Athrav – Online News Portal
टेक्नोलॉजी हरियाणा

10वीं में 100 प्रतिशत अंक लाने वाली छात्रा अंजलि को मुख्यमंत्री मनोहर लाल की सौगात, मिलेगी 20 हजार महीने की सहायता

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
चंडीगढ़:हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने 10वीं कक्षा में 100 प्रतिशत अंक लाने वाली महेंद्रगढ़ की छात्रा अंजलि को सौगात देते हुए, 2 साल तक 20 हजार रुपये महीने की छात्रवृत्ति देने की घोषणा की है। मुख्यमंत्री ने वीडियो कॉल के माध्यम से छात्रा अंजलि और उनके परिवारजनों को हार्दिक बधाई दी। मुख्यमंत्री ने आश्वासन दिया कि भविष्य में अंजलि जहां भी दाखिला लेना चाहेगी उसका वहां दाखिला करवाया जाएगा।    

बता दें कि छात्रा अंजलि ने सीबीएसई की 10वीं कक्षा की परीक्षा में 100 प्रतिशत अंक हासिल किए हैं। छात्रा अंजलि को बधाई देते हुए मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि उसने न केवल रिकॉर्ड तोड़ा है बल्कि ऐसा रिकॉर्ड बनाया है, जिसे आगे भी कोई नहीं तोड़ सकता है। उन्होंने अंजलि को भविष्य में आगे बढ़ते हुए देश, प्रदेश, गांव और माता-पिता का नाम रोशन करने की शुभकामनाएं दी। अंजलि ने जब बड़े होकर डॉक्टर बनने की बात कही तो मुख्यमंत्री ने उन्हें आश्वासन दिया कि देश में जिस भी मेडिकल कॉलेज में चाहेगी, वहां उसका दाखिला करवाया जाएगा।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल के समक्ष छात्रा अंजलि और उनकी मां ने परिवार की आर्थिक स्थिति की समस्या रखी तो मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने तत्काल अंजलि को 20 हजार रुपये महीना 2 साल तक छात्रवृत्ति देने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने अंजलि की मां को आश्वासन दिया कि अंजलि की पढ़ाई में उनका पूरा सहयोग रहेगा। उन्होंने इच्छा जताई कि अंजलि भविष्य में एम्स में जाकर अच्छी डॉक्टर बने।मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि 10वीं, 11वीं और 12वीं कक्षा के 5 लाख विद्यार्थियों को टैबलेट वितरित किए गए हैं। हरियाणा देश का पहला राज्य है जिसने सरकारी स्कूलों के पांच लाख छात्रों को टैबलेट बांटे हैं। प्रदेश सरकार शिक्षा में और अधिक सुधार के लिए प्रयासरत है। इस बजट में शिक्षा के लिए 20,000 करोड़ रुपए की राशि निर्धारित की गई है। वर्तमान युग तकनीक का है और हम अपने छात्रों को किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं रहने देना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि हमारा प्रयास है कि जिस तरह से कृषि और उद्योग में हरियाणा ने प्रगति की है, उसी तरह से इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी में भी हमारे प्रदेश के युवा दुनियाभर में देश का नाम रोशन करें।मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि केंद्र सरकार ने नई शिक्षा नीति को 2030 तक पूरे देश में लागू करने का लक्ष्य बनाया है लेकिन हरियाणा ने 2025 तक इसे लागू करने का लक्ष्य लिया है। यूनिवर्सिटी में केजी टू पीजी प्रोग्राम शुरू किया है। इसके तहत यूनिवर्सिटी में ही विद्यार्थियों को शुरुआती शिक्षा दी जाएगी। हरियाणा की दो यूनिवर्सिटी एमडीयू और कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी ने यह कार्यक्रम शुरू कर दिया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले होनहार विद्यार्थियों के लिए सुपर-100 कार्यक्रम भी चलाया जा रहा है। मेधावी विद्यार्थियों का करियर बनाने के लिए शिक्षा विभाग का सुपर-100 कार्यक्रम एक अनूठा प्रयास है। इसके तहत आईआईटी व नीट की फ्री कोचिंग दी जाती है। मुख्यमंत्री ने कहा कि यदि किसी के पास प्रतिभा है, तो कोई भी आपको अपने सपनों को पूरा करने से नहीं रोक सकता, फिर चाहे कोई ग्रामीण अंचल से ही क्यों ना हो। उन्होंने कहा कि खेलों में ताकत लगती है और पढ़ाई में दिमाग। हरियाणा इन दोनों में तालमेल बैठाते हुए आगे बढ़ रहा है और नित नए कीर्तिमान हासिल कर रहा है।

Related posts

बिजली बिल जुर्माना माफी योजना की अंतिम तिथि को 31 दिसंबर, 2019 से बढ़ाकर 15 फरवरी, 2020 कर दी गई हैं।

Ajit Sinha

हरियाणा सरकार ने आज सूचना,जनसंपर्क एवं भाषा विभाग के पांच कर्मचारियों को पदोन्नत किया गया है।

Ajit Sinha

कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा को उच्चतम शिक्षा विभाग का मंत्री बनने पर विधायक नीरज शर्मा ने कार्यालय में दी बधाई।

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//meenetiy.com/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x