Athrav – Online News Portal
गुडगाँव हरियाणा

शहर में लगभग 100 स्थानों पर लगाए जाएंगे जी-20 लोगो, इमारतों को किया जाएगा जगमग


अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
चंडीगढ़: गुरुग्राम में 1 से 3 मार्च तक आयोजित होने वाले जी-20 देशों के एंटी करप्शन वर्किंग ग्रुप की बैठक की तैयारियां शुरू हो चुकी हैं। हरियाणा के मुख्य सचिव संजीव कौशल ने शुक्रवार को कार्यक्रम की तैयारियों की विभागवार समीक्षा की। लघु सचिवालय स्थित कॉन्फ्रेंस हॉल में आयोजित बैठक में जीएमडीए के सीईओ सुधीर राजपाल, पुलिस कमिश्नर कला रामचंद्रन तथा डीसी निशांत कुमार यादव ने मुख्य सचिव को कार्यक्रम से जुड़ी तैयारियों के बारे में विस्तार से अवगत करवाया।

मुख्य सचिव ने कहा कि जी-20 शिखर सम्मेलन की बैठकों को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का कहना है कि सभी राज्य इस दौरान अपनी समृद्ध संस्कृति और बेहतर पहलुओं का प्रदर्शन करें ताकि सम्मेलन में आने वाले विदेशी मेहमानों के मन में भारत की अच्छी छवि बनें। हमें अपनी अतिथि देवो भवः: की परंपरा की नज़ीर पेश करनी है । उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल इस सम्मेलन की तैयारियों की निरंतर मोनिटरिंग कर रहे हैं। ऐसे में आयोजन से जुड़ी तैयारियों को समय रहते पूरा कर लें। इस आयोजन को लेकर गुरूग्राम में करीब 100 सार्वजनिक स्थलों पर जी-20 के लोगो (प्रतीक चिन्ह ) प्रदर्शित किए जाएंगे। इसके साथ मेट्रो पिलरस, राष्ट्रीय राजमार्ग व विभिन्न इमारतों को रोशन किया जाएगा।

मुख्य सचिव ने आयोजन से जुड़े स्थल, सम्मेलन में भाग लेने वाले प्रतिनिधियों के ठहरने के इंतजाम, भ्रमण के लिए म्यूजियों कैमरा, सुल्तानपुर लेक, बायोडायवर्सिटी पार्क, साइबर हब, तावडू का कार म्यूजियम, प्रतापगढ़ फार्म आदि स्थानों को लेकर स्वच्छता, हरियाली, सुरक्षा इंतजामों, सड़कों के रखरखाव व यातायात प्रबंधन आदि विषयों पर विस्तार से चर्चा की। बैठक में बताया गया कि शहर में विभिन्न स्थानों पर जी-20 सम्मेलन के लोगो आकर्षक ढंग से प्रदर्शित किए जाएंगे। मुख्य मार्गों पर सम्मेलन के लोगो के साथ इनफॉर्मेटरी बोर्ड लगाए जाएंगे। म्युजियो कैमरा में 42 अग्रणी फोटोग्राफर्स द्वारा भारत की पिछले 75 वर्षों में फोटोग्राफी के सफर पर आधारित प्रदर्शनी लगाई जाएगी।

बैठक में सुल्तानपुर लेक पर विदेशी प्रतिनिधि मण्डल की यात्रा के दौरान हरियाणा प्रदेश में संचालित महिला स्वयं सहायता समूहों की कार्यप्रणाली को प्रदर्शित करने का निर्णय लिया गया। इसमें मुख्य रूप से अंतर्राष्ट्रीय मिलेट ईयर (मोटा अनाज वर्ष) पर फोकस करते हुए मोटे अनाज से तैयार उत्पादों से मेहमानों का स्वागत किया जाएगा। वहां पर अतिथियों का हरियाणवीं पारंपरिक पगड़ी बांधकर और तिलक लगाकर भी स्वागत किया जाएगा। मुख्य सचिव ने स्वास्थ्य संबंधी इंतजामों को लेकर भारत सरकार के विदेश मंत्रालय के प्रोटोकॉल के अनुसार आयोजन स्थल पर स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए। साथ ही आस-पास के निजी स्वास्थ्य संस्थानों को भी सम्मेलन के दौरान अलर्ट पर रखने की बात कही। सिविल सर्जन डा. वीरेंद्र यादव ने बताया कि आयोजन स्थल पर 24 घंटे स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध रहेंगी जिसमें चिकित्सक और पैरामेडिकल स्टाफ तैनात रहेगा। इसके अलावा एएलएफ सुविधायुक्त एंबुलेंस उपलब्ध रहेंगी ।इस अवसर पर संयुक्त पुलिस आयुक्त कुलविंदर सिंह, डीसीपी ट्रैफिक वीरेंद्र सिंह, डीसीपी ईस्ट वीरेंद्र विज, चीफ प्रोटोकॉल ऑफिसर वत्सल वशिष्ठ, जीएमडीए के एडीशनल सीईओ सुभाष यादव, नगराधीश दर्शन यादव, नगर निगम के अतिरिक्त आयुक्त रोहिताश बिश्नोई, लोक निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियंता प्रवीण चौधरी सहित कई विभागों के अधिकारीगण उपस्थित थे।

Related posts

चलते -फिरते अकेले लोगों को थ्री व्हीलर में उठा,फिर उसे लिटा कर पीटने, फिर लूट की वारदात को अंजाम देने वाले 4 दबोचे गए

Ajit Sinha

हरियाणा विजिलेंस ने 24 घंटे में 6 रिश्वतखोरों को घूस लेते किया अरेस्ट, कौन- कौन से हरामखोर के नाम जानने हेतु पढ़े

Ajit Sinha

कंटेनमेंट जोन के बाहर अनलाॅक-1 के आदेश के बाद सभी औद्योगिक इकाईयों ने संचालन शुरू कर दिया है: डीसी

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//dukingdraon.com/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x