Athrav – Online News Portal
गुडगाँव राजस्थान राष्ट्रीय

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी गुरूग्राम में द्वारका एक्सप्रेस – वे के निर्माण की प्रगति का निरीक्षण किया। 

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
गुरुग्राम: केंद्रीय सड़क परिवहन तथा राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी आज केंद्रीय राज्यमंत्री राव इंद्रजीत सिंह के साथ गुरूग्राम में द्वारका एक्सपै्रस वे के निर्माण कार्य का निरीक्षण करने पहुंचे। इस दौरान भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) के अधिकारियों ने बताया कि इस एक्सपै्रस वे के हरियाणा में पड़ने वाले हिस्से का लगभग 50 प्रतिशत निर्माण कार्य पूरा हो चुका है।गडकरी आज केंद्रीय राज्यमंत्री राव इंद्रजीत सिंह के अनुरोध पर एक्सपै्रस वे का निरीक्षण करने आए थे। राव के अलावा उनके साथ दिल्ली से सांसद रमेश बिधुड़ी तथा गुड़गांव के विधायक सुधीर सिंगला भी थे।  गडकरी ने खेड़की दौला टोल प्लाजा के पास से द्वारका एक्सपे्रस वे के निर्माण की प्रगति का जायजा लेना शुरू किया। वे राव इंद्रजीत सिंह के साथ मीडिया प्रतिनिधियों  की विशेष बस में ही सवार होकर इस पूरे एक्सप्रेस -वे को देखने गए। माना जा रहा है कि केंद्रीय मंत्री  गडकरी के निरीक्षण से द्वारका एक्सप्रेस  वे के निर्माण कार्य को गति मिलेगी। 

इस दौरान एनएचएआई के अधिकारीयों ने मंत्री को अवगत करवाया कि द्वारका एक्सप्रेस वे की कुल लंबाई 29 किलोमीटर है जिसमें से 18.9 किलोमीटर लंबाई हरियाणा प्रदेश की सीमा में तथा बाकी 10.1 किलोमीटर की लंबाई दिल्ली की सीमा में पड़ती है। यह एक्सप्रेस-वे गुरूग्राम में राष्ट्रीय राजमार्ग नंबर-48 पर खेड़की दौला टोल प्लाजा के नजदीक से शुरू होकर दिल्ली सीमा में इसी राजमार्ग पर शिव मूर्ति के पास खत्म होता है। उन्होंने यह भी बताया कि द्वारका एक्सप्रेस – वे की कुल 29 किलोमीटर लंबाई मे से 23 किलोमीटर एलीवेटिड है तथा चार किलोमीटर की दूरी में टनल का निर्माण होगा। ऐलीवेटिड भाग में आठ लेन का फलाईओवर सिंगल पियर पर बनाया जा रहा है जोकि भारत वर्ष में अपनी तरह का पहला निर्माण है। यह भी बताया गया कि इस एक्सप्रेस  वे का निर्माण चार पैकेज में किया जा रहा है। इसमें दो पैकेज हरियाणा प्रदेश की सीमा में पड़ते हैं जो एल एण्ड टी कंपनी द्वारा तथा बाकि के दो पैकेज दिल्ली प्रदेश की सीमा में पड़ते हैं जो जय कुमार इंफ्रा प्रोजेक्ट लिमिटेड द्वारा पूरे किए जा रहे हैं। लगभग 9 हजार करोड़ रूपए की लागत से बनने वाले इस एक्सप्रेस  वे के चार पैकेज में एक पैकेज दिल्ली-जयपुर हाईवे से बसई-धनकोट आरओबी तक लगभग 8.76 किलोमीटर लंबाई का है जिस पर 1859 करोड़ रूपए की अनुमानत लागत आएगी। इसी प्रकार दूसरा पैकेज बसई-धनकोट आरओबी से लेकर हरियाणा-दिल्ली सीमा तक लगभग 10.2 किलोमीटर लंबाई का है जिस पर 2228 करोड़ रूपए की अनुमानत लागत आएगी। इन दोनो पैकेज में निर्माण कार्य इस वर्ष के अंत तक पूरा हो जाएगा। तीसरा पैकेज हरियाणा-दिल्ली सीमा से बिजवासन में आरयुबी तक लगभग 4.20 किलोमीटर लंबाई का है जिस पर लगभग 2068 करोड़ रूपए की लागत आएगी और चैथा पैकेज बिजवासन आरयुबी से शिव मूर्ति तक का 5.90 किलोमीटर लंबाई का है जिस पर 2507 करोड़ रूपए की लागत आएगी। दिल्ली सीमा में पड़ने वाले दोनो पैकेज अगले वर्ष अंत तक पूरा होने का अनुमान है। 

यह भी बताया गया कि इस एक्सपै्रस वे की आठ लेन फलाईओवर के अलावा 6 लेन की सर्विस लेन भी बनाई जा रही हैं। इस प्रकार एक्सपै्रस वे तथा सर्विस लेन को मिलाकर  कुल 14 लेन बनाई जाएगी। एनएचएआई केे अधिकारियों ने बताया कि इस एक्सपै्रस वे के बनने से यात्रियों को गुरूग्राम से दिल्ली जानेे के लिए वैकल्पिक मार्ग उपलब्ध होगा और वर्तमान दिल्ली-जयपुर हाईवे पर ट्रैफिक  का दबाव कम होगा। उन्होंने यह भी बताया कि इस एक्सप्रेस वे पर गुरूग्राम में सीपीआर और एनपीआर के जंक्शन पर मेजर क्लोवर लीफ का निर्माण किया जाएगा। यही नहीं, दिल्ली में द्वारका के पास इस एक्सपै्रस वे पर भारत का पहला चार लैवल का इंटरचेंज का निर्माण किया जाएगा, जिसमें टनल अथवा अंडरपास, ग्रेड रोड़, ऐलीवेटिड फलाईओवर तथा उस फलाईओवर से उपर एक और फलाईओवर बनेगा। यही नहीं, इसके मार्ग में द्वारका के पास से एयरपोर्ट के लिए 3.6 किलोमीटर लंबाई की 8 लेन की टनल (सुरंग) बनाई जाएगी और यह अर्बन रोड़ टनल भारत में अपनी तरह की पहली होगी। यह भी बताया गया कि इस एक्सपे्रस वे के निर्माण के रास्ते में आ रहे लगभग 12 हजार पेड़ ट्रांसप्लांट किए गए हैं ताकि पर्यावरण को नुकसान ना हो और ग्रीनरी बनी रहे। यह पूरा प्रोजेक्ट इंटेलीजेंट ट्रांसपोर्ट सिस्टम से युक्त होगा और इस पर पूरी तरह से स्वचालित (आॅटोमेटिड) टोल सिस्टम होगा। गुरूग्राम में द्वारका एक्सप्रेस  वे के निरीक्षण के लिए पहुंचे   गडकरी का ट्रमपेट लाॅकेशन पर इलाके के ग्रामीणों ने पगड़ी पहनाकर उनका सम्मान किया। ट्रमपेट लाॅकेशन वह स्थान है जहां पर एसपीआर और द्वारका एक्सप्रेस  वे जुड़ते हैं। गुरूग्राम में पहुंचने पर उपायुक्त डा. यश गर्ग तथा नगर निगम आयुक्त विनय प्रताप सिंह ने भी पुष्प गुच्छ देकर केंद्रीय मंत्री गडकरी तथा राव इंद्रजीत सिंह का स्वागत किया। 

Related posts

पिस्तौल की नोंक पर शराब का ठेका लूटने वाले दो लूटेरे अरेस्ट।

Ajit Sinha

सोहना/नूंह में हुए साम्प्रदायिक दंगों के दौरान सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट डालने वाला आरोपित गिरफ्तार।

Ajit Sinha

भारत के पहले केंद्रीय सहकारिता मंत्री अमित शाह आयोजित प्रथम सहकारिता सम्मेलन को संबोधित किया।

Ajit Sinha
//thelrourg.net/4/2220576
error: Content is protected !!