Athrav – Online News Portal
दिल्ली राजनीतिक राष्ट्रीय

‘हवाला केस में फंसे करीबी का हाल पूछने गए थे अहमद पटेल, नहीं थी छापेमारी की जानकारी’,छापेमारी में 281 करोड़ के संपत्ति का पता चला।

लोकसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान से ठीक पहले कांग्रेस के कई नेताओं के करीबियों पर छापेमारी तेज हो गई है. पहले मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री कमलनाथ के करीबी के घर छापे पड़े और सोमवार रात कांग्रेस के दिग्गज नेता अहमद पटेल के करीबी भी इस घेरे में आ गए. आरोप लगा कि कांग्रेस के पास करीब 20 करोड़ रुपये की रकम हवाला के जरिए आई है. अब इस मामले में अहमद पटेल के करीबी सूत्र ने पूरी जानकारी दी है.

करीबी सूत्र के दावे के मुताबिक, ‘अहमद पटेल पार्टी के कोषाध्यक्ष हैं और जिसके घर आयकर विभाग ने छापा मारा वह एसएम मोइन उनका ही चीफ अकाउंटेंट है. सोमवार को वह पूरे दिन ऑफिस नहीं आया था, बताया गया कि वह बीमार है. अहमद पटेल शाम को उनके घर हालचाल लेने पहुंचे तो उन्हें छापेमारी की कोई जानकारी नहीं थी. उन्हें वहां पर जाने से भी किसी ने रोका नहीं था.’अहमद पटेल वहां करीब 10 मिनट तक रुके, लेकिन बाद में छापेमारी हुई क्या हुआ उन्हें इसके बारे में पूछताछ नहीं है. अहमद पटेल के सूत्र ने कहा कि कांग्रेस किसी तरह के हवाला से ताल्लुक नहीं रखती है, इस तरह की बातें चुनाव से पहले कौन फैला रहा है इसका मालूम नहीं है. बता दें कि सोमवार को जब आयकर विभाग की टीम राजधानी दिल्ली की गीता कॉलोनी में मोईन के घर छापेमारी के लिए पहुंची तो उनके साथ मीडियाकर्मी भी मौजूद थे. तभी लोकल लोगों ने वहां पर हंगामा किया और कई मीडियाकर्मियों के साथ बदसलूकी की.



दरअसल, आयकर विभाग का कहना है कि एसएम मोइन ने ही हवाला के 20 करोड़ रुपये कांग्रेस दफ्तर में पहुंचाए थे. इसी शक में IT ने दिल्ली, एनसीआर, भोपाल, इंदौर और गोवा में छापेमारी की. बताया जा रहा है कि करीब 300 अधिकारियों ने ये सर्च ऑपरेशन चलाया और 52 ठिकानों पर रेड मारी.इस मामले से पहले आयकर विभाग ने मध्य प्रदेश में छापेमारी की थी, जिसमें कमलनाथ के करीबी का नाम आया था. मध्य प्रदेश की छापेमारी में करीब 281 करोड़ से अधिक की संपत्ति बरामद की गई थी. कांग्रेस पार्टी ने भारतीय जनता पार्टी की सरकार पर एजेंसियों का गलत इस्तेमाल कर चुनाव से पहले विपक्ष की आवाज़ दबाने का आरोप लगाया है.

Related posts

एलजी साहब से निवेदन है कि दिल्ली के लोगों की सांसों पर राजनीति ना करें- गोपाल राय।

Ajit Sinha

दिल्ली सरकार के स्कूलों में बच्चे सीखेंगे अब जर्मन लैंग्वेज- उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया

Ajit Sinha

360 किलोमीटर और 264 स्टेशनों वाली दिल्ली मेट्रो ने ट्रेनों और स्टेशनों समेत अपने सभी परिसरों में सफाई तेज कर दी है।

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//leezeept.com/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x