Athrav – Online News Portal
अपराध फरीदाबाद

फरीदाबाद: अडानी सीएनजी पंप दिलाने के नाम पर लाखों की ठगी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश – 4 अरेस्ट।

अजीत सिन्हा की रिपोर्ट 
फरीदाबाद: अडानी सीएनजी पंप दिलाने के नाम पर ठगी करने वाले गिरोह का साइबर क्राइम , बल्लभगढ़ की टीम ने आज पर्दाफाश किया हैं। इस गिरोह के चार आरोपितों को अरेस्ट किया हैं। अरेस्ट किए गए आरोपितों के पास से लैपटॉप, कंप्यूटर , 7 फर्जी आईडी कार्ड, 3 मोबाइल फोन , 4 सिम कार्ड ,  3,50,000/-रुपए बरामद किए हैं। ये सनसनीखेज खुलासा डीसीपी , साइबर क्राइम अमित यशवर्धन ने आज आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में दिए।  

डीसीपी अमित यशवर्धन ने आज पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि अरेस्ट किए गए आरोपितों के नाम अभिषेक कुमार, अभिषेक कुमार, बंटी और विवेक ठाकुर उर्फ विकास उर्फ रौनक है। आरोपित अभिषेक कुमार मूल रूप से बिहार के शेखपुरा जिले के गांव देवले का रहने वाला है। दुसरा आरोपित अभिषेक कुमार बिहार के नवादा जिले के गांव असमां का, बंटी कुमार बिहार के गांव विद्यापुरा का रहने वाला है। आरोपितों ने बल्लभगढ़ के सेक्टर-2 के रहने वाले विशाल के साथ 13,62,000/- रुपए की धोखाधड़ी करने की वारदात को अंजाम दिया है।यशवर्धन का कहना हैं कि आरोपितों ने ऐसे दिया वारदात को अंजाम आरोपितों ने अडानी सीएनजी पंप की डीलरशिप दिलाने के लिए तीन फर्जी वेबसाइट बनवाई हुई थी। जिस पर कस्टमर आवेदन फॉर्म /DODO फॉर्म भरता था। जिससे कस्टमर की डिटेल्स जैसे Email, मोबाइल नम्बर इत्यादि फिल अप करता है आरोपितों के पास डाटा चला जाता है। जिसका  इस्तेमाल करके कस्टमर को अडानी कंपनी के नाम पर फर्जी दस्तावेज भेजने व मोबाइल नम्बर का प्रयोग कर आरोपित कस्टमर को कॉल करके अलग-अलग सर्विसेज के नाम पर अपने दिए हुए बैंक खातों में धोखाधड़ी की रकम को ट्रांसफर कराते थे। लोगों को डीलरशिप देने के नाम पर ठगी की जाती है। आजकल लोग जॉब के साथ-साथ बिजनेस में इन्वेस्टमेंट के जरिए अपनी कमाई को बढ़ाने का रास्ता ढूंढते हैं। जिसमें ऑनलाइन संसाधनों के जरिए  हम कुछ आपराधिक प्रवृति के लोगों के शिकार बन जाते हैं। ऐसे ही अडानी सीएनजी पंप  डीलरशिप दिलाने के नाम पर पैसा लेकर ठगी को अंजाम दिया है। आरोपितों के खिलाफ थाना साइबर बल्लभगढ़ में मुकदमा दर्ज कर आरोपितों  की तलाश की गई। आरोपितों  को पकड़ने के लिए पीएसआई. प्रवीन, सहायक उप निरीक्षक दीपक कुमार, सहायक उप निरीक्षक श्योराज, मुख्य सिपाही भूपिंदर, सिपाही आजाद, सिपाही प्रदीप, सिपाही जगतराम व महिला सिपाही मनीषा की टीम नियुक्त की गई। आरोपितों  को साइबर टीम ने अपने सूत्रों से प्राप्त सूचना से पटना, बिहार व अहमदाबाद, गुजरात से अरेस्ट  किया गया है। आरोपित अभिषेक कुमार अडानी सीएनजी पंप डीलरशिप के लिए मेल करना व फर्जी कागजात तैयार करके कस्टमर को भेजना (शिक्षा बी.एस.सी.), आरोपित दुसरा अभिषेक कुमार अडानी सीएनजी का अधिकरी बनकर कस्टमर से बातचीत करता था (शिक्षा 12 वीं)। आरोपित  बंटी कुमार पैसे का लेन-देन करता था(शिक्षा 12  वीं)।, आरोपित विवेक ठाकुर उर्फ विकास धोखाधड़ी में इस्तेमाल फर्जी वेबसाइट को डेवेलप करना (शिक्षा MCA ) ।  आरोपितों से वारदात में प्रयोग लैपटॉप,कंप्यूटर, 7 फर्जी आईडी कार्ड  , 3 मोबाइल फोन,4 सिम,रजिस्टर व ₹ 3,50,000/-रुपए नगद बरामद किए गए है। आरोपितों  अभिषेक को अरेस्ट कर 11 दिन तक पुलिस रिमांड पर लिया गया था जिसमें आरोपितों  से 320000/-रुपये, आरोपित दुसरे अभिषेक और बंटी को 7-7 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है। दुसरे अभिषेक से 11000/- रुपए , फोन, घडी ऐपल,बंटी से 4000/- रूपए  तथा आरोपित  विवेक 3 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है। आरोपित विवेक से 15000/- रुपए बरामद किए गए थे। आरोपित अभिषेक पर पूर्व में हिसार में भी लोन का फ्रॉड कर रखा जिसके लिए आरोपित  जेल जा चुका है। चारों आरोपियों  को पूछताछ के बाद अदालत में पेश कर जेल भेजा गया है। 

Related posts

नकली सीबीआई अधिकारी बनकर शख्स का अपहरण करने, लाखों रुपए व 300 ग्राम सोना ऐंठने के एक आरोपी गिरफ्तार।

Ajit Sinha

दुकान मालिक सहित दो लोगों को गोली मार कर 8 बदमाशों ने 8000 रूपए लूटे, 3 पिस्तौल सहित सभी आरोपित अरेस्ट

Ajit Sinha

फरीदाबाद:ग्रीन फील्ड में कहीं रामलीला तो, कहीं दुर्गा पूजा, कहीं रही रावण दहन की धूम, सभी में वीरेंद्र भड़ाना हुए शामिल-खुश।

Ajit Sinha
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
//tauphaub.net/4/2220576
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x