शाता है I

Related posts

बंद ट्रक में भरकर ले जाई जा रही किसी मार्क और बांड की 600 पेटी अवैध शराब बरामद, एक तस्कर गिरफ्तार

webmaster

नकली सेनिटाइजर बनाने वाली कंपनी में छापा,10000 से अधिक नकली बॉटल्स,अनगनित मास्क बरामद, कंपनी सील, देखिए लाइव वीडियो

webmaster

ब्रेकिंग न्यूज़: मेसर्स सैपसेट प्रॉपर्टीज लिमिटेड और सुपरटेक लिमिटेड के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी

webmaster
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//whulsaux.com/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x