Athrav – Online News Portal
अपराध नोएडा

सॉफ्टवेयर के माध्यम से कार के सेंसर को ब्रेक करके लॉक तोड़कर गाड़ियां चोरी करने वाले गिरोह का मास्टर माइंड पुलिस मुठभेड़ में घायल

अरविन्द उत्तम की रिपोर्ट 
ग्रेटर नोएडा के कोतवाली बीटा-2 पुलिस और कार सवार बदमाशों के बीच चूहड़पुर अंडरपास के पास मुठभेड़ में पुलिस की गोली लगने से 25 हजार रुपये का इनामी बदमाश घायल हो गया। आरोपी की पहचान गाजियाबाद निवासी अर्शिल के रूप में हुई है। वह नए मॉडल की लग्जरी कारों के सेंसर तोड़कर पलक झपकते ही कार चोरी कर लेता है। उसके खिलाफ ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद, लखनऊ व दिल्ली में दर्जनों वाहन चोरी के मुकदमे दर्ज हैं। गिरोह के चार अन्य बदमाशों को पूर्व में पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है। अर्शिल के कब्जे से तमंचा, कारतूस व घटना में प्रयुक्त आई-20 कार की बरामद की गई है।

पुलिस से हुई मुठभेड़ के बाद घायल बदमाश अर्शिल को इलाज के लिए जाती हुई पुलिस की टीम। पकडा  गया बदमाश अर्शिल शातिर किस्म का वाहन चोर है जो सॉफ्टवेयर के माध्यम से कार के सेंसर को ब्रेक करके लॉक तोड़कर गाड़िया चोरी कर अन्य प्रांतों में बेचता था। डीसीपी राजेश कुमार ने बताया कि 20 जनवरी को बीटा-टू थाना पुलिस ने अंतरराज्यीय वाहन चोर गिरोह का खुलासा किया था। उस दौरान गिरफ्तार आरोपियों की पहचान कैला भट्टा, मोती मस्जिद, गाजियाबाद निवासी इस्माइल व वाहिद और नीमच, मध्यप्रदेश निवासी फिरोज और चौहान खेड़ा चित्तौड़गढ़, राजस्थान निवासी दिनेश चंद्र सुतार के रूप में हुई थी। गिरोह का मास्टर माइंड फरीदनगर ,मोदीनगर निवासी अर्सिल फरार हो गया था। पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से साइट-5 स्थित बंद पड़ी फैक्ट्री से 8 एसयूवी समेत 11 वाहन बरामद किए थे। गिरोह का मास्टर माइंड फरीदनगर ,मोदीनगर निवासी अर्सिल फरार हो गया था। अर्शिल के उपर 25 हज़ार का इनाम घोषित किया हुआ था। डीसीपी ने बताया कि मुखबिर कि सूचना पर चूहड़पुर अंडरपास के समीप बीटा-2 थाना प्रभारी रामेश्वर की टीम सर्विस लेन पर वाहनों की चेकिंग कर रही थी। तभी एक कार को रुकने का इशारा किया तो चालक ने गति बढ़ा दी। जब घेराबंदी करने लगी तो फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस ने जवाबी कार्रवाई कर आरोपी अर्शिल को दबोच लिया। पुलिस की गोली लगने से अर्शिल घायल हो गया। बदमाश को अस्पताल भेजा गया है। उसके पास से कार, तमंचा और कारतूस बरामद हुआ है।    

Related posts

पीएस स्पेशल सेल ने 22 साल की उम्र की एक दिशा रवि को बेंगलुरु से गिरफ्तार किया है।

Ajit Sinha

माचिस देने के बहाने अपने कमरे पर बुलाकर,नाबालिक को बंधक बना कर किया बलात्कार, आरोपित गिरफ्तार।

Ajit Sinha

एसएचओ 50,000 रिश्वत लेते रंगे हाथ अरेस्ट, खनन सामग्री से लदे ट्रकों को सढ़ौरा क्षेत्र से निकालने के लिए मांगी थी घूस

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//lushaseex.com/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x