Athrav – Online News Portal
कश्मीर जम्मू दिल्ली नई दिल्ली राष्ट्रीय

जम्मू -कश्मीर: ट्रक से आ रहे आतंकियों से नगरोटा में मुठभेड़, सेना ने 4 आतंकियों को मार गिराया, हाइवे बंद

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ सुरक्षाबलों का अभियान जारी है. खुफिया जानकारी के बाद नगरोटा में सुरक्षा बल ने कड़ी की और हर नाके पर आने जाने वाले वाहनों की जांच शुरू की गई.इस दौरान सुरक्षा बलों ने बान टोल प्लाजा के पास एक नाका लगाया था.वाहनों की जांच के दौरान आतंकवादियों के एक समूह ने सुरक्षा बलों पर सुबह 5 बजे फायरिंग शुरू कर दी. फायरिंग के बाद आतंकी जंगल की तरफ भागने लगे. फिर मुठभेड़ शुरू हो गई. सूत्रों ने बताया कि एनकाउंटर में 4 आतंकवादी मारे गए हैं. एनकाउंटर के चलते जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग बंद है.

जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने बताया कि मारे गए सभी आतंकी जैश-ए-मोहम्मद से जुड़े हुए थे. मारे गए चार आतंकियों में से तीन के शव बरामद कर लिए गए हैं. चौथे आतंकी के शव की तलाश की जा रही है. डीजीपी दिलबाग सिंह ने बताया कि इस एनकाउंटर में कुछ पुलिसकर्मियों को भी मामूली चोटें आई हैं. जम्मू के एसएसपी श्रीधर पाटिल भी मामूली रूप से घायल हो गए हैं. माना जा रहा है कि 3-4 आतंकवादी ट्रक के जरिये जम्मू-श्रीनगर हाईवे के रास्ते कश्मीर जाने की कोशिश कर रहे थे. इसी दौरान सुरक्षाबलों ने आतंकियो को घेर लिया और फिर एनकाउंटर शुरू हो गया.

इस घटना के चलते जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग के साथ लगे नगरोटा में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है, वाहनों की आवाजाही पर नजर रखी जा रही है. बहरहाल, सुरक्षा बलों ने बताया कि गाड़ी चेकिंग के दौरान आतंकियों ने फायरिंग करनी शुरू कर दी. सुरक्षा बलों को कश्मीर में आतंकियों के ट्रक से जाने की सूचना थी. इसकी जांच करने के लिए हाइवे पर नाका लगाकर गाड़ियों की जांच शुरू की गई थी. जिस ट्रक रोका गया है उस पर जम्मू-कश्मीर का नंबर लगा हुआ है. अभी एनकाउंटर जारी है. हाइवे बंद है. आतंकियों के ट्रक से भारी मात्रा में गोला बारूद बरामद किया गया है. इससे पहले 6 नवंबर 2020 को दक्षिणी कश्मीर के पुलवामा जिले के मेज पंपोर इलाके में आतंकियों और सुरक्षाबलों की मुठभेड़ हुई थी. मुठभेड़ अगले दिन सुबह तक चली. इस एनकाउंटर में एक आतंकी को मार गिराया गया है. वहीं, एक को सरेंडर करने के पर मजबूर भी किया. इस एनकाउंटर के दौरान दो स्थानीय लोग भी घायल हो गए, जिसमें एक की मौत हो गई.सेना की माने तो यह आतंकी होने वाले जिला पार्षद चुनाव में प्रत्याशी और उनके द्वारा आयोजित किए जाने वाले जनसभाओं में हमला करना था। सेना की इस कार्रवाई में सैकड़ों लोगों की जिंदगी बचाने का कार्य किया हैं। यह सभी आतंकी जैश ए मोहम्मद के थे। आतंकी की इस साजिश को विफल करने पर भारत वर्ष के लोग अपने सेना को सलूट कर रहे हैं। 

Related posts

केजरीवाल सरकार ने दिल्ली में निजी ईवी चार्जिंग स्टेशनों की स्थापना के लिए सिंगल विंडो सुविधा शुरू की

webmaster

आकाशीय बिजली गिरने से मोबाइल फटा, युवक की झुलसने से मौत, 7 महीने पूर्व में हुई थी शादी   

webmaster

सिर्फ 7 मिनट में बनेगा सऊदी अरब का टूरिस्ट वीजा, 1 साल के लिए होगा वैध, जानिए पूरी डिटेल्स

webmaster
//ashoupsu.com/4/2220576
error: Content is protected !!