Athrav – Online News Portal
दिल्ली नई दिल्ली राष्ट्रीय स्वास्थ्य

इस बार डेंगू से संबंधित एक भी मौत नहीं हुई है, दिल्लीवासियों की प्रतिबद्धता को सलाम- सीएम अरविंद केजरीवाल

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
नई दिल्ली:मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने डेंगू विरोधी अभियान ‘10 हफ्ते, 10 बजे, 10 मिनट’ के अंतिम सप्ताह दिल्ली के लोगों को इस अभियान में सक्रीय भागीदारी लेने के लिए बधाई दी, जिसके परिणाम स्वरूप दिल्ली में इस साल डेंगू के चलते एक भी मौत नहीं हुई है। दिल्ली के लोगों ने 2015 में आए 15,867 डेंगू के मामलों को इस साल सफलतापूर्वक 489 तक लाने में कामयाबी हासिल की है। 2015 में डेंगू से हुईं 60 मौतों की तुलना में इस साल डेंगू से एक भी मौतें नहीं हुई हैं। सीएम अरविंद केजरीवाल की अपील पर आरडब्ल्यूए, बच्चों, व्यापारियों, मशहूर हस्तियों और दिल्ली के निवासी लगातार दूसरे साल भी डेंगू को सफलतापूर्वक हराने के लिए एक साथ आगे आए। सीएम ने डेंगू विरोधी अभियान का समर्थन करने और लगातार दूसरे साल इस बीमारी को हराने के लिए दिल्ली की जनता की सराहना की।

‘10 हफ्ते, 10 बजे, 10 मिनट’ डेंगू विरोधी अभियान के अंतिम सप्ताह को और सफल बनाते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा, ‘‘दिल्ली बधाई! डेंगू के खिलाफ 10 हफ्ते चली मुहिम में आपकी सहभागिता और एकजुटता ने लगातार दूसरे साल इस बीमारी को हराकर मिसाल कायम की है। डेंगू से इस बार एक भी मौत नहीं हुई। दिल्ली वासियों की प्रतिबद्धता को सलाम।’’इस साल डेंगू से संबंधित एक भी मौतों नहीं होने के लिए ‘10 हफ्ते, 10 बजे, 10 मिनट’ अभियान को श्रेय देते हुए स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन कहा, ‘सीएम अरविंद केजरीवाल सरकार के ‘10 हफ्ते 10 बजे, 10 मिनट’ का अभियान यह उदाहरण पेश करता है कि सरकार द्वारा चलाए जा रहे समुदाय द्वारा संचालित अभियान कितना प्रभावी है और इससे ठोस परिणाम निकल सकते हैं। हम सभी मिलकर डेंगू से होने वाली मौतों को शून्य पर लाने में सफल रहे। सीएम अरविंद केजरीवाल ने 6 सितंबर को अपने घर में जमा पानी का निरीक्षण करने और उसे बदलने के लिए ‘10 हफ्ते, 10 बजे, 10 मिनट’ डेंगू विरोधी अभियान की शुरूआत की थी। 
पिछले साल दिल्ली निवासियों, आरडब्ल्यूए, धार्मिक और सांस्कृतिक संगठनों, मंत्रियों, विधायकों और नेताओं व प्रभावशाली लोगों के समान सहयोग ने शहर में डेंगू के प्रभाव को कम करने में बहुत बड़ी भूमिका निभाई थी, जिसके कारण पिछले साल सिर्फ 2036 मामले आए थे और दो मौत हुईं थी, जबकि 2015 में 15867 मामले आए थे और 60 मौतें हुईं थी। डेंगू विरोधी अभियान के पहले संस्करण 2019 में शुरू किया गया था। महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने ‘10 हफ्ते, 10 बजे, 10 मिनट’ डेंगू विरोधी अभियान की सराहना करते हुए ट्वीट किया, ‘‘ऐसा लगता है कि समाचार का यह एक छोटा सा टुकड़ा है, लेकिन इस तरह के ‘मानव विकास’ के संकेतक हमारे रोजमर्रा के जीवन की गुणवत्ता को प्रभावित करते हैं। इस तरह के मील के पत्थर जश्न मानने लायक हैं।’‘ प्रख्यात गायक शंकर महादेवन भी अभियान के समर्थन में आगे आए।

*डेंगू हेल्पलाइन-*
इस वर्ष दिल्ली सरकार ने आम जनता की सहायता के लिए डेंगू हेल्पलाइन 01123300012 और व्हाट्सएप हेल्पलाइन- 8595920530 भी शुरू की है।
*हर रविवार को ‘10 हफ्ते 10 बजे 10 मिनट’ अभियान के तहत यह उपाय करें-*

घर में एकत्रित स्वच्छ जमा (स्थिर) पानी को बदलें।- डेंगू का मच्छर साफ स्थिर पानी में पनपता है। बर्तन, कूलर, एसी, टायर, फूलदान आदि में जमा पानी को हर हफ्ते खाली कर देना चाहिए और बदलना चाहिए।- जमा हुए पानी में तेलध्पेट्रोल डालें, जिससे पानी पर छोटी परत बन जाए।- पानी की टंकी को हमेशा ढक्कन से ढक कर रखें।- दिल्ली के लोग अपने घरों का निरीक्षण करने के बाद अपने 10 दोस्तों को अभियान के संबंध में फोन करें। सभी के सहयोग से दिल्ली से डेंगू को खत्म किया जा सकता है।****

Related posts

प्रियंका का भाजपा को जवाब- संविधान देश की जनता का है, इसे कोई नहीं बदल सकता

Ajit Sinha

त्योहारों के करीब आते ही एक्शन में खाद्य सुरक्षा विभाग, हल्दीराम, मिठास रेस्टोरेंट समेत कई दुकानों से भरे सैंपल

Ajit Sinha

गुरुग्राम: राज्य सरकार की हिदायत अनुसार आरटी पीसीआर टेस्ट के रेट हुए कम।

Ajit Sinha
//feetheho.com/4/2220576
error: Content is protected !!