Athrav – Online News Portal
अपराध गुडगाँव

सोशल मीडिया पर महिलाओं से दोस्ती करके, उनसे 160000 रूपए ठगने वाले एक नाइजीरियन सहित चार ठग अरेस्ट।


अजीत सिन्हा की रिपोर्ट
गुरुग्राम: सोशल मीडिया पर महिलाओं से दोस्ती करके,और विदेश सोना व 20000 पाउंड भेजने के नाम पर उनसे 160000 रुपए ठगने के मामले में साइबर अपराध ,पूर्व गुरुग्राम ने एक नाइजीरियन सहित कुल चार आरोपितों को अरेस्ट किए हैं। अरेस्ट किए गए आरोपितों के कब्जे से पुलिस ने 25 मोबाइल फोन, 65 डेबिट कार्ड, 34 चेक बुक, 12 पासबुक व नगदी बरामद किए हैं। ये जानकारी आज एसीपी क्राइम प्रीतपाल सांगवान ने अपने कार्यालय के कांफ्रेंस हॉल में आयोजित प्रेस वार्ता में दिए हैं।

एसीपी क्राइम प्रीतपाल सांगवान ने पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि गत  22 मार्च 2023 को एक महिला ने पुलिस थाना साइबर अपराध पूर्व, गुरुग्राम में शिकायत दी कि जनवरी 2023 में उसके पास एक इंस्टाग्राम आईडी से फ्रेंड रिक्वेस्ट आई जिसमें उस व्यक्ति ने अपना परिचय यू.के. में डॉक्टर के रूप में दिया। और इनकी आपस मे बात होने लगी तो एक दिन उस व्यक्ति ने कहा कि उसने उसके लिए गोल्ड और 20000 पाउंड भेजे हैं। दिनांक 30 जनवरी 20 23 को उसके पास एक लड़की का फोन आया जिसने अपने आपको कोरियर कंपनी से बताया और कहा कि उसके  नाम का गोल्ड और विदेशी मुद्रा आई हुई है, जिसको लेने के लिए उसको  ₹55000 टैक्स देना होगा, उसके कहने अनुसार उसने रुपए ट्रांसफर करा दिए। इसके बाद टैक्स के नाम पर ₹327920 ट्रांसफर करवा लिए तथा उसको  झूठे केस में फंसाने की धमकी देकर उससे  कुल ₹1600000 ठग लिए।  इस शिकायत पर थाना साइबर अपराध पूर्व , गुरुग्राम में आईपीसी की धारा 419, 420 120B के तहत मुकदमा दर्ज  किया गया। उनका कहना हैं कि थाना साइबर अपराध पूर्व , गुरुग्राम की टीम ने उपरोक्त मुकदमा  की वारदात को अंजाम देने में शामिल एक नाइजीरिया सहित कुल 04 आरोपितों  को अरेस्ट  किया है जिनकी पहचान *चिबुके (नाइजीरियन), अमन, राहुल और संतोष कुमार* के रूप में हुई। पुलिस टीम द्वारा *गत 3 अप्रैल 2023 को आरोपित  अमन, राहुल व संतोष कुमार को मंडावली क्षेत्र दिल्ली से तथा नाइजीरियन को कल बुधवार को दिल्ली से अरेस्ट  किया गया। आरोपितों से पूछताछ में ज्ञात हुआ  कि उपरोक्त नाइजीरियन आरोपी को आठ साल पहले मुंबई से डिपोर्ट किया गया था, जो अब फिर से सेनेगल पासपोर्ट/वीजा पर वापिस भारत आया था और यह लगातार उपरोक्त वारदातों को अंजाम देने में सक्रिय था। आरोपितों  ने पुलिस पूछताछ में यह भी खुलाशा किया कि ये लोग लड़कियों से सोशल मीडिया पर बातचीत करके उनको अपने विश्वास में लेकर पार्सल या गिफ्ट भेजने के नाम पर उनसे ठगी करते है। ये एक गिरोह के रूप में कार्य करते है, ये उक्त प्रकार से धोखाधड़ी करके उपरोक्त आरोपी राहुल के बैंक खाता में रुपए ट्रांसफर करवाते थे तथा आरोपी अमन उक्त बैंक खाता से रुपए निकलवाकर आरोपी संतोष कुमार उपरोक्त को दे देता था और संतोष इन ठगी के रुपयों को नाइजीरियन मूल के आरोपी चिबुके उपरोक्त तक पहुँचा देता था। पुलिस टीम ने  उपरोक्त आरोपितों  के कब्जा से *25 मोबाइल फोन्स, 65 डेबिट कार्ड, 34 चेक बुक्स, 12 पासबुक व नगदी* बरामद की गई है। आगामी कार्रवाई  के लिए पुलिस टीम द्वारा आरोपियों को अदालत ले सम्मुख पेश किया जाएगा। अभियोग अनुसंधान अधीन है। इससे पहले भी दिनांक 3 अप्रैल 2023 को शादी ऐप को माध्यम बनाकर महिलाओं को अपने विश्वास/झांसे में लेकर उनसे रुपए ठगी करने के मामले में एक नाइजीरिया मूल के आरोपी को थाना साइबर अपराध दक्षिण, गुरुग्राम की पुलिस टीम द्वारा अरेस्ट करके जेल भेजा था।

Related posts

धोखेबाज इंजीनियर गिरफ्तार,पालिसी बाजार के नाम फर्जी पॉलिसी करके लोगों को करोड़ों का चुना लगा चुका हैं।

Ajit Sinha

मछली पकड़ने के अवैध धंधे की छूट देने के दौरान इस टैंक में गिरकर कोई मर जाए तो इसका जिम्मेदार कौन होगा : रॉकी मित्तल

Ajit Sinha

एसटीएफ पलवल की टीम ने एक ट्रक में भरी हुई मौसमी के बीच छिपा कर लाइ जा रही 224 किलोग्राम गांजा पत्ती बरामद।

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//sauptowhy.com/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x