Athrav – Online News Portal
फरीदाबाद

फरीदाबाद: ग्रीनफील्ड आरडब्ल्यूए ने आज यूआईसी पर लगाया 7 करोड़ के घोटाले का आरोप,एसडीएम बड़खल को सौपा ज्ञापन ।

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
फरीदाबाद: ग्रीन फील्ड रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन ने आज केंद्र सरकार की अर्बन इंप्रूवमेंट कंपनी (यूआइसी) व पार्षद पर विभिन्न सड़कों के निर्माण में करीब सात करोड़ रुपये के घोटाले का गंभीर आरोप लगाया है। ग्रीनफील्ड रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन ने आज इस संबंध में बृहस्पतिवार को एसडीएम बड़खल को ज्ञापन सौंपकर सड़कों के निर्माण कार्य में हुई गड़बड़ी की जांच कराने की मांग की।  

प्रधान विरेंद्र भड़ाना ने बताया कि ग्रीन फील्ड कालोनी का रखरखाव करने व मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराने की जिम्मेदारी अर्बन इंप्रूवमेंट कंपनी की है। इसके लिए अर्बन इम्प्रूवमेंट कंपनी यहां के निवासियों से आंतरिक और बाह्य शुल्क वसूल करती है। यहां सड़कों के निर्माण और मरम्मत का कार्य कराने की जिम्मेदारी भी अर्बन इंप्रूवमेंट कंपनी की है। इससे पहले के पूर्व चेयरमैन द्वारा अर्बन इंप्रूवमेंट कंपनी  अपने स्तर पर 4 सड़को का निर्माण किया था। परंतु उसके बाद कंपनी के वर्तमान चेयरमैन और पार्षद भागीदारी के नाम से एक स्कीम लेकर आए।

इसके तहत सड़क निर्माण लागत का 70 फीसद अर्बन इम्प्रूवमेंट कंपनी, 20 फीसद निवासियों से लेकर और 10 फीसद  पार्षद से लेकर सड़कें बनाई जा रही है। जिस गली के निवासी अपना हिस्सा नहीं देते, उनकी सड़क भी नहीं बनाई जाती। जब सांसद कोटे का पैसा सरकार ने लगाना चाहा तो पार्षद ने अपने नाम से आरटीआई  लगा कर उसको रुकवाने का काम किया जिससे इनकी भागीदारी स्कीम बंद ना हो सके।  पिछले दिनों रोड नंबर- 121 के कुछ परेशान निवासियों ने अपने स्तर पर रुपये एकत्र कर सड़क बनाने का निर्णय लिया।

जब सड़क बनकर तैयार हो गई तो उन्होंने पाया कि सड़क बनाने में उससे आधी लागत आई है, जो यूआइसी बता रही है। भड़ाना ने आरोप लगाया है कि सड़कों के निर्माण में यूआइसी व पार्षद द्वारा बड़े स्तर पर घोटाला किए जाने की आशंका है। उन्होंने बताया कि यह पूरा घोटाला सात से आठ करोड़ रुपये का हो सकता है। उन्होंने एसडीएम को बताया कि यूआइसी व पार्षद करीब 135 सड़कों के निर्माण का दावा कर रही है। यह सभी सड़कें बिना किसी टेंडर के बनवाई गई हैं। उन्होंने इसकी जांच कराने की मांग की है। एसडीएम बड़खल को ज्ञापन देने के दौरान प्रधान वीरेंद्र भड़ाना के साथ वी के टंडन , नूतन शर्मा , राजेश अरोड़ा ,पारुल बाबा, अतुल सरीन , सुशील शर्मा , नरेश नगरवाल , समीर सरकार , रविंदर खन्ना , सीपी सहगल , संगीता अग्रवाल ,रेखा रस्तौगी , पंचमी के साथ सैकड़ों लोग उपस्थित थे। इस मामले में अर्बन इंप्रूवमेंट कंपनी के चेयरमेन भारत भूषण से उनका पक्ष जानने के लिए संपर्क किया गया, पर उनका फोन बंद जा रहा था, इसके बाद यूआईसी कंपनी के महाप्रबंधक प्रवीण चौधरी को व्हाट्सएप मैसेज करके कंपनी पर लगे आरोप के बारे में जानने की कोशिश की गई पर उनका जवाब खबर लिखने समय तक नहीं आया। क्यूंकि वह “अथर्व न्यूज़” का फोन नंबर ब्लॉक किया हुआ हैं। इसके बाद चेयरमेन के ओएसडी मिस्टर बक्शी से संपर्क किया गया पर उन्होंने अपना मोबाइल फोन तुरंत बंद कर दिया। इसलिए यूआईसी का पक्ष इस खबर में नहीं मिला सका है। जैसे ही उनका पक्ष आ जाएगा इस खबर में एड कर दी जाएगी। इसके बाद पूर्व पार्षद से संपर्क किया गया क्यूंकि उनके परिवार का  सदस्य पार्षद हैं और सारा कार्य उनके पिता पूर्व पार्षद देखते हैं , उनका फोन बंद जा रहा था। इसके बाद वह भी अपना पक्ष देंगें तो इस खबर में एड कर दी जाएगी।  

Related posts

ग्रीन फिल्ड कालोनी को बसाने वाली कंपनी यूआईसी को मिले साढ़े 22 करोड़ बनी गले की हड्डी , न ही निगलते, न ही उगलते बनता हैं

Ajit Sinha

फरीदाबाद: पूर्व मुख्य संसदीय सचिव शारदा राठौर ने किया आइपीएस तरुण गोयल का स्वागत

Ajit Sinha

फरीदाबाद : पुलिस कमिश्नर संजय कुमार ने ग्रीन फिल्ड कालोनी व नवीन नगर के चौकी इंचार्ज बदले, 4 सब इंस्पेक्टर बदले।

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//nutchaungong.com/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x