Athrav – Online News Portal
दिल्ली नई दिल्ली

लाश की फोटो ले रहा था फोटोग्राफर, तभी मुर्दे के मुंह से आई आवाज और…

केरल के एर्नाकुलम में एक फोटोग्राफर अस्पताल के बाहर पुलिस की कागजी कार्रवाई के लिए एक मृत व्यक्ति की तस्वीरें ले रहा था. तभी अचानक उसे कुछ आवाज आई. फोटोग्राफर को शक हुआ. जब वह मृत व्यक्ति के पास गया तो उसके मुंह से बेहद धीमी आवाज आ रही थी. फोटोग्राफर ने तत्काल पुलिस को बताया. इसके बाद जिसे मरा हुआ समझ लिया गया था वह जिंदा निकला और अब उसका आईसीयू में इलाज चल रहा है.फोटोग्राफर टोमी थॉमस को एर्नाकुलम जिले के कालामस्सेरी इलाके की एदाथाला पुलिस ने एक मर गए शख्स की तस्वीर लेने के लिए बुलाया. जिसे मरा हुआ समझा जा रहा था उसका नाम है सिवादासन. पुलिस ये मान चुकी थी कि सिवादासन अब जिंदा नहीं है.(फोटोः गेटी)

टोमी ने जैसे ही पास से सिवादासन की फोटो लेने गए. मरा हुआ समझा जा रहा सिवादासन कुछ बोलने लगा. इसके बाद टोमी थॉमस ने वहां मौजूद पुलिस को सूचना दी. इसके बाद पुलिस ने सिवादासन को त्रिशूर के जुबली मिशन अस्पताल में भर्ती कराया.अब सिवादासन का इलाज आईसीयू में चल रहा है. अस्पताल के डॉक्टरों ने कहा कि अगर टोमी ने सही समय पर सिवादासन की आवाज सुनकर यहां नहीं पहुंचाया होता तो यह मर गया होता.
सिवादासन पलक्कड़ में कालामस्सेरी के पास एक किराए के घर में अकेले रहते हैं. रविवार को कोई सिवादासन से मिलने उनके घर गया. उसे लगा कि सिवादासन मर गए हैं. उसने पुलिस को सूचना दे दी. इसके बाद ये सारी घटना घटी.

48 वर्षीय टोमी थॉमस ने स्थानीय मीडिया को बताया कि वो पिछले 25 सालों से पुलिस विभाग के लिए ऐसी फोटोग्राफी कर रहे हैं. मैं जब सिवादासन के घर में पहुंचा तो वो मुंह के बल गिरे पड़े थे. उनके सिर से खून निकल रहा था. जो कि बिस्तर के कोने से टकराया था.सिर का घाव और खून जम गया था. कमरे में रोशनी पर्याप्त नहीं थी, इसलिए मैं सिवादासन की तरफ झुका. ताकि उनके पीछे दीवार पर लगे लाइट स्विच को दबा सकूं. तभी मुझे सिवादासन की आवाज सुनाई पड़ी. मैंने दो बार कान लगाकर सुना तो वो वैसी आवाज थी जैसी लोग सोते समय लेते हैं. मैं एकदम से पुलिस वालों की तरफ दौड़ पड़ा कि ये आदमी जिंदा है.इसके बाद पुलिस और मैंने सिवादासन को सीधा किया. तब उनकी धड़कन सुनाई पड़ी. तत्काल एंबुलेंस में बिठाकर उन्हें अस्पताल ले जाया गया. अस्पताल में पता चला कि सिवादासन हाई ब्लडप्रेशर के अटैक के चलते गिर पड़े थे.बिस्तर के कोने पर गिरने की वजह से उनके सिर में गहरी चोट आ गई है. लेकिन अभी वो ठीक है. उनका इलाज चल रहा है.

Related posts

सीएम अरविंद केजरीवाल ने सरिता विहार में 330 बेड के निर्माणाधीन आईसीयू अस्पताल का दौरा कर लिया जायजा

Ajit Sinha

कोरोना वायरस संकट के बीच मोदी सरकार ने बदला ये नियम, 75 करोड़ लोगों पर असर

Ajit Sinha

एसआई रणबीर सिंह ने आईबीएस अस्पताल के लिए 50 लिक्विड ऑक्सीजन सिलेंडर की व्यवस्था कर मरीजों की बचाई जान। 

Ajit Sinha
//ewhareey.com/4/2220576
error: Content is protected !!