Athrav – Online News Portal
दिल्ली

‘हम रामराज्य की अवधारणा से प्रेरणा लेकर दस सिद्धांतों पर चला रहे दिल्ली में सरकार-सीएम केजरीवाल


अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
नई दिल्ली: रामराज्य की अवधारणा से प्रेरणा लेकर हम दिल्ली में सरकार चला रहे हैं। इसके लिए हमारी सरकार 10 सिद्धांतों पर काम कर रही है। दिल्ली में कोई भूखा नहीं सोना चाहिए, इसके लिए हमारी सरकार गरीबों को फ्री राशन और बेघरों को रैन बेसेरों में छत व खाना मुहैया करा रही है। सभी को हम एक समान व अच्छी शिक्षा और स्वास्थ्य सुविधाएं, फ्री व 24 घंटे बिजली के साथ गरीबों को मुफ्त पानी दे रहे हैं, बुजुर्गों को तीर्थयात्रा करा रहे हैं। बिजली, पानी, शिक्षा, स्वास्थ्य, महिलाओं का बसों में सफर और तीर्थयात्रा मुफ्त होने की वजह से पूरे देश में आज सबसे कम महंगाई दिल्ली में है। हमारा मानना है कि हमें ऐसी शासन व्यवस्था कायम करनी चाहिए, जिसमें सबको बराबरी का हक व अवसर मिले और सभी आपस में प्यार से रहें।

गुरुवार को गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर छत्रसाल स्टेडियम में आयोजित गणतंत्र दिवस समारोह में राष्ट्रीय ध्वज फहराने के उपरांत सीएम अरविंद केजरीवाल ने ये बातें कहीं। उन्होंने कहा कि अयोध्या में भगवान श्रीराम की प्राण प्रतिष्ठा हो गई है। हम कोशिश करेंगे कि आने वाले समय में ज्यादा से ज्यादा लोगों को अयोध्या दर्शन कराने के लिए लेकर जाएं।मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर गुरुवार को छत्रसाल स्टेडियम में आयोजित समारोह में राष्ट्रीय ध्वज फहराया। गणतंत्र दिवस समारोह की शुरुआत ‘वंदेमातम्’ गीत के साथ हुई। इस दौरान सीएम ने परेड की सलामी ली और पूरा स्टेडियम भारत माता के जयकारे से गूंज उठा। परेड कमांडर के अनुरोध पर सीएम अरविंद केजरीवाल ने खुली जीप में सवार होकर विभिन्न परेड टीमों का निरीक्षण किया। जिसमें दिल्ली पुलिस, दिल्ली होम गार्ड, दिल्ली फायर सर्विस, एनसीसी, दिल्ली सरकार के स्कूलों के बच्चों के दल समेत अन्य दल शामिल थे। सीएम अरविंद केजरीवाल ने भारत माता की जय और इंकलाब के जयकारे के साथ गणतंत्र दिवस समोराह को संबोधित किया। उन्होंने दिल्ली और देशवासियों को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि आज गणतंत्र दिवस के अवसर पर हम उन सभी स्वतंत्रता सेनानियों को सलाम करते हैं, जिन्होंने बड़ी से बड़ी शहादत देकर हमारे देश को आजादी दिलाई। आज हम अपने उन सभी जाबाज सैनिकों को सलाम करते हैं जिन्होंने आजादी के बाद 75 साल हमारे देश की सीमा पर अपनी जान की बाजी लगाकर लोगों की रक्षा की। हम उन किसानों, मजदूरों, उद्योगपतियों और व्यापारियों, वैज्ञानिकों, महिलाओं और युवाओं को भी सलाम करते हैं, जिन्होंने इन 75 साल में देश का विकास करने के लिए अपना योगदान दिया। सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अभी 22 जनवरी को अयोध्या में श्री रामलला का प्राण प्रतिष्ठा किया गया। यह पूरे देश और विश्व के लिए एक बेहद गर्व, खुशी और बधाई की बात थी। चारों तरफ लोगों ने खूब उत्सव मनाया। एक तरफ जहां हमें श्री रामचंद्र जी की भक्ति करनी है, वहीं, दूसरी तरफ हमें उनके जीवन से प्रेरणा लेकर उनके संदेश को अपने जीवन में ढालने की कोशिश करनी है। उनका जीवन बेहद प्रेरणादायी है। उनके जीवन से हमें कई किस्से मिलते हैं जो हमें बड़े से बड़े त्याग, प्यार और मोहब्बत का संदेश देते हैं। हम सब जानते हैं कि किस तरह से अपने पिताजी के एक आदेश पर अपना राजपाट त्याग कर भगवान राम वनवास चले गए। जबकि अगली सुबह उनका राज्याभिषेक होने वाला था। अयोध्या में इसके लिए सारी तैयारियां कर ली गई थीं। सभी अयोध्यावासी हर्षोल्लास में झूम रहे थे। वो बहुत खुश थे कि कल सुबह भगवान राम अयोध्या के राजा बनेंगे। अचानक शाम के वक्त भगवान राम के पास संदेशा आता है कि राजा दशरथ उन्हें अपने कमरे में बुला रहे हैं। भगवान राम दशरथ के कमरे में जाते हैं और वहां देखते हैं कि दशरथ बहुत दुखी मन से बैठे हैं, माता कैकई भी उनके पास हैं। कमरे में जाने के बाद माता कैकई उनको कहती हैं कि महाराज ने मुझे दो वर दिए हैं और मैंने उनसे वो दोनों वर मांगे हैं। पहली बार कि भगवान राम को 14 वर्ष के लिए वनवास जाना होगा और दूसरा वर कि उनकी जगह भरत को अयोध्या का राजा बनाया जाएगा। 

Related posts

लोकसभा में कांग्रेस पार्टी के नेता अधीर रंजन चौधरी ने आज संसद भवन पर मीडिया को संबोधित किया -क्या कहा -जरूर पढ़े

Ajit Sinha

टीवी एक्ट्रेस दीपिका सिंह ने ब्लैक ड्रेस में नेहा कक्कड़ के ‘मनाली ट्रांस’ पर यूं किया डांस, बार-बार देखा जा रहा है- वीडियो 

Ajit Sinha

वह इलाके में डॉन की तरह बात करता था, इसलिए उसे गोली मारकर हत्या कर दी, गिरफ्तार।

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//acoudsoarom.com/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x