Athrav – Online News Portal
गुडगाँव

केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग राज्य मंत्री सोम प्रकाश ने स्टार्ट अप-20 किया शिखर सम्मेलन का शुभारंभ

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
गुरुग्राम:गुरुग्राम में सोमवार को जी-20 के स्टार्टअप-20 शिखर सम्मेलन का शुभारंभ हुआ। केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग राज्य मंत्री सोम प्रकाश ने सम्मेलन का शुभारंभ किया। उन्होंने इस अवसर पर कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वर्ष 2016 स्टार्टअप इंडिया की पहल की थी। जिसके चलते आज देश में नए स्टार्टअप बन रहे हैं और नए इनक्यूबेशन सेंटर स्थापित हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि स्टार्टअप भारत के नेशनल एसेस्ट्स है और आज के स्टार्टअप भविष्य की फोरच्यून -500 कंपनियां होंगी। केंद्रीय उद्योग एवं वाणिज्य राज्य मंत्री सोम प्रकाश ने हरियाणा की मेजबानी की प्रशंसा करते हुए कहा कि जी-20 के देशभर में आयोजित हो रहे विभिन्न सम्मेलनों की श्रृंखला में हरियाणा के गुरुग्राम को यह दूसरा बड़े स्तर का सम्मेलन आयोजित करने का अवसर मिला है।

उल्लेखनीय है कि इससे पहले भी मुख्यमंत्री मनोहर लाल के कुशल नेतृत्व में गुरुग्राम में मार्च माह के पहले सप्ताह में एंटी करप्शन वर्किंग ग्रुप की बैठक में बेहतरीन मेजबानी करते हुए विदेशी प्रतिनिधियों का भव्य स्वागत किया गया था, वहीं अब इस दो दिवसीय पहले स्टार्टअप-20 शिखर सम्मेलन का साक्षी हरियाणा बन रहा है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में हरियाणा में स्टार्ट अप इंडिया को लेकर सराहनीय कार्य हुआ है।केंद्रीय राज्य मंत्री ने कहा कि जी-20 में स्टार्टअप को शुरू करना भारत का एक महत्वपूर्ण कदम है। उन्होंने कहा कि इस तरह का कोई नया कदम शुरू करने से पहले जी-20 के सभी देशों की सहमति लेना आवश्यक होता है। सम्मेलन में संबोधित करते हुए भारत के जी 20 शेरपा अमिताभ कांत ने कहा कि इस सम्मेलन में जी-20 के सभी देशों के प्रतिनिधियों और देश के बड़े स्टार्टअप से जुड़े युवा भी शामिल हो रहे हैं। अपने विचार सांझा करते हुए उन्होंने पूरी दुनिया में रोजगार सृजन व आर्थिक विकास के लिए नए स्टार्टअप के महत्व पर बल देने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि कोविड महामारी के बाद दो मिलियन लोग गरीबी रेखा के नीचे चले गए हैं। 75 से ज्यादा देश ग्लोबल डेड क्राईसिस झेल रहे हैं। ऐसे में हमें पूरी दुनिया के साथ नई तकनीकों को सांझा कर नए स्टार्टअप खड़े करने होंगे। नए स्टार्टअप के जरिए ही हम नई नौकरियां पैदा कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि हमें पूरे विश्व के संसाधनों को एक साथ मिलाकर नए स्टार्टअप तैयार करने होंगे और दुनिया में रोजगार व आर्थिक तरक्की के नए रास्ते खोलने होंगे। शिखर सम्मेलन के दौरान पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग राज्य मंत्री सोम प्रकाश ने कहा स्टार्टअप-20 कि स्टार्टअप के लिए एक सक्षम वातावरण को बढ़ावा देने और नवाचार और उद्यमिता में एक वैश्विक नेता के रूप में अपनी स्थिति को मजबूत करने की भारत की प्रतिबद्धता का प्रतीक है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में भारत को जी 20 की मेजबानी का अवसर मिला है जिसके लिए भारत अपना प्रभावी दायित्व निभा रहा है। ब्राज़ील ने भी इस स्टार्टअप 20 सम्मेलन को जारी रखने की सहमति जताई है। इसी क्रम में हरियाणा की मेजबानी के सभी विदेशी प्रतिनिधि कायल हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि स्टार्टअप भारत के नेशनल एसेस्ट्स हैं जिसके दम पर युवाओं को जहां रोजगार के अवसर सृजित हो रहे हैं, वहीं औद्योगिक विकास भी हो रहा है। शिखर सम्मेलन आर्थिक समृद्धि और सामाजिक प्रभाव को बढ़ाने में स्टार्टअप की जबरदस्त क्षमता को रेखांकित करता है। नवाचार और उद्यमिता को बढ़ावा देने वाले वातावरण को बढ़ावा देकर, स्टार्टअप 20 गुरुग्राम शिखर सम्मेलन का उद्देश्य स्टार्टअप की पूरी क्षमता को उजागर करना, आर्थिक विकास, रोजगार सृजन और सतत विकास को बढ़ावा देना है। उन्होंने कहा कि आज के स्टार्टअप भविष्य की फोरर्चुन-500 कंपनियों में शामिल होंगे। पत्रकारों को संबोधित करते हुए भारत के जी 20 शेरपा अमिताभ कांत ने स्टार्टअप 20 के महत्व पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि स्टार्टअप 20 एंगेजमेंट ग्रुप वैश्विक स्टार्टअप पारिस्थितिकी तंत्र की यात्रा में एक मील का पत्थर है। उन्होंने कहा कि यह शिखर सम्मेलन एक साथ काम करने वाले देशों में हमारे सभी समावेशी स्टार्टअप पारिस्थितिकी तंत्र के साथ हमारे नागरिकों के लिए एक परिवर्तनकारी और उन्नत भविष्य के लिए आधार तैयार करता है।स्टार्टअप 20 के अध्यक्ष डॉ. चिंतन वैष्णव ने शिखर सम्मेलन के प्रभाव के प्रति अपना उत्साह साझा करते हुए कहा कि स्टार्टअप 20 शिखर सम्मेलन स्टार्टअप पारिस्थितिकी तंत्र के लिए एक नए युग की शुरुआत का प्रतीक है। 22 देशों के 600 से अधिक प्रतिनिधियों की भागीदारी के साथ, एकत्र हुए गुरुग्राम में, हम स्टार्टअप 20 शिखर यात्रा के सफल पहले प्रमुख मील के पत्थर और सहयोग, परामर्श और अटूट दृढ़ संकल्प के महीनों का जश्न मना रहे हैं। साथ मिलकर, हम स्टार्टअप पारिस्थितिकी तंत्र के लिए एक संपन्न और टिकाऊ भविष्य की दिशा में एक रास्ता बनाएंगे। उन्होंने कहा कि 2024 में स्टार्टअप 20 एंगेजमेंट ग्रुप में अपनी भागीदारी जारी रखने का ब्राजील का निर्णय इस पहल के वैश्विक महत्व को और मजबूत करता है। ब्राजील और अन्य सभी देशों की निरंतर प्रतिबद्धता नवाचार को बढ़ावा देने और वैश्विक स्टार्टअप पारिस्थितिकी तंत्र का समर्थन करने के प्रति उनके समर्पण का उदाहरण है।

Related posts

एक शख्स के मोबाइल फोन पर अश्लील वीडियो और फोटो भेज कर 15 लाख रुपए मांगने वाले दो दोस्तों को किया अरेस्ट।

Ajit Sinha

गुरुग्राम पुलिस ने एक मकान में छापेमारी कर भारी मात्रा में गोला बारूद बरामद किए हैं, नष्ट किया।

Ajit Sinha

चंडीगढ़ ब्रेकिंग: उपभोक्ताओं की शिकायतों के निवारण में आईटी का अधिकतम इस्तेमाल करें: अध्यक्ष एचईआरसी

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//doostozoa.net/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x