Athrav – Online News Portal
गुडगाँव व्यापार

कंटेनमेंट जोन के बाहर अनलाॅक-1 के आदेश के बाद सभी औद्योगिक इकाईयों ने संचालन शुरू कर दिया है: डीसी

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
गुरूग्राम: जिला गुरूग्राम में कंटेनमेंट जोन के बाहर अनलाॅक-1 के आदेश होने के बाद सभी औद्योगिक इकाईयों ने संचालन शुरू कर दिया है। जिला में छोटी-बड़ी सभी मिलाकर लगभग 1900 औद्योगिक इकाईयां पंजीकृत है और इनमें से अधिकांश मे काम शुरू हो गया है। गुरूग्राम हरियाणा प्रदेश का एक बड़ा औद्योगिक हब है और यहां पर आईएमटी मानेसर के रूप में एक बड़ी औद्योगिक नगरी विकसित है। इसके अलावा, उद्योग विहार , औद्योगिक क्षेत्र सैक्टर-37 और औद्योगिक विकास केन्द्र सैक्टर-14,डीएलएफ साइबर हब, दौलताबाद आदि क्षेत्रों में औद्योगिक इकाईयां स्थापित हैं। राष्ट्रव्यापी लाॅकडाउन में आवश्यक वस्तुओं की निर्माता इकाईयों को छोड़कर बाकि सभी को सुरक्षा की दृष्टि से बंद कर दिया गया था। अब धीरे-धीरे जैसे जैसे लाॅकडाउन खुल रहा है, जिला में स्थित सभी औद्योगिक इकाईयों का संचालन भी शुरू हो गया है। श्रम विभाग से प्राप्त रिपोर्ट का हवाला देते हुए उपायुक्त अमित खत्री ने बताया कि जिला गुरूग्राम में पंजीकृत 1900 इकाईयों में से ज्यादातर में काम शुरू हो गया है, लेकिन उनमें 40 से 50 प्रतिशत कामगार अपनी ड्यूटी पर आ रहे हैं। उद्यमियों द्वारा पहले से उनके यहां कार्यरत कामगारों से संपर्क करके उन्हें औद्योगिक इकाई का संचालन शुरू होने के बारे में सूचित करते हुए ड्यूटी पर लौटने के लिए कहा जा रहा है।

लाॅकडाउन के दौरान इकाईयां बंद होने की वजह से काफी संख्या में कामगार अपने गृह जिलों को लौट गए हैं। उन्हें फिर से बुलाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि एक हजार से अधिक कामगारों वाली सभी औद्योगिक इकाईयों में काम शुरू हो गया है। इसी प्रकार, 500 से अधिक कामगारों वाली इकाईयों में भी संचालन शुरू कर दिया गया है। इन दोनो प्रकार की इकाईयों में पहले की अपेक्षा 40 से 50 प्रतिशत वर्क फोर्स ही काम पर लौटी है। उन्होंने बताया कि 100 से 200 कामगारों वाली एक्सपोर्ट आधारित इकाईयों में से लगभग 50 प्रतिशत ही आप्रेशनल हुई हैं क्योंकि अभी एक्सपोर्ट अर्थात् निर्यात का कार्य विश्व भर में छाई कोरोना महामारी की वजह से प्रभावित है। उन्होंने यह भी बताया कि गुरूग्राम जिला आॅटो मोबाइल का भी देश का बड़ा हब है और यहां पर विश्व विख्यात मारूति सुजुकी इंडिया लिमिटेड के अलावा होंडा टू व्हीलर तथा हीरो मोटो काॅर्प आदि कंपनियां कार्यरत हैं। इन आॅटो मोबाइल कंपनियों को आॅटो पार्ट्स बनाकर देने के लिए सहयोगी इकाईयां भी चल रही हैं। श्रम विभाग के अनुसार आॅटों पार्ट्स बनाने वाली इकाईयों में भी लगभग 40 प्रतिशत कामगार ड्यूटी पर लौट आए हैं और वे अपने सहयोगी कर्मियों को कंपनी के चालू होने के बारे में सूचित कर रहे हैं। जिला में वर्तमान में लगभग एक लाख 10 हजार कामगार विभिन्न औद्योगिक इकाईयों में ड्यूटी पर आ गए हैं। उन्होंने बताया कि औद्योगिक इकाईयों के अलावा गुरूग्राम जिला में रियल एस्टेट कंपनियों का भी काफी काम है। लाॅकडाउन के बाद जिला में 96 कंस्ट्रक्शन साइटों पर निर्माण गतिविधियां पुनः शुरू हुई हैं जिनमें लगभग 21 हजार कामगार काम कर रहे हैं। जैसे जैसे लाॅकडाउन खुल रहा है, उसी अनुरूप गुरूग्राम जिला में औद्योगिक गतिविधियां तथा अन्य व्यापारिक कामकाज धीरे धीरे पटरी पर लौट रहा है और जन जीवन सामान्य होता जा रहा है। उम्मीद जताई जा रही है कि देश और विदेशों में व्यापारिक आदान प्रदान बढ़ने के साथ साथ ही गुरूग्राम जिला में भी वाणिज्यिक तथा व्यापारिक गतिविधियों को गति मिलेगी। 

Related posts

गुरुग्राम पुलिस ने एक मकान में छापेमारी कर भारी मात्रा में गोला बारूद बरामद किए हैं, नष्ट किया।

Ajit Sinha

लोकसभा चुनाव: चुनाव वाले दिन 3100 पुलिसकर्मी तैनात किए जाएंगे, पुलिस कमिश्नर मोहम्मद अकिल

Ajit Sinha

किरायदार को एक थप्पड़ क्या मारा, उसने उसकी गोली मार कर हत्या कर दी, कुख्यात अपराधी अरेस्ट।

Ajit Sinha
//stungoateeve.net/4/2220576
error: Content is protected !!