Athrav – Online News Portal
फरीदाबाद

फरीदाबाद : एक शख्स पर हुए कातिलाना हमले का केस तीन दिनों के बाद दर्ज नहीं, उल्टा दस हजार रूपए पुलिस ने ले लिए, केस दर्ज नहीं, केस दर्ज हैं,सीपी

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट
फरीदाबाद : सावधान अगर आपके सामने कोई झगड़ा कर रहा है तो बीच बचाव बिल्कुल मत कीजिएगा,हम यह बात इसलिए कह रहे है कही आप झगडे का शिकार न हो जाएं।ऐसा ही एक मामला सामने आया है फरीदाबाद की इंद्रा कलोनी से जहाँ एक युवक को घर के सामने झगड़ रहे दो युवकों का बीच-बचाब करना महंगा पड़ गया,झगड़ा कर रहे युवको ने अपने और साथियों के साथ मिलकर बीच बचाव कराने वाले युवक के घर मे घुस कर उस पर जानलेवा हमला कर दिया,लाठी डंडों से उसकी बुरी तरह से पिटाई कर दी और उसे अधमरा करके फरार हो गए ।इस हमले में घायल युवक के सिर में 37 टाँके आए  है जिसका इलाज सिविल अस्पताल बादशाह खान में चल रहा है। इस घटना में स्थानीय पुलिस ने सोने पर सुहागे का काम किया घटना के तीन दिन बीत जाने के बाद भी पीड़ित की FIR दर्ज नही की और उल्टे पीड़ित युवक पर फैसले का दबाव बना रही है । इतना ही नही इस घटना की जाँच कर रहे पुलिसकर्मी  पर आरोप है कि उसने उनकी FIR दर्ज करने की एवज में 10 हजार रूपए  भी ले लिए। atharv news ने इस मामले में पुलिस कमिश्नर हनीफ कुरैशी से बातचीत की तो उनका का कहना हैं कि इस मामले को चैक करवाते हैं आखिर समस्या कहा हैं अगर इस केस में किसी भी पुलिस कर्मी की कोई गलती पाई जाएगी तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। जांच के बाद पुलिस कमिश्नर हनीफ कुरैशी ने बताया कि यह मुकदमा आल रेडी दर्ज हैं अब पुलिस इसके आगे की  कार्रवाई रहीं हैं। 
अस्पताल के बिस्तर पर लहूलुहान हालत में लेटा दिखाई  दे रहा यह वही शख्स  अरविन्द यादव है जिसका कसूर सिर्फ इतना था कि  इसने अपने घर के सामने झगड़ा कर रहे दो लड़कों का बीच-बचाव करवा कर उनके घर भेज दिया था, पीड़ित अरविंद यादव की मानें तो वह लोग 20-25 की संख्या में आए  और उसके घर में घुस कर लाठी डंडों से बुरी तरह से पीट कर लहूलुहान कर दिया और फरार हो गए। वही घायल युवक की पत्नी के रानी के आखों से छलकते आंसू इस बात की गवाही दे रहे है कि  उसके पति को बदमाशों  ने घर मे कितनी बुरी तरह से पीटा है ,इस महिला के मुताबिक उसके घर के सामने दो युवक झगड़ा कर रहे थे झगड़ा देख उसके पति ने उनका बीच बचाव करा दिया लेकिन उन बदमाशों  को ये बात नागवांर गुजरी और कुछ देर बाद उन्होंने 20-25 की संख्या में पहुँच कर उसके घर पर हमला कर दिया और बदमाशों  के हाथों   में लाठी डंडे थे जिससे उन्होंने उसके पति अरविंद यादव की घर मे ही बुरी तरह से पिटाई कर दी ,जिससे उसके पति के सिर में 37 टाँके सहित काफी  गंभीर चोटें आई है जिसकी शिकायत उन्होंने सेक्टर -7 थाना पुलिस से की लेकिन घटना को तीन दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ FIR दर्ज नही की है और आरोपी खुलेआम घूम रहे है,पीड़िता के मुताबिक घर मे वह उसकी सास और एक दिव्यांग देवर रहते है अब उन्हें भी आरोपी जान से मारने की घमकी दे रहे है। वही पुलिस ने एक तो तीन दिन बीत जाने के बाद उनकी FIR दर्ज नही की उल्टे उनसे कार्रवाई  करने के नाम पर 10 हजार रूपए  भी ले लिए और अब पुलिस उनपर फैसले का दबाव बना रही है। वही पीड़िता रो-रो कर कह रही है कि  कभी किसी के झगड़े का बीच-बचाव नही करना चाहिए,क्यूंकि  उनके पति ने भी केवल यही कसूर किया था जिसके बाद बदमाशो ने ये हालात कर दी। घायल अरविंद के भाई रविंद्र यादव का कहना हैं कि  पुलिसकर्मी ने कार्यवाही करने की एवज में उनसे 10000 रूपए  ले लिए और अभी तक उनकी FIR दर्ज नही की वही अब उल्टे उनपर फैसले का दबाव बना रही है। वही इस घटना की कार्यवाही करने के नाम पर 10000 हजार रुपये लेने के आरोपी जाँच अधिकारी सुनील कुमार की माने तो उसने उनसे रूपए  नही लिए।लेकिन जब उससे पूछा गया कि   घटना के तीन दिन बीत जाने के बाद भी आरोपियों के खिलाफ FIR दर्ज क्यों नही की तो उसने बेतुका बयान देते हुए कहा कि  रोजनांचे  में इनकी शिकायत दर्ज कर ली गई है घायल की मेडिकल रिपोर्ट आने के बाद FIR दर्ज कर ली जाएगी।
 

Related posts

फरीदाबाद: सूरजकुंड दिवाली उत्सव में दिखी महिला सशक्तिकरण की झलक

Ajit Sinha

फरीदाबाद: जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वावधान में जागरूकता अभियान चलाया गया।

Ajit Sinha

फरीदाबाद: सूरजकुंड रोड स्थित बैंकेट हॉल को शादी के लिए बुक कराया तो फसोगे, फारेस्ट विभाग ने तीसरे दिन जारी रखी तोड़फोड़।

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//groorsoa.net/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x