Athrav – Online News Portal
Surajkund फरीदाबाद मनोरंजन

सूरजकुंड हस्तशिल्प मेला के समापन समारोह में मुख्य अतिथि के तौर पर पहुंचे केंद्रीय पर्यटन मंत्री जी. किशन रेड्डी

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
सूरजकुंड, (फरीदाबाद): केंद्रीय पर्यटन मंत्री जी. किशन रेड्डी ने कहा कि सूरजकुंड अंतरराष्ट्रीय हस्तशिल्प मेले ने न केवल भारत की सभ्यता, संस्कृति और विरासत को बढ़ावा दिया है, बल्कि पूरे विश्व को एक करने का काम किया है। इसके लिए हरियाणा सरकार बधाई की पात्र है। आने वाले समय में यह मेला दुनिया में और अधिक आकर्षण का केंद्र बनेगा। पर्यटन विभाग भी अतुल्य भारत की तस्वीर को पूरे विश्व के सामने रखने का प्रयास कर रहा है। श्री रेड्डी आज सूरजकुंड अंतरराष्ट्रीय हस्तशिल्प मेले के समापन समारोह पर बतौर मुख्य अतिथि नागरिकों को संबोधित कर रहे थे। समापन समारोह में मुख्य अतिथि ने सांस्कृतिक संध्या का भी दीप प्रज्ज्वलित कर शुभारंभ किया।

केंद्रीय पर्यटन मंत्री ने कहा कि यह मेला पुरातन और आधुनिकता का सार है। परंपरा और संस्कृति का संगम है। इस मेले में विश्व के विभिन्न हिस्सों से आए कारीगर व कलाकार आज हरियाणा प्रदेश की मेहमान नवाजी से खुश होकर जा रहे हैैं। उन्होंने कहा कि हरियाणा का किसान और जवान विश्व में प्रसिद्ध है। हरियाणा के युवाओं ने खेलों में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मेडल लाकर देश का मान बढ़ाया है। उन्होंने कहा कि हमारी भाषा व क्षेत्र अनेक हो सकता है लेकिन भाव एक ही है। रंग अनेक हो सकते हैं लेकिन तिरंगा एक ही है। संगीत अनेक हो सकते हैं लेकिन परंपरा एक ही है। अलग-अलग संस्कृति ने एकजुट होकर जहां अपनी कला व संस्कृति का प्रदर्शन किया है जो विविधता में एकता की मिसाल है।रेड्डी ने कहा कि इस मेले ने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के वोकल फोर लोकल, मेड इन इंडिया व स्वदेशी अपनाने के नारे को चरितार्थ किया है। यहां हजारों हस्तशिल्प कलाकारों को रोजगार मिलता है।

उन्होंने आजादी के अमृत महोत्सव का जिक्र करते हुए कहा कि देश के सभी नागरिक लगातार इस महोत्सव को मना रहे हैं। इस साल दो दिन बहुत ही महत्वपूर्ण है। देश के सभी नागरिक आने वाली 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर एक साथ योग करें। इसके अलावा 15 अगस्त को प्रधानमंत्री द्वारा तिरंगा फहराने के बाद देश के सभी घरों में तिरंगा लहराना चाहिए।इस मौके पर हरियाणा के शिक्षा मंत्री कंवर पाल गुर्जर ने कहा कि इस मेले में आई लोगों की भीड़ सफलता की गवाही दे रहा है। इस मेले ने हरियाणा को दुनिया में पहचान दी है। कारीगर यहां आने पर अपने आप को गौरवान्वित महसूस करते हैं। उन्होंने कहा कि यह कलाकार पैसे की बजाय प्रशंसा को पसंद करते हैं। यहां पर एक ही स्थान पर हमें पूरी दुनिया को जानने का मौका मिलता है।इस मौके पर बडख़ल की विधायक सीमा त्रिखा, तिगांव के विधायक राजेश नागर,  उज़्बेकिस्तान के एंबेस्डर दिलसोद, पर्यटन विभाग के प्रधान सचिव एमडी सिन्हा, पर्यटन विभाग के एमडी नीरज कुमार, कला एवं संस्कृति विभाग के प्रधान सचिव डा. डी. सुरेश, निदेशक महावीर कौशिक, उपायुक्त जितेंद्र यादव के अलावा अन्य गणमान्य नागरिक मौजूद थे।

Related posts

फरीदाबाद: युवा कांग्रेसी नेता ने गृहमंत्री व सीएम को लिखा पत्र, किसानों पर दर्ज झूठे मुकदमें तुरंत रद्द करे सरकार : राजेश खटाना   

webmaster

फरीदाबाद: पंचकूला में कानूनी साक्षरता प्रतियोगिता में डी.ए.वी. शताब्दी काॅलेज ने मारी बाजी

webmaster

हरियाणा: एनजीटी के दिशा -निर्देश पर बल्लभगढ़ समेत 10 जिलों के प्रदूषण इलाके में पटाखे जलने व बेचने पर लगाया प्रतिबंध।

webmaster
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//alpidoveon.com/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x