Athrav – Online News Portal
अपराध नोएडा

कार्ड की डिटेल हैक कर, उसका क्लोन बनाकर लोगों के एकाउंट से रुपये निकालने वाले गैंग का पर्दाफाश, दो गिरफ्तार। 

अरविन्द उत्तम की रिपोर्ट 
नोएडा की कोतवाली फेज-2 पुलिस ने डेबिट कार्ड की डिटेल हैक कर, उसका क्लोन बनाकर लोगों के एकाउंट से रुपये निकालने वाले गैंग का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने मुखबिर से मिले इनपुट पर  सेक्टर-110 से गैंग के दो सदस्यों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपियों के पास से क्लोन डेबिट कार्ड, 2.50 लाख रुपये और अन्य सामान बरामद किया है। गैंग का सरगना दिल्ली के बाटला हाउस निवासी अरमान अभी पुलिस गिरफ्त से बाहर है। उसकी तलाश में छापेमारी की जा रही है।

पुलिस कि गिरफ्त में खड़े फिरोज और सचिन शर्मा कोतवाली फेज-2 पुलिस कि टीम ने सेक्टर-110 से गिरफ्तार किया है। पुलिस ने दोनों आरोपियों से एक लैपटॉप, सात कार्ड रीडर मशीन, दो ग्रीन वॉल कार्ड रीडर, दो माइक्रो कैमरे सिस्टम, 69 ब्लैंक डेबिट, क्रेडिट कार्ड, क्लोनिंग करने वाले यंत्रों की टूल किट और 2.50 लाख रुपये बरामद किए हैं। दोनों आरोपियों के खिलाफ विभिन्न थानों में धोखाधड़ी के सात केस दर्ज हैं। गैंग का सरगना अरमान अभी फरार है। नोएडा सेंट्रल के एडीसीपी ने बताया कि पूछताछ के दौरान आरोपियों ने बताया कि उन लोगो ने नोएडा, दिल्ली और गुरुग्राम में फर्जीवाड़ा किया है। फेस दो थाना पुलिस गिरोह के अन्य आरोपियों की तलाश में छापेमारी कर रही है। पुलिस को आशंका है कि अन्य आरोपियों के पास काफी लोगों के डेबिट कार्ड के क्लोन हैं।

एडीसीपी ने बताया कि आरोपी कई तरह से ठगी को अंजाम दे रहे थे। आरोपी एटीएम में कार्ड स्वाइप की जगह स्कीमर डिवाइस लगा लगाते थे। जब कोई व्यक्ति पैसे निकालने के लिए अपने डेबिट कार्ड को स्वाइप करता है तो उसका सारा डाटा जैसे कार्ड की ब्लैक स्ट्रीप व सीवीवी नंबर स्कैन हो जाता है। इसके अलावा आरोपी एटीएम की कीपैड के पास एक छोटा कैमरा लगा देते थे। इससे आरोपी को पीड़ित का पासवर्ड पता चल जाता है। इसके अलावा आरोपी अशिक्षित लोगों की मदद के बहाने छोटे स्कीमर में उसके कार्ड का डाटा रिकॉर्ड कर लेते थे। पुलिस पूछ ताछ में सामने आया है कि आरोपी पिछले दो साल से फर्जीवाड़ा कर रहे हैं। अभी तक आरोपियों ने सैकड़ों लोगों के कार्ड की डिटेल चोरी कर उनके खाते से 1 करोड़ से ज्यादा रुपये निकाले हैं। रुपये निकालने के बाद आरोपी आपस में हिस्सा बांट लेते थे। पुलिस आरोपियों के बैंक खातों की जानकारी जुटा रही है। खातों में जमा रकम को फ्रीज कराया जाएगा।

Related posts

सीनियर सिटिज़न से ऑनलाइन ठगी करने के आरोपित को थाना मनसा देवी की टीम ने किया अरेस्ट।

Ajit Sinha

फरीदाबाद: स्कूल मालिक से फिरौती मांगने के उद्देश्य से अपहरण के सनसनीखेज मामले में एक और आरोपित अरेस्ट।

Ajit Sinha

अपराध शाखा, पालम विहार, गुरुग्राम ने आज 25 हजार के ईनामी एक कुख्यात अपराधी को अरेस्ट किया हैं।  

Ajit Sinha
//thelrourg.net/4/2220576
error: Content is protected !!