Athrav – Online News Portal
गुडगाँव

गुरूग्राम की वजीरपुर ग्राम पंचायत को मिला सर्वश्रेष्ठ ग्राम पंचायत शक्ति अवार्ड-2020।

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
गुरुग्राम:‘मंजिले मिल ही जाती है भटकते ही सही, गुमराह तो वो हैं जो घर से निकले ही नही‘। जी हां, यह वाक्या वजीरपुर ग्राम पंचायत पर बिल्कुल सटीक बैठता है। इस ग्राम पंचायत के सरपंच ने अपनी दृढ़ इच्छाशक्ति से पूरे प्रदेश में वजीरपुर ग्राम पंचायत के साथ साथ गुरूग्राम जिला का नाम रोशन किया है। इस ग्राम पंचायत की आज प्रदेश भर के सभी गांवों में चर्चा की जा रही है क्योंकि यह ग्राम पंचायत ना केवल विकास में बल्कि ग्रामीणों के जीवन स्तर को उंचा उठाने के लिए निरंतर प्रयासरत है।

इस ग्राम पंचायत को हरियाणा के मुख्यमंत्री द्वारा सर्वश्रेष्ठ ग्राम पंचायत शक्ति पुरस्कार से नवाजा गया है। यह पुरस्कार ग्रामीणो के आपसी भाईचारे, एकजुटता से करवाए गए विकास कार्यों, लिंगानुपात में वृद्धि, स्वच्छ भारत मिशन, बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओं, घर-घर शौचालय, खुले में शौचमुक्त, पर्यावरण संरक्षण के तहत पौधारोपण व उनका पालन पोषण आदि मापदंडों पर खरा उतरने के लिए सरकार द्वारा दिया गया है। गत दिवस चंडीगढ़ में आयोजित इस समारोह में प्रदेश भर की 5 व 6 स्टार रेटिड 40 उत्कृष्ट पंचायतों को आमंत्रित किया गया था जिन्होंने अपने गांव में करवाएं गए विकास कार्याें सहित सरकार की योजना के क्रियान्वयन संबंधित रूपरेखा रखी। इन सभी ग्राम पंचायतों के सरपंचों के लिए डिबेट भी रखी गई थी जिसमें उन्होंने गांव में करवाए गए विकास कार्यांे संबंधित चर्चा की। गुरूग्राम के उपायुक्त अमित खत्री ने इस उपलब्धि के लिए वजीरपुर गांव के सरपंच शेरसिंह चौहान को बधाई दी है। उन्होंने कहा कि जिला की इस पंचायत ने सर्वश्रेष्ठ ग्राम पंचायत शक्ति पुरस्कार प्राप्त कर जिलावासियों को गौरवान्वित किया है।

यह ग्राम पंचायत ना केवल गुरूग्राम के लिए बल्कि प्रदेश की अन्य पंचायतों के लिए भी प्रेरणा है जिन्होंने सरकार की योजनाओं को प्रभावी ढंग से अपने गांवों में क्रियान्वयन करने के लिए तत्परता से कार्य किया है। उन्होंने वजीरपुर ग्राम पंचायत के ग्रामीणों को भी अपनी शुभकामनाएं देते हुए उन्हें भविष्य में भी इसी प्रकार एकजुटता से काम करने के लिए प्रोत्साहित किया। वजीरपुर के सरपंच शेर सिंह चौहान ने कहा कि वजीरपुर ग्राम पंचायत में ग्रामीणों को ना केवल सरकार की योजनाओं से जोड़ने का प्रयास किया जाता है बल्कि उनकी विकास व भाईचारा बढ़ाने संबंधी अन्य सामाजिक गतिविधियों मे भागीदारी सुनिश्चित की जाती है। इसके साथ ही उपायुक्त अमित खत्री सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा भी समय समय पर उन्हें आवश्यकता अनुरूप सहयोग दिया जाता है। उन्होंने कहा कि किसी भी पहल को सफल बनाने के लिए जरूरी है कि सभी एकजुटता व समर्पण भाव से जनहित में कार्य करें। जिला प्रशासन का मार्गदर्शन व ग्रामीणों द्वारा दिया जाने वाले सहयोग से ही यह संभव हो पाया है।  

Related posts

हरियाणा के शहरी स्थानीय निकाय मंत्री डा. कमल गुप्ता ने गुरुग्राम पहुचंकर निगम के अधिकारियों के साथ की बैठक।

Ajit Sinha

कंपनी में डकैती डालने वाले 6 डकैतों को पुलिस ने अरेस्ट किया हैं, इनमें सुरक्षा कर्मी और एक नाबालिक भी शामिल हैं।

Ajit Sinha

कंटेनमेंट जोन के नए आदेश जारी किए गए हैं लिस्ट के अनुसार जिला में 35 कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं: डीसी  

Ajit Sinha
//nossairt.net/4/2220576
error: Content is protected !!