Athrav – Online News Portal
अपराध चंडीगढ़ फरीदाबाद हरियाणा

एडवाइजरी बोर्ड की मंजूरी के बाद गृह विभाग, हरियाणा ने आरोपित को एनएसए के तहत 12 माह कैद में रखने के जारी किए आदेश


अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
चंडीगढ़:हरियाणा पुलिस ने राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम (एनएसए),1980 के तहत आदतन एवं संगीन आरोप वाले अपराधियों के खिलाफ अब कार्रवाई शुरू कर दी है। ऐसे आदतन अपराधी जो समाज के लिए खतरा हो सकते है तथा कानून व्यवस्था बनाए रखने में बाधा उत्पन्न कर सकते है, के खिलाफ एनएसए एक्ट के तहत कार्रवाई  शुरू की गई है । इसी कड़ी में एडवाइजरी बोर्ड की मंजूरी के बाद गृह विभाग,हरियाणा ने रोहतक जिला के आरोपित राजू (परिवर्तित नाम) को एन.एस.ए. के तहत 12 माह कैद में रखने के आदेश जारी किए हैं। इस बारे में जानकारी देते हुए पुलिस महानिदेशक शत्रुजीत कपूर ने बताया कि राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम, 1980 के तहत प्रदेश सरकार द्वारा एडवाइजरी बोर्ड का गठन कर दिया गया है ताकि हरियाणा में बड़े अपराधियों पर एक्ट में वर्णित प्रावधानों के अनुसार कार्रवाई की जा सके। इसी कड़ी में हरियाणा पुलिस द्वारा रोहतक जिला में यह पहली कार्रवाई की गई है। पुलिस की इस बड़ी कार्रवाई से हरियाणा में अपराधियों को यह कड़ा संदेश दिया गया है कि वे अपराध का रास्ता छोड़ दें अन्यथा कार्रवाई के लिए तैयार रहें क्योंकि हरियाणा पुलिस अपराधियों को बख्शेगी नही और आगे भी ऐसे आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जाती रहेगी।
क्या था मामला-
रोहतक के पुलिस अधीक्षक हिमांशु गर्ग ने बताया कि रोहतक पुलिस द्वारा उक्त अधिनियम के तहत केस तैयार करके जिला मजिस्ट्रेट रोहतक को भेजा गया जिनके आदेशानुसार आरोपित  राजू (परिवर्तित नाम) को राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम 1980 की धारा (3)2 के तहत हिरासत में लेकर दिनांक 2 मई 2024 को रोहतक जेल में बंद कराया गया था। इससे पहले आरोपित रोहिणी, दिल्ली जेल मे बंद था। आरोपित  के डिटेन्शन के आदेश को राज्य सरकार व एडवाइजरी बोर्ड के पास मंजूरी के लिए भेजा गया था। हरियाणा सरकार द्वारा दिनांक 08.05.2024 को आरोपित राजू (परिवर्तित नाम) के डिटेन्शन ऑर्डर को मंजूरी देते हुए एडवाइजरी बोर्ड के पास मामले को भेजा। दिनांक 29.05.2024 को एडवाइजरी बोर्ड, हरियाणा द्वारा मामले की सुनवाई की गई तथा पुलिस प्रशासन व आरोपित पक्ष को सुनने तथा मामले की जांच करने के बाद एडवाइजरी बोर्ड द्वारा आरोपित के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम , 1980 एक्ट के तहत कार्यवाही करने के लिए मंजूरी प्रदान की गई जिसके बाद  दिनांक 10.06.2024 को गृह विभाग, हरियाणा द्वारा आरोपित  को एन.एस.ए. के तहत एक वर्ष के लिए कैद में रखने के आदेश जारी किए गए है।पुलिस अधीक्षक, रोहतक हिमांशु गर्ग ने बताया कि हरियाणा का यह पहला मामला है जिसमें एडवाइजरी बोर्ड द्वारा पुलिस के द्वारा की गई कार्रवाई  को सही ठहराते हुए आरोपित को एन.एस.ए. के तहत एक वर्ष तक कैद में रखने की मंजूरी दी गई है। आरोपित राजू (परिवर्तित नाम) पर हत्या का प्रयास, अवैध हथियार रखने, जबरन वसूली, मारपीट, अपहरण, फायरिंग, आपराधिक साजिश आदि के तकरीबन 20 मामले रोहतक, फतेहाबाद, सोनीपत व दिल्ली मे दर्ज हैं।पुलिस अधीक्षक हिमांशु गर्ग ने आगे बताया किआरोपित  अन्य युवकों को भी अपराध जगत मे कदम रखने के लिए  प्रोत्साहित कर रहा था। आरोपित  हथियारों सहित सोशल मीडिया पर अपनी फ़ोटो अपलोड कर दहशत फैलाता रहा है। आरोपित  ज़मानत पर आने के बाद बार-बार अपराध करता रहा है। आरोपित  को एन.एस.ए. के तहत काबू किया गया है। वर्तमान स्थिति को देखते हुए आरोपी समाज के लिए खतरा है और उससेे समाज पर विपरीत असर पड़ता है। हरियाणा पुलिस द्वारा आगे भविष्य में भी जो आदतन आरोपित  समाज के लिए खतरा बन सकते हैं उनके खिलाफ एनएसए एक्ट के तहत कार्रवाई  की जाएगी।
राजू (परिवर्तित नाम) के खिलाफ दर्ज आपराधिक वारदाते-
1. आरोपित  सन् 2013 से आपराधिक गतिविधियों मे सक्रिय है और निरंतर आपराधिक गतिविधियों को अंजाम दे रहा है।
2. आरोपित  ने दिनांक 14.02.2013 को अवैध हथियार सहित गिरफ्तार किया गया।
3. आरोपित  ने 05.01.20214 को अपने अन्य साथियो के साथ मिलकर दो युवकों को गोली मारने की वारदात को अंजाम दिया।
4. दिनांक 25.02.2014 को युवक के साथ मारपीट करने की वारदात को अंजाम दिया।
5. आरोपित  ने दिनांक 10.04.2015 को अपने अन्य साथियो के साथ मिलकर पीडित युवक को धमकाने व मारपीट करने की वारदात को अंजाम दिया।
6. आरोपित द्वारा सन् 2015 को अन्य साथियो के साथ मिलकर दूसरे पक्ष पर गांव बोहर मे फॉयरिंग करने की वारदात को अंजाम दिया।
7. आरोपित  ने जिला सोनीपत के एरिया मे अपने साथियो के साथ मिलकर शिकायतकर्ता पर जान से मारने की नीयत से गोली मारने की वारदात को अंजाम दिया।
8. आरोपित ने अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर सन 2016 मे गेट तोडने व शिकायतकर्ता को जान से मारने की धमकी देने की वारदात अंजाम दिया।
9. आरोपित ने दिनांक 02.10.2016 को अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर युवक को अपहरण करने की वारदात को अंजाम दिया।
10. आरोपित ने दिनांक 29.09.2016 को अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर शिकायतकर्ता के घर मे जबरन घुसकर उसे धमकाने की वारदात अन्जाम दिया।
11. जिला फतेहाबाद पुलिस ने तीन युवकों को अवैध हथियारो सहित गिरफ्तार किया था। आरोपी ने बरामद हुए हथियार युवकों को सप्लाई किए थे।
12. आरोपित के ख़िलाफ़ 174ए भा.द.स. के तहत अभियोग अंकित है।
13. आरोपित ने कारागार मे अपने बंदी साथियो के साथ मिलकर अन्य बंदी के साथ झगडा कर मारपीट करने की वारदात को अंजाम दिया।
14. आरोपित के खिलाफ धारा 174ए भा.द.स के तहत अभियोग अंकित है।
15. आरोपित ने सन् 2019 अप्रैल माह मे शराब के ठेकेदार को शराब के ठेके छोडने की धमकी देने की वारदात को अंजाम दिया हुआ है।
16. आरोपित ने अप्रैल 2022 मे फिरौती मांगने की वारदात को अंजाम दिया हुआ है।
17. आरोपित ने अपने अन्य साथियो के साथ मिलकर जुलाई 2022 को युवक पर जानलेवा हमले करने की वारदात को अंजाम दिया हुआ है।
18. आरोपित ने दिनांक 04.01.2023 को शिकायतकर्ता के साथ मारपीट करने व धमकाने की वारदात को अंजाम दिया हुआ है।
19. आरोपित को दिनांक 22.06.2023 को दो अवैध हथियारो सहित गिरफ्तार किया गया।
20. दिनांक 08.03.2024 को दिल्ली पुलिस ने आरोपी को 1 अवैध हथियार व 4 जिंदा रौंद के साथ काबू किया गया।

Related posts

छेड़छाड़ के आरोपी मंत्री का इस्तीफा लें मुख्यमंत्री या नैतिकता के आधार पर खुद इस्तीफा दें मंत्री- भूपेंद्र हुड्डा

Ajit Sinha

चंडीगढ़ ब्रेकिंग:अधिकारियों को उनके निवास और कार्यालय के बीच दैनिक आवागमन के लिए देना होगा 1000 रुपये प्रतिमाह

Ajit Sinha

सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए हरियाणा पुलिस की पहल एनएच-44 पर लगेंगे स्पीड रडार: एडीजीपी

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//sauptowhy.com/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x